राहुल प्रधानमंत्री पद की दौड़ में कहीं नहीं : शाह

Samachar Jagat | Wednesday, 17 Apr 2019 08:32:37 AM
Rahul is not anywhere in the race for the prime minister Shah

होन्नाली। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) अध्यक्ष अमित शाह ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पर तंज कसते हुए कहा कि महागठबंधन में इस पद के कई दावेदारों के बीच वह (गांधी) इस दौड़ में नजर ही नहीं आते। शाह ने यहां चुनावी रैली को संबोधित करते हुए कहा कि जल्दबाजी में गठित महागठबंधन में अगले प्रधानमंत्री को लेकर मारा-मारी है। उन्होंने कहा कि 23 मई को चुनाव परिणाम आने के बाद उनकी पार्टी और मजबूत बनकर उभरेगी तथा नरेंद्र मोदी प्रधानमंत्री बने रहेंगे। उन्होंने कहा कि विपक्षी महागठबंधन में प्रधानमंत्री बनने का सपना कई नेता देख रहे हैं तथा इस दौड़ में कांग्रेस अध्यक्ष कहीं दिखाई नहीं देते। उन्होंने कहा,''हमने यहां देखा कि इस नाजुक गठबंधन के कई नेता साथ हैं और नहीं भी। लेकिन कई नेता हैं जो प्रधानमंत्री बनना चाहते हैं, लेकिन इस पद का इकलौता दावेदार हैं और वह हैं नरेंद्र मोदी जिन्होंने अपने पांच वर्षों के कार्यकाल में अपने का साबित किया तथा कई अन्य को पीछे छोड़ दिया। 

रॉबर्ट वाड्रा ने दिए संकेत, वाराणसी से चुनाव लड़ सकती है प्रियंका गांधी

शाह ने कहा कि महागठबंधन मजबूत नेता के बगैर अब चंद दिनों का मेहमान बनकर रह गया है। उन्होंने कहा,''मायावती सोमवार को प्रधानमंत्री बनना चाहती हैं तो अखिलेश यादव मंगलवार को, एच डी देवेगौड़ा बुधवार को, चंद्रबाबू नायडू गुरुवार को तो शरद पवार उसके अगले दिन , लेकिन इसमें रविवार का दिन भी आता है जिस दिन मोदी अगले पांच वर्षों के लिए प्रधानमंत्री पद पर बने रहेंगे। भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि एकजुट विपक्ष के पास देश को आगे ले जाने का ना तो कोई विचार है और ना ही स्पष्टता है जैसा कि मोदी ने पिछले पांच वर्षों के दौरान कर दिखाया। उन्होंने कहा कि कर्नाटक कांग्रेस और जनता दल (एस) के साथ एक अनिश्चित परिदृ­श्य का सामना कर रहा है क्योंकि वे कभी राजनीतिक नीतियों में शामिल नहीं रहे और ना ही उनकी कोई समान क्षेत्रीय गणना ही है। 

मोदी के फिर से प्रधानमंत्री बनने पर ही देश आतंकवादी हमलों से सुरक्षित रहेगा: अमित शाह

उन्होंने कहा, मुख्यमंत्री एच डी कुमारस्वामी लोगों की पसंद नहीं हैं। उन्हें दिल्ली में सर्वश्री राहुल गांधी, सोनिया गांधी और इनके जैसी शक्तियों के रिमोट से खींचा जा रहा है। वह नाम मात्र के लिए सीएम हैं। उप-मुख्यमंत्री जी परमेस्वर जैसी सरकार के भीतर के कांग्रेसी नेता भी बहुत दुखी हैं। इस प्रकार की अनिश्चितता की स्थिति राष्ट्रीय स्तर पर कांग्रेस पार्टी के साथ भी है। शाह ने कहा कि उन्होंने मौजूदा चुनावों से पहले देश में 244 लोकसभा क्षेत्रों का दौरा किया था और मोदी लहर सब पर भारी है और यह कर्नाटक में अधिक मजबूत है। उन्होंने कहा, लोग चाहते हैं कि मोदी अगले प्रधानमंत्री बनें। लेकिन गांधी समेत कुछ नाबालिग अभिनेता हैं, जिन्हें पता नहीं है कि देश को कैसे आगे ले जाना है। -एजेंसी

 



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2019 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.