स्टैचू आॅफ यूनिटी: दुनिया की सबसे ऊंची मूर्ति 33 महीने के रिकॉर्ड समय में तैयार हुई

Samachar Jagat | Thursday, 01 Nov 2018 11:46:39 AM
Statue of unity

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures

नई दिल्ली। प्रमुख आधारभूत ढांचा कंपनी लार्सन एंड टुब्रो ने बुधवार को कहा कि सरदार वल्लभभाई पटेल को श्रद्धांजलि के रूप में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्बारा राष्ट्र को समर्पित एक वास्तुशिल्प चमत्कार स्टैचू आॅफ यूनिटी दुनिया की सबसे ऊंची मूर्ति है।


इसे सबसे तेज गति से महज 33 महीनों के भीतर पूरा किया गया है। सड़क के प्रवेश स्थल से 182 मीटर और नदी के प्रवेश स्थल से 208.5 मीटर की दूरी पर स्थापित यह मूर्ति चीन के 153 मीटर ऊंचाई वाले स्प्रिंग मंदिर की बुद्ध की मूर्ति और न्यूयॉर्क की विश्व प्रसिद्ध स्टैचू आॅफ लिबर्टी से लगभग दोगुना ऊंची है।

प्रमुख इंजीनियरिग कंपनी लार्सन एंड टुब्रो ने पीटीआई-भाषा को बताया कि इस्पात, कंक्रीट और पीतल के आवरण वाली 182 मीटर (597 फीट) की यह मूर्ति दुनिया में सबसे ऊंची है जिसे लार्सन एंड टुब्रो ने 33 माह के रिकॉर्ड समय में बनाया है।

एलएंडटी ने कहा कि 2,989 करोड़ रुपए की लागत से निर्मित, स्टैचू ऑफ यूनिटी को स्वदेशी तरीके से बनाया गया है। एलएंडटी ने कहा कि मूर्ति की संरचना 180 किमी प्रति घंटा हवा की रफ्तार के हिसाब से डिजाइन की जानी थी जो एक चुनौती भरा काम था। दूसरी चुनौती किसी काल्पनिक चरित्र के बजाय एक जीवंत किवदंती की मूर्ति का निर्माण करना था।

मूर्ति के निर्माण के लिए अभिलेखागार के संग्रह से लगभग 2,000 तस्वीरें एकत्र की गईं और एक तस्वीर को चुना गया तथा दो-आयामी तस्वीर को एक तीन-आयामी मॉडल में बदलने के लिए तकनीक का उपयोग किया गया। कंपनी ने कहा कि पटेल के किसान पृष्ठभूमि पर विचार करते हुए उनकी शाल का आकार, इसके नीचे की तरफ की गिरावट और बनावट इत्यादि को देखते हुए मूर्तिकार राम सुत्तार को यथासंभव इसे वास्तविकता के करीब लाने के लिए कड़ी मेहनत करनी पड़ी।

एलएंडटी के मुख्य कार्यपालक अधिकारी और प्रबंध निदेशक एसएन सुब्रह्मण्यन ने कहा कि स्टैचू आफ यूनिटी राष्ट्रीय गौरव और एकीकरण का प्रतीक होने के अलावा भारत के इंजीनियरिग कौशल और परियोजना प्रबंधन क्षमताओं को भी दर्शाती है।

लार्सन एंड टुब्रो ने राष्ट्रीय महत्व की कई परियोजनाएं तैयार की हैं और हमें दुनिया की सबसे ऊंची मूर्ति के निर्माण के साथ जुड़े होने का गर्व है और यह भारत के लौह पुरुष- सरदार वल्लभभाई पटेल के लिए उपयुक्त श्रद्धांजलि है।

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!



Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.