बुधनी सीट पर पांचवीं बार कब्जा करने की तैयारी में शिवराज सिंह

Samachar Jagat | Monday, 05 Nov 2018 03:27:40 PM
Shivraj Singh in preparation for capturing fifth seat on Wednesday

सीहोर। मध्यप्रदेश में तेरह वर्षों से अधिक समय से मुख्यमंत्री पद पर काबिज और आम लोगों के बीच मामा के नाम से लोकप्रिय शिवराज सिंह चौहान अपने गृह जिला सिहोर की परंपरागत बुधनी विधानसभा सीट पर पांचवीं बार कब्जा करने की तैयारी के साथ चुनावी समर में हैं।

बुधनी में चौहान ने सोमवार को पार्टी नेताओं की मौजूदगी में नामांकनपत्र दाखिल किया। इस अवसर पर उनकी पत्नी साधना सिंह चौहान और उनके पुत्र कार्तिकेय चौहान भी मौजूद रहे। इसके पहले चौहान ने गृह गांव जैत में नर्मदा नदी के तट पर पहुंचकर विधिवत पूजा की।

वह बाद में सकलनपुर में देवी मां के मंदिर में पूजा के बाद बुधनी पहुंचे। चौहान का विधानसभा क्षेत्र होने की वजह से बुधनी पर सभी की निगाहें लगी रहती हैं। इस बार भी इस सीट पर राजनैतिक प्रेक्षक नजरें लगाए हुए हैं, हालाकि कांग्रेस की ओर से आज तक इस सीट के लिए प्रत्याशी घोषित नहीं किया गया है।

चौहान इससे पहले बुधनी सीट से चार बार चुनाव जीत चुके हैं। वह इस सीट से पहली बार वर्ष 1990 में विधायक चुने गए। इसके बाद वर्ष 1991 से 2004 तक वे विदिशा से लोकसभा सांसद रहे। 2005 में बाबूलाल गौर को हटाकर जब उन्हें प्रदेश का मुख्यमंत्री बनाया गया, तो उन्होंने बुधनी सीट पर 2006 में हुए उपचुनाव में जीत दर्ज की।

इसके बाद 2008 और 2013 के चुनाव में भी उन्होंने इस सीट पर अपना कब्जा बरकरार रखा। बुधनी विधानसभा सीट को बीजेपी का मजबूत गढ माना जाता है। साल 1990 से लेकर 2013 तक चौहान ने यहां से अपने निकटतम प्रतिद्बंद्बी को भारी मतों के अंतर से पटखनी दी है।

वह वर्ष 1990 में 22810, वर्ष 2006 के उपचुनाव में 36525, वर्ष 2008 में 41525 और वर्ष 2013 में 84805 मतों के भारी अंतर से विजयी रहे। चौहान ने साल 1990 के विधानसभा चुनाव में बुधनी सीट से अपने निकटतम प्रतिद्बंद्बी कांग्रेस के हरि सिह को 22810 मतों से पराजित किया।

इस दौरान चौहान को जहां 43948 मत मिले, वहीं सिंह को 21138 मतों पर ही संतोष करना पड़ा। इसी तरह 2006 के उपचुनाव में चौहान को 66689 मते मिले, तो कांग्रेस के राजकुमार पटेल को 30164 मतों से संतोष करना पड़ा। चौहान 36525 मतों से विजयी रहे। 



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2019 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.