वन विभाग के सहयोग से स्कूली बच्चे सीखेंगे बीज रोपण और पौधों की देखरेख करना : जावड़ेकर

Samachar Jagat | Wednesday, 05 Jun 2019 02:54:39 PM
School children with the help of Forest Department will learn seed plantation and supervision of plants: Javadekar

नई दिल्ली। केन्द्रीय पर्यावरण, वन एवं जलवायु परिवर्तन मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने बुधवार को कहा कि स्कूली बच्चों को पर्यावरण के प्रति जागरुक और संवेदनशील बनाने के लिये सरकार प्राथमिक शिक्षा पाठ्यक्रम में एक नया कार्यक्रम जोड़ेगी। ‘स्कूल नर्सरी’ नामक इस कार्यक्रम में स्कूल के बच्चे वन विभाग के सहयोग से बीज रोपण एवं पौधे की देखरेख करना सीखेंगे। 

Rawat Public School

जावड़ेकर ने विश्व पर्यावरण दिवस के मौके पर पूरे देश में पौधारोपण मुहिम का आगाज करते हुये बताया, ‘‘हम वन विभाग के सहयोग से पूरे देश में ‘स्कूल नर्सरी‘ कार्यक्रम शुरु करेंगे। इसमें सभी स्कूलों के बच्चे वन विभाग के कर्मचारियों के सहयोग से बीज रोपण कर पौधा लगाना और उसका पोषण करना सीखेंगे।’’ 

उन्होंने कहा कि इस अभियान के तहत पौधा लगाने वाले बच्चे को साल के अंत में परीक्षा पास करने के बाद ट्रॉफी के रूप में उसके द्वारा लगाया गया पौधा दिया जायेगा। जावड़ेकर ने पर्यावरण दिवस के अवसर पर मंत्रालय में ‘‘सेल्फी विद सैपभलग’’ मुहिम भी शुरु की। फिल्म अभिनेता जैकी श्राफ और पूर्व क्रिकेट खिलाड़ी कपिल देव की मौजूदगी में जावड़ेकर और पर्यावरण राज्य मंत्री बाबुल सुप्रियो ने पौधा लगाकर हैशटेग ‘‘सेल्फी विद सैपभलग’’ अभियान को शुरु किया। 

उन्होंने देशवासियों से कम से कम एक पौधा लगाकर उसके साथ अपनी सेल्फी सोशल मीडिया के माध्यम से मंत्रालय द्वारा शुरु किये गये हैशटेग ‘‘सेल्फी विद सैपभलग’’ के साथ साझा करने की अपील की। उल्लेखनीय है कि इस साल पर्यावरण दिवस का मूलमंत्र ‘वायु प्रदूषण को परास्त’ करना है। जावड़ेकर ने कहा कि पेड़ पौधे ही वायु प्रदूषण को परास्त करने के अचूक हथियार हैं। इन्हें अधिक से अधिक संख्या में लगाकर इस लक्ष्य को हासिल किया जा सकता है।

इस दौरान जावड़ेकर ने केन्द्रीय सडक़ परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी द्वारा देश में सभी राजमार्गों के दोनों ओर 125 करोड़ पेड़ लगाने की घोषणा का भी स्वागत किया। उन्होंने कहा, ‘‘मैं गडकरी की इस घोषणा का स्वागत करता हूं, वह जो निर्णय करते हैं उसे अमल में भी लाते हैं।’’ 

उन्होंने कहा कि इससे देश में सवा सौ करोड़ पेड़ लगने से पयावरण संरक्षण की सकारात्मक उम्मीद जगी है। जावड़ेकर ने कहा, ‘‘पर्यावरण की सुरक्षा और सुधार करना एक प्रमुख मुद्दा है, जो पूरी दुनिया में लोगों की भलाई और आॢथक विकास को प्रभावित करता है।’’
 



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

Copyright @ 2019 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.