अयोध्या में अब संत ही कराएंगे राम मंदिर का निर्माण: नरेन्द्रानन्द सरस्वती

Samachar Jagat | Wednesday, 05 Dec 2018 03:57:44 PM
Saints will make Ram temple in Ayodhya now

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures

अयोध्या। सुमेरू पीठाधीश्वर जगद्गुरू शंकराचार्य स्वामी नरेन्द्रानन्द सरस्वती ने भगवान श्रीराम के सम्मान में संतों को एकजुट होने का आहृवान करते हुये कहा कि अब अयोध्या में संत ही भव्य राम मंदिर का निर्माण कराएंगे।


राम मंदिर निर्माण में आने वाली बाधाओं को दूर करने के लिए चल रहे 3 दिवसीय श्रीराम अश्वमेध महायज्ञ के समापन पर जानकी महल ट्रस्ट में आयोजित संत सम्मेलन को मंगलवार देर शाम सम्बोधित करते हुए स्वामी नरेन्द्रानन्द सरस्वती ने कहा कि रामराज्य की परिकल्पना तब तक साकार नहीं हो सकती जब तक जन्मभूमि पर मंदिर का निर्माण नहीं होगा।

उन्होंने कहा कि हम किसी का कब्रिस्तान नहीं मांग रहे हैं। हमें आराध्य भगवान राम की जन्मस्थली चाहिए। उन्होंने कहा कि राम मंदिर निमार्ण के लिये संतों का एकजुट होना पड़ेगा। अयोध्या में अब संत ही राम मंदिर का निर्माण कराएंगे। हम राम के अनुयाई हैं।

अयोध्या में भव्य राम मंदिर नहीं बना तो अगले वर्ष होने वाले चुनाव में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की वापसी नहीं होगी। इस देश में एक कानून और एक शिक्षा प्रणाली तथा एक शादी का कानून लागू होना चाहिए। श्रीराम जन्मभूमि आंदोलन के अग्रणी नेताओं में शामिल आचार्य धर्मेन्द्र ने भी संत सम्मेलन को सम्बोधित करते हुए कहा कि भगवान राम के नाम पर शीर्ष तक पहुंचने वाली बीजेपी आज हमें न्यायालय का रास्ता दिखा रही है।

उन्होंने कहा कि श्रीराम के सम्मान में सभी संतों को एकजुट होना पड़ेगा। अब संत ही राम मंदिर का निर्माण कराएंगे। हमें रामभक्तों का साथ चाहिए। उन्होंने कहा कि बाबरी विध्वंस मामले में मुझे सीबीआई द्बारा अभियुक्त बनाया गया जो मेरे लिये भारत रत्न से बढकर सम्मान है। हमारी भारतमाता का स्वरूप अद्बितीय एवं अनुपम है। सब मिलकर भारतमाता को अखण्ड बनाएंगे।

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!



Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.