महाराजा सुहेलदेव के नाम के प्रति सम्मान व्यक्त करना हर भारतीय का दायित्व : योगी

Samachar Jagat | Thursday, 09 Aug 2018 10:14:35 AM
Responsibility of every Indian to express respect for Maharaja Suheldev's name: Yogi

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आज कहा कि भारत की अखण्डता को अक्षुण्ण बनाये रखने का काम महाराजा सुहेलदेव ने किया, इसलिए उनके नाम के प्रति सम्मान व्यक्त करना हर भारतीय का दायित्व है।

मुख्यमंत्री ने भाजपा पिछड़ा वर्ग मोर्चा द्वारा आयोजित सामाजिक प्रतिनिधि बैठक के दूसरे दिन प्रतिनिधियों को संबोधित करते हुए महाराजा सुहेलदेव का उल्लेख किया।

उन्होंने कहा इन महापुरूषों ने देश-धर्म की रक्षा के लिए जो अपना योगदान दिया, वह वर्तमान व आने वाली पीढ़ी के लिए अनुकरणीय है। भारत की अखण्डता को अक्षुण बनाये रखने का काम जिस महापुरूष ने किया था, उस महापुरूष का नाम है महाराजा सुहेलदेव इसलिए उनके नाम के प्रति सम्मान व्यक्त करना हर उस भारतीय का दायित्व बनता है जिसे भारत की एकता और अखण्डता तथा सुरक्षा प्यारी है।

मुख्यमंत्री ने कहा एक बहुत बड़ा कार्य हुआ था उस काल खण्ड में लभगभ डेढ़ सौ वर्षों तक कोई विदेशी आक्रान्ता भारत पर हमला करने का साहस नहीं जुटा पाया था। लेकिन इतिहास के पन्नों में महाराज सुहेलदेव का नाम नहीं आने दिया गया। उस समय षड्यन्त्रों का परिणाम रहा कि हम अपने महापुरूषों को भूल गये।

बहराइच के चितौरा का जिक्र करते हुए योगी ने कहा कि चितौर की माटी आज भी राजा सुहेलदेव के शौर्य और पराक्रम की गाथा गाती है । लेकिन इस गाथा का देश स्मरण कर सके, इसका प्रयास नहीं हुआ। यह प्रयास तब हुआ जब भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह उस स्थान पर जाकर राजा सुहेलदेव की प्रतिमा के अनावरण कार्यक्रम में सम्मलित हुए। राष्ट्रीय स्तर का कार्यक्रम भाजपा के द्वारा ही किया गया।

भाजपा की ओर से जारी विज्ञप्ति के मुताबिक मुख्यमंत्री ने महाराजा सुहेलदेव को अपना आदर्श मानने वाले लोगों को सचेत करते हुए कहा कि जो लोग इस देश के अंदर महमूद गजनवी और मोहम्मद गौरी को अपना आदर्श मानते हैं, उन्हें पहचानना होगा । हमें तय करना होगा कि इस देश की व्यवस्था राजा सुहेलदेव की तर्ज पर संचालित होगी, मोहम्मद गौरी-मोहम्मद तुगलक की तर्ज पर नहीं। 

उन्होंने कहा कि चितौरा नामक स्थान पर एक भव्य स्मारक का निर्माण होना चाहिए। एक ऐसा स्मारक होना चाहिए जिससे भारत की भावी पीढ़ी प्रेरणा लेती रहे। योगी ने कहा कि महाराजा सुहेलदेव राष्ट्रीय महापुरूष थे। उनका योगदान पूरे समाज के लिए था, पूरे राष्ट्र के लिए था और इसलिए उन महापुरूष के प्रति सम्मान व्यक्त करना हम सबका दायित्व बनता है। इसके लिए भव्य स्मारक निर्माण के लिए सरकार पहल करेगी। उल्लेखनीय है कि सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी सत्ता में भाजपा की साझीदार है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने पिछड़ा वर्ग आयोग को संवैधानिक दर्जा दिया है। वास्तव में यह एक बड़ा सम्मान है इस देश की पिछड़ी और अति पिछड़ी जाति के करोड़ों लोगो के लिए जो अब तक अपने हक के लिए अपने संवैधानिक अधिकार के लिए संघर्ष तो करते थे, लेकिन कंाग्रेस और उसकी सहयोगी सपा-बसपा ने उन्हें आगे बढ़ाने का कार्य नहीं किया। 

उन्होंने कहा कि आयोग को संवैधानिक दर्जा दिया जाना पिछड़ों और अति पिछड़ों की बहुत बड़ी जीत है। हम सबको प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का आभार व्यक्त करना चाहिए जिन्होंने इस देश के गरीबों, वंचितों, अति पिछड़ों को उनका हक दिलाने के लिए अभूतपूर्व कार्य किया है।  एजेंसी



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.