भूस्खलन के कारण श्रीनगर-जम्मू राजमार्ग बंद

Samachar Jagat | Thursday, 15 Feb 2018 10:17:59 AM
Srinagar-Jammu highway closed due to landslide
Rajasthan Tourism App - Welcomes to the lend of Sun, Send and adventures

श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर में हिमपात और बारिश के बाद भूस्खलन की ताजा घटनाओं की वजह से 300 किलोमीटर लंबा श्रीनगर-जम्मू राष्ट्रीय राजमार्ग गुुरुवार को लगातार चौथे दिन भी बंद रहा। कश्मीर घाटी को देश के शेष हिस्से से जोडऩे वाले राष्ट्रीय राजमार्ग के बंद होने से जनजीवन प्रभावित रहा।

उत्तर कश्मीर में हिमपात के कारण सडक़ों पर बर्फ जमा होने से फिसलन वाली स्थिति बनी हुई है जिसके कारण नियंत्रण रेखा के पास स्थित गांवों सहित कई अन्य गांवों का जिला मुख्यालयों से संपर्क टूट गया है। बर्फ जमा होने की वजह से  कश्मीर घाटी को लद्दाख क्षेत्र से जोडऩे वाला राष्ट्रीय राजमार्ग और ऐतिहासिक मुगल रोड भी बंद है।

पाक से भारत में घुसपैठ के लिए तैयार हैं तीन सौ आतंकवादी: अंबू

राजमार्ग की विभिन्न जगहों पर सैकड़ों वाहन फंसे हुए हैं जिसमें यात्री वाहन भी शामिल हैं। कुछ यात्री वाहनों को छोडक़र पैदल भूस्खलन प्रभावित जगहों को पार कर अपने गंतव्य के लिए निकल गए। जम्मू में फंसे हुए कश्मीर की ओर जाने वाले यात्रियों ने आरोप लगाया कि स्थानीय प्रशासन उनको किसी भी प्रकार की राहत पहुंचाने में विफल रहा है।

यातायात पुलिस के एक अधिकारी ने गुरुवार सुबह यूनीवार्ता को बताया कि कल दोपहर पेंथल और अनोखपाल से वाहनों को जाने की अनुमति देने से पहले ही कुछ अन्य जगहों पर भूस्खलन की जानकारी मिली जिसके बाद वाहनों को रोक दिया गया। उन्होंने कहा कि राजमार्ग के रख रखाव की जिम्मेदारी सीमा सडक़ संगठन(बीआरओ) की है और बीआरओ अत्याधुनिक मशीनों तथा मजदूरों की मदद से राजमार्ग को सुचारु बनाने में जुटा है।

‘वैलेंटाइन डे’ पर कांग्रेस ने कहा, नफरत पर हमेशा हो प्यार की जीत

अधिकारी ने कहा कि यातायात पुलिस की ओर से हरी झंडी मिलने के बाद ही राजमार्ग को वाहनों के लिये खोला जाएगा। प्रशासन ने श्रीनगर-जम्मू राष्ट्रीय राजमार्ग पर हिमस्खलन की ताजा चेतावनी जारी की है। आधिकारी सूत्रों ने कहा कि कश्मीर घाटी में राजमार्ग के दोनों ओर सैकड़ों वाहन फंसे हैं जिसमें सामानों से लदे ट्रक भी शामिल हैं।

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the lend of Sun, Send and adventures


 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.