जम्मू-कश्मीर में सेना की गोलीबारी में तीन नागरिकों की मौत, राज्यपाल ने सुरक्षा स्थिति की समीक्षा

Samachar Jagat | Sunday, 08 Jul 2018 07:34:33 AM
Three civilians die in Army firing in Jammu and Kashmir The governor reviewed the security situation

श्रीनगर। जम्मू - कश्मीर के कुलगाम जिले में पथराव कर रहे प्रदर्शनकारियों के साथ हुई झड़प के दौरान आज सेना के जवानों ने फायरिग शुरू कर दी जिसमें एक लड़की समेत तीन आम नागरिकों की मौत हो गयी और दो अन्य घायल हो गए। पुलिस ने यह जानकारी दी।

पुलिस के एक प्रवक्ता ने बताया कि उपद्रवियों के एक समूह ने आज दोपहर बाद दक्षिण कश्मीर में कुलगाम के हावूड़ा मिशीपुरा इलाके से गुजर रहे सेना के एक गश्ती दल पर पथराव शुरू कर दिया। सेना के जवानों ने जब प्रदर्शनकारियों को तितर - बितर करने की कोशिश की तो पांच लोगों को चोटें आईं।

पीट-पीटकर हत्या करने के आरोपियों को केंद्रीय मंत्री जयंत सिन्हा ने पहनाई माला

प्रवक्ता ने बताया कि घायलों को पास के एक अस्पताल में पहुंचाया गया जहां एक लड़की समेत तीन लोगों की मौत हो गयी। उन्होंने कहा कि बाकी दो की हालत स्थिर बताई जा रही है। पुलिस ने मामले में जांच शुरू कर दी है। एक रक्षा प्रवक्ता ने यहां बताया कि इस घटना में भारी पत्थरबाजी और आतंकवादियों की ओर से की गई गोलीबारी की चपेट में आने के कारण कुछ सैनिकों को गंभीर चोटें आई हैं।

उन्होंने कहा कि काफी संयम बरतते हुए सेना के जवानों ने पत्थरबाजों को चेतावनी दी लेकिन उन्होंने एक न सुनी और गश्ती दल पर पेट्रोल बम फेंके। कुछ अज्ञात आतंकवादियों ने भी सेना के जवानों पर फायरिग की जिससे कुछ सैनिक गंभीर रूप से घायल हो गए। रक्षा प्रवक्ता ने बताया कि तथ्यों का पता लगाने के लिए मामले की जांच की जा रही है।

5 केन्द्रीय और 7 राज्यीय योजनाओं के लाभार्थियों से मिले PM मोदी

आम नागरिकों की मौत होने के कारण एहतियात के तौर पर कश्मीर के ज्यादातर हिस्सों में मोबाइल इंटरनेट सेवाएं निलंबित कर दी गई हैं। एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि इस घटना के बाद दक्षिण कश्मीर के अनंतनाग , कुलगाम , पुलवामा और शोपियां जिलों में कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिहाज से इंटरनेट सेवाएं निलंबित कर दी गई हैं।

एक सरकारी प्रवक्ता ने बताया कि कुलगाम की घटना के बाद जम्मू - कश्मीर के राज्यपाल एन एन वोहरा ने कश्मीर घाटी की सुरक्षा स्थिति की समीक्षा करने के लिए राज भवन में उच्च - स्तरीय बैठक बुलाई। इस बैठक में थलसेना के उत्तरी कमान के कमांडर लेफ्टिनेंट जनरल रणबीर सिह ने भी हिस्सा लिया।

गुलाबी नगर में नमो-नमो, प्रधानमंत्री ने 2100 करोड की योजनाओं की सौगात दी

राज भवन के प्रवक्ता ने बताया कि आम लोगों की मौत पर गहरा दुख व्यक्त करते हुए वोहरा ने थलसेना और सभी सुरक्षा बलों की ओर से मानक संचालन प्रक्रिया का पालन करने के महत्व को दोहराया ताकि आम लोगों को नुकसान न हो।



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.