शाह ने आईएनएस अरिहंत के पहले प्रतिरोध गश्त के सफलतापूर्वक पूरा होने को ‘ऐतिहासिक उपलब्धि’ बताया

Samachar Jagat | Tuesday, 06 Nov 2018 09:45:18 AM
Shah successfully described successfully completion of resistance patrol of INS Arihant as 'historical achievement'

नयी दिल्ली। भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने भारतीय परमाणु पनडुब्बी आईएनएस अरिहंत द्वारा पहले प्रतिरोध गश्त को सफलतापूर्वक पूरा करने को ‘ऐतिहासिक उपलब्धि’ बताया और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मजबूत नेतृत्व के लिए उनकी सहराना की।शाह के मुताबिक, मोदी के मजबूत नेतृत्व ने देश की रणनीतिक और आॢथक स्थिति को वैश्विक पटल पर बढ़ाया है।

इस उपलब्धि के ‘धनतेरस’ पर हासिल होने को रेखांकित करते हुए शाह ने कहा उस भावना में, हमारे सशस्त्र बलों ने भारत को अपनी परमाणु पनडुब्बी, आईएनएस अरिहंत की ऐतिहासिक उपलब्धि प्रदान की, जिसने अपना पहला प्रतिरोध गश्त पूरा किया है। उन्होंने कहा कि इसी के साथ भारत ने अपना ‘नाभिकीय त्रिभुज’ भी हासिल कर लिया।

भाजपा प्रमुख ने कई ट्वीटों के माध्यम से कहा, ‘‘ मैं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को उनके मजबूत नेतृत्व के लिए बधाई देता हूं जिसने भारत की रणनीति और आॢथक स्थिति को वैश्विक तौर पर बढ़ाया है। राष्ट्रीय सुरक्षा और भारत के रणनीतिक हितों से संबंधित मुद्दों पर उनका जोर आने वाले वर्षों में 130 करोड़ भारतीयों को लाभांवित करता रहेगा।

उन्होंने कहा कि भारत के सशस्त्र बलों का शुमार बेहतरीन बलों में होता है। वे पूरी तरह से शांति के लिए प्रतिबद्ध हैं, लेकिन वे शांति के माहौल को खराब करने वाले तत्वों को कड़ा जवाब देने के लिए भी पूरी तरह से तैयार हैं। शाह ने कहा कि कृतज्ञ राष्ट्र उनके साहस को सलाम करता है।

भाजपा अध्यक्ष ने कहा आईएनएस अरिहंत और नाभिकीय त्रिभुज की उपलब्धि, भारत की रणनीतिक और सुरक्षा हितों को आगे बढ़ाएगी। यह भारत के शांति और सहअस्तित्व की ऐतिहासिक प्रतिबद्धता की पुन: पुष्टि करता है। रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि इस उपलब्धि के साथ भारत उन कुछ देशों की लीग में शामिल हो गया है जो ‘स्ट्रेटेजिक स्ट्राइक न्यूक्लीयर सबमीरन्स’ को डिजाइन कर सकता है, बना सकता है और उनका संचालन कर सकता है।

उन्होंने ट्विटर पर भारतीय सशस्त्रों बलों और वैज्ञानिक समुदाय को बधाई दी। साथ ही इस उपलब्धि को हासिल करने के लिए प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व और उनके दिशा-निर्देशन के लिए आभार व्यक्त किया। विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने कहा कि इस उपलब्धि ने भारत के रक्षा क्षेत्र में एक नया आयाम जोड़ा है। इस उपलब्धि के लिए हमारे वैज्ञानिकों को बधाई और मजबूत नेतृत्व प्रदान करने के लिए प्रधानमंत्री मोदी का आभार। एजेंसी 



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2019 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.