शिवसेना ने फडणवीस से पाक-साफ साबित होने को कहा, लाड ने कांग्रेस नेताओं से माफी मांगने को कहा

Samachar Jagat | Thursday, 05 Jul 2018 09:40:07 AM
Shiv Sena asks Fadnavis to prove Pak-clear

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures

मुंबई। शिवसेना ने बुधवार को मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस से कांग्रेस के इन आरोपों पर खुद को पाक-साफ साबित करने को कहा कि उनके करीबी बीजेपी के विधान परिषद सदस्य के कारोबारी साझेदार को नवी मुंबई में  1767 करोड़ रुपए की सरकारी जमीन कौड़ी के मोल अवैध तरीके से हस्तांतरित करने में उनका आशीर्वाद था।

वहीं बीजेपी के विधान परिषद सदस्य प्रसाद लाड ने बुधवार को कहा कि उन्होंने भूमि घोटाले में उनका नाम घसीटे जाने पर कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला , महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री पृथ्वीराज चव्हाण और मुंबई कांग्रेस के अध्यक्ष संजय निरूपम से माफी मांगने को कहा है।

बीजेपी से असंतुष्ट रहने वाली उसकी सहयोगी शिवसेना ने अपनी उक्त मांग को मई में आई भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो की उस रिपोर्ट से भी जोड़ा जिसमें पूर्व राजस्व मंत्री एकनाथ ख्रड़से को क्लीन चिट दी गयी है। खड़से को पुणे में अपनी पत्नी और दामाद के पक्ष में भूमि सौदा कराने के आरोप में जून 2016 में पद छोडऩा पड़ा था।

इन दोनों घटनाक्रमों पर शिवसेना ने बुधवार को कहा कि फडणवीस ने एक भूमि सौदे में खड़से के शामिल होने के आरोपों में उन्हें घर बैठाकर रखा क्योंकि मुख्यमंत्री पारदर्शी शासन में भरोसा रखते हैं। ‘ सामना ’ में अपने संपादकीय में पार्टी ने लिखा , ‘‘ अब या तो खड़से को मंत्रिपरिषद में शामिल किया जाना चाहिए या मुख्यमंत्री को जनता के सामने (नवी मुंबई भूमि सौदे के मामले में) खुद को पाक - साफ साबित करना चाहिए।

कांग्रेस ने सोमवार को आरोप लगाया था कि नवी मुंबई में 1767 करोड़ रुपये मूल्य की सरकारी जमीन एक निजी बिल्डर को महज 3.60 करोड़ रुपए में दे दी गई और इस पूरे लेनदेन में  फडणवीस का आशीर्वाद था। कांग्रेस नेता पृथ्वीराज चव्हाण और संजय निरूपम ने आरोप लगाया था कि फडणवीस नीत शहरी विकास विभाग ने निजी बिल्डर मनीष भतीजा को अवैध तरीके से खारघर में सिडको की अधिसूचित 24 एकड़ जमीन दिलवाने में मदद की थी।

निरूपम ने दावा किया कि भतीजा बीजेपी के विधान परिषद सदस्य प्रसाद लाड के कारोबारी साझेदार हैं और लाड मुख्यमंत्री फडणवीस के करीबी हैं। उधर लाड ने बुधवार को कहा कि उन्होंने भूमि घोटाले में उनका नाम घसीटे जाने पर कांग्रेस प्रवक्ता सुरजेवाला , महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री चव्हाण और मुंबई कांग्रेस के अध्यक्ष निरूपम से माफी मांगने को कहा है।

उन्होंने पीटीआई से कहा कि मैंने कल उन्हें कानूनी नोटिस भेजा है। मैंने बिना शर्त माफी मांगने को कहा है। अगर वे ऐसा नहीं करते तो मैं अदालत में 500 करोड़ रुपए की मानहानि का मुकदमा दर्ज करुंगा। गत वर्ष ही राकांपा से भाजपा में आए नेता ने कहा कि कथित जमीन अतिरिक्त कलेक्टर (पुनर्वास) के अधीन आती है। यह कलेक्टर के अधीन भी नहीं आती और किसी वरिष्ठ राजस्व अधिकारी या मुख्यमंत्री कार्यालय का इससे लेना-देना नहीं है।

बीजेपी आरोपों वाले दिन ही इन्हें बचकाना कहते हुए खारिज कर चुकी है।इस बारे में जब चव्हाण से संपर्क किया गया तो उन्होंने कहा कि वह लाड का नोटिस मिलने पर जवाब देंगे। उन्होंने नागपुर में कहा कि मैं नोटिस मिलने पर जवाब दूंगा। हम मुख्यमंत्री के इस जवाब से संतुष्ट हैं कि वह किसी भी जांच के लिए तैयार हैं। हमने न्यायिक जांच की मांग पहले ही की है। चव्हाण ने कहा कि कल विधानसभा में भूमि सौदे में घोटाले के मुद्दे को उठाया जाएगा। 

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures


 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...


Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.