29 अगस्त: एक क्लिक में पढ़ें 10 बड़ी खबरें

Samachar Jagat | Wednesday, 29 Aug 2018 04:54:05 PM
today's top 10 news

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures

सोशल मीडिया का इस्तेमाल गंदगी फैलाने के लिये नहीं करने का संकल्प लें : प्रधानमंत्री

Do not try to use social media to spread dirt: PM

नई दिल्ली। अच्छी एवं सकारात्मक खबरों के महत्व को रेखांकित करते हुए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने बुधवार को कहा कि सोशल मीडिया पर लोग कई बार मर्यादाएं भूल जाते हैं, ऐसे में एक जिम्मेदार नागरिक के रूप में सभी का कर्तव्य है कि इस प्रौद्योगिकी प्लेटफार्म का इस्तेमाल गंदगी फैलाने के लिये नहीं करने का संकल्प लें।

वाराणसी में पार्टी के विभिन्न विभागों के कार्यकर्ताओं के साथ नरेंद्र मोदी एप के माध्यम से संवाद करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि सोशल मीडिया पर कभी कभी लोग मर्यादाएं भूल जाते हैं। किसी भी झूठी बात को सुना और उसे शेयर कर देते हैं।

उन्होंने कहा कि कई बार तो उसे सुनते भी नहीं हैं। कई लोग ऐसे ऐसे शब्दों का प्रयोग करते हैं जो सभ्य समाज में अस्वीकार्य है, शोभा नहीं देता है। महिलाओं के खिलाफ भी ऐसे शब्दों का इस्तेमाल करते हैं। मोदी ने कहा कि यह किसी राजनीतिक दल की बात नहीं है।

यह सवा सौ करोड़ लोगों का विषय है। ऐसे में हम संकल्प लें कि इस सोशल प्रौद्योगिकी प्लेटफार्म का उपयोग कभी भी गंदगी फैलाने के लिये नहीं करेंगे। उन्होंने कहा कि स्वछता अभियान भी दिमागी स्वच्छता से जुड़ा है। उन्होंने कहा कि मोहल्ले में तू-तू मैं-मैं हर देश में होता होगा। पहले कभी गांव में किसी को भनक तक नहीं लगती थी।

मैं तो कभी-कभी हैरान हो जाता हूं कि बुधवार को 2 पड़ोसियों की लड़ाई को भी सोशल मीडिया पर अपलोड कर दिया जाता है और वह नैशनल न्यूज बन जाती है।प्रधानमंत्री आगे कहा कि कोशिश होनी चाहिए कि सोशल मीडिया का यूज सकारात्मक चीजों के लिए किया जाए।

हमारे पूर्व राष्ट्रपति एपीजे अब्दुल कलाम ने कहा था कि देश में सकारात्मक खबरों का माहौल तैयार किया जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि नकारात्मक खबरों से लोगों में निराशा का भाव उत्पन्न होता है। जब प्रकाश फैलेगा तब निराशा के लिये कोई जगह नहीं होगी।

मोदी ने कार्यकर्ताओं से कहा कि वे बदलते भारत की तस्वीर लोगों को दिखाने के लिए मोबाइल से छोटे छोटे वीडियो तैयार करें और उसे सोशल मीडिया पर शेयर करें। उन्होंने जोर दिया कि आज भारत के हर गांव में बिजली पहुंची है, भारत सबसे अधिक तेज गति से बढने वाली अर्थव्यवस्था है। ऐसे में हमारे पास भी कुछ है जो लोगों में गर्व का भाव भर सकता है। उन्होंने 'टीम काशी' के समन्वय पर जोर दिया।

दक्षिण कश्मीर: अनंतनाग में मुठभेड में 2 आतंकवादी ढेर

South Kashmir: 2 militant heaps in encounter in Anantnag

श्रीनगर। दक्षिण कश्मीर के अनंतनाग में बुधवार सुबह सुरक्षा बलों और आतंकवादियों के बीच मुठभेड में 2 आतंकवादी ढेर हो गए। आधिकारिक सूत्रों ने ये जानकारी दी है। आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि अनंतनाग जिले के मुनवर्द गांव में आतंकवादियों की मौजूदगी की गुप्त सूचना पर राष्ट्रीय राइफल (आरआर), जम्मू-कश्मीर पुलिस के विशेष अभियान दल और केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल के जवानों ने सुबह संयुक्त रूप से एक खोज अभियान शुरू किया।

सुरक्षा बलोें के जवान जब आतंकवादियों की मौजदूगी वाले क्षेत्र की ओर बढ़ रहे थे, तो आतंकवादियों ने स्वचालित हथियारों ने अंधाधुंध गोलीबारी शुरू कर दी, जिसका सुरक्षा बलों ने इसका करारा जवाब दिया और जिस घर में आतंकवादी छिपे हुए थे उसे सुरक्षा बलों ने विस्फोट से उड़ा दिया।

सुरक्षा सूत्रों ने बताया कि फिलहाल मकान के आसपास से कोई गोलीबारी नहीं हो रही है और मलबे से आतंकवादियों के शवों को निकालने का प्रयास किया जा रहा। माना जा रहा है कि ये दोनों आतंकवादी हिजबुल मुजाहिदीन के शीर्ष कमांडर थे।

उन्होंने बताया कि मुठभेड स्थल के आसपास किसी भी तरह के प्रदर्शन को रोकने के लिए अतिरिक्त सुरक्षा बलों को तैनात कर दिया गया है। इसके अलावा क्षेत्र में किसी तरह की अफवाहों को रोेकने के लिए प्रशासन ने अनंतनाग और कुलगाम में इंडिया संचार निगम लिमिटेड और अन्य सभी सेल्युलर कंपनियों की मोबाइल इंटरनेट सेवाओं को बंद कर दिया है। दोनों आतंकवादी कुलगाम के निवासी बताए जा रहे हैं।

प्रशासन ने सुबह से ही एहतियात के तौर पर अनंतनाग जिले के कईं हिस्सों में निषेधाज्ञा लागू कर दी थी और इस गांव की तरफ जाने वाली सभी सड़कों को आवागमन के लिए बंद कर दिया था। अनंतनाग के कुछ हिस्सों में पथराव की भी सूचना है।

इंटरपोल ने मुशर्रफ की गिरफ्तारी का आग्रह ठुकराया: पाकिस्तान सरकार

Interpol rejects Musharraf's arrest: Pakistan government

इस्लामाबाद। पाकिस्तान सरकार ने पूर्व तानाशाह परवेज मुशर्रफ के खिलाफ देशद्रोह मामले की सुनवाई कर रही एक विशेष कोर्ट को बुधवार को बताया कि मुशर्रफ को गिरफ्तार करने के उसके आदेश को इंटरपोल ने यह कहते हुए ठुकरा दिया कि वे राजनीतिक प्रकृति के मामले में दखल नहीं देना चाहती है।

दुबई में रह रहे पूर्व राष्ट्रपति के खिलाफ देशद्रोह के मामले की सुनवाई ट्रिब्यूनल द्बारा फिर से शुरू किए जाने के बाद सरकार का यह जवाब आया है। मुशर्रफ पर देश में आपातकाल लगाकर 2007 में संविधान को निलंबित करने का मामला दर्ज है।

सुरक्षा कारणों का हवाला देकर मुशर्रफ पाकिस्तान आने से कई बार मना कर चुके हैं। गृह मंत्रालय ने मुशर्रफ को देश वापस लाने के लिए किए जा रहे प्रयासों पर जवाब देते हुए कोर्ट को बताया कि इंटरपोल को रेड वारंट जारी करने के लिए पत्र लिखा गया था लेकिन इंटरपोल ने ये कहते हुए पत्र वापस कर दिया कि वह राजनीतिक तरह के मामलों में हस्तक्षेप नहीं करेगी।

गृह सचिव ने बताया कि सरकार ने मुशर्रफ को वापस लाने के लिए इंटरपोल से संपर्क किया था लेकिन उन्होंने आग्रह नहीं स्वीकार किया। न्यायाधीश यावर अली ने कोर्ट में पूछा कि क्या इस मामले में मुशर्रफ का बयान स्काइप के जरिए रिकॉर्ड किया जा सकता है।

दक्षिण प्रशांत के न्यू कैलिडोनिया में जबर्दस्त भूूकंप के झटके

Great earthquake shocks in New Caledonia of South Pacific

​​​​​​​सिडनी। दक्षिण प्रशांत के न्यू कैलिडोनिया प्रांत के नजदीक बुधवार सुबह जबर्दस्त भूकंप के झटके महसूस किये गए जिनकी तीव्रता रिक्टर स्केल पर 7.1 मापी गई। प्रशांत सुनामी चेतावनी केंद्र ने बताया कि भूकंप का केंद्र न्यू कैलिडोनिया की राजधानी नौमिआ से 372 किलोमीटर पूर्व में जमीन की सतह से 10 किलोमीटर नीचे था और शुरुआत में इसकी तीव्रता रिक्टर पैमाने पर सात बतायी गयी थी। 

केंद्र ने बताया कि प्रशांत क्षेत्र में इससे सुनामी का व्यापक खतरा नहीं है लेकिन भूकंप के केंद्र से 250 किलोमीटर पूर्व तक समुद्र में 17 सेंटीमीटर ऊंची लहरें उठी थी। नागरिक रक्षा विभाग के प्रवक्ता ओलिवियर सिरी ने कहा, हमने भूकंप के जोरदार झटके महसूस किये, लेकिन अधिक कुछ कहने के लिए नहीं है। कोई क्षति नहीं हुई है और सुनामी का भी कोई खतरा नहीं है। 

अंडर-19 एशिया कप के लिए भारतीय टीम घोषित, सचिन के बेटे को नहीं मिली जगह

India Under-19 team announced for Asia Cup

​​​​​​​नई दिल्ली। भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने 12 सितंबर से शुरू होने वाली चतुष्कोणीय सीरीज के लिए अंडर-19 भारत ए और अंडर-19 भारत बी टीम की घोषणा कर दी है। जूनियर चयनकर्ताओं की मंगलवार को नई दिल्ली में हुई बैठक में इन दोनों टीमों के अलावा 29 सितंबर से ढाका में शुरू होने वाले एशिया कप के लिए भी भारतीय अंडर-19 टीम की भी घोषणा की गई। आपको बता दें कि महान क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर के बेटे अर्जुन तेंदुलकर को टीम में शामिल नहीं किया है। 

एशिया कप के लिए भारतीय टीम : पवन शाह (कप्तान), देवदत्त पडिकल, यशस्वी जयसवाल, अनुज रावत (विकेटकीपर), यश राठौड़, आयुष बदौनी, नेहल वढेरा, प्रब सिमरन सिंह (विकेटकीपर), सिद्धार्थ देसाई, हर्ष त्यागी, अजय देव गौड़, यतिन मंगवानी , मोहित जांगड़ा, समीर चौधरी और राजेश मोहंती। 

लखनऊ में होने वाली चतुष्कोणीय श्रृंखला के लिए अंडर-19 भारत ए और अंडर-19 भारत बी टीम इस प्रकार हैं-

अंडर-19 भारत ए : पवन शाह (कप्तान), देवदत्त पडिकल, यशस्वी जयसवाल, अनुज रावत (विकेटकीपर), प्रब सिमरन सिंह (विकेटकीपर), यश राठौड़, आयुष बदौनी, नेहल वढेरा, सिद्धार्थ देसाई, हर्ष त्यागी, अजय देव गौड़, यतिन मंगवानी , मोहित जांगड़ा, समीर चौधरी, राजेश मोहंती। 

अंडर-19 भारत बी : वेदांत मुरकर (कप्तान एवं विकेटकीपर), ठाकुर तिलक वर्मा, कामरान इकबाल, वामसी कृष्ण, प्रदोष रंजन पॉल, ऋषभ चौहान, सिद्धांत राणा, सयान कुमार बिस्वास (विकेटकीपर), शुभंग हेगड़े, रिजवी समीर, पंकज यादव, आकाश सिंह , अशोक संधू, आयुष सिंह, नीतीश रेड्डी, सबीर खान, सहिल राज और राजवर्धन हंगरगेकर । 

विकास सेमीफाइनल में पहुंचे, एशियाई खेलों में लगातार तीसरा पदक तय

Vikas reached the semi-finals, fixed third medal in Asian Games

जकार्ता। भारतीय मुक्केबाज विकास कृष्ण (75 किलो) ने एशियाई खेलों में लगातार तीसरा पदक पक्का करते हुए सेमीफाइनल में प्रवेश कर लिया। लगातार तीन एशियाई खेलों में पदक जीतने वाले वह भारत के पहले मुक्केबाज होंगे। इस साल राष्ट्रमंडल खेलों में स्वर्ण पदक जीतने वाले विकास ने बायीं आंख में कट लगने के बावजूद चीन के तूहेता अर्बीके टी को 3- 2 से हराया। 

विकास ने 2010 ग्वांग्झू एशियाई खेलों में 60 किलो वर्ग में स्वर्ण जीता था। इसके बाद 2014 में इंचियोन में मिडिलवेट में कांस्य पदक जीता। अब वह कजाखस्तान के अबिलखान अमानकुल से खेलेंगे। विकास ने अपने से अधिक रफ्तार और दमखम वाले प्रतिद्वंद्वी के खिलाफ बेहतरीन प्रदर्शन किया। विश्व चैम्पियनशिप पदक जीतने वाले भारत के चार मुक्केबाजों में शामिल विकास ने काफी कम हमले बोले लेकिन उनके प्रहार एकदम सटीक रहे।

इससे पहले अमित पंघाल (49 किलो) ने सेमीफाइनल में प्रवेश करके अपना पदक पक्का कर लिया। राष्ट्रमंडल खेलों के रजत पदक विजेता सेना के इस मुक्केबाज ने दक्षिण कोरिया के किम जांग रियोंग को 5- 0 से हराया। अब उनका सामना फिलिपिनो कार्लो पालाम से होगा।  मुक्केबाजी में सेमीफाइनल में पहुंचने पर कांस्य पदक तय हो जाता है।

हरियाणा के इस 20 वर्षीय मुक्केबाज का यह पहला एशियाई खेल है। उसने शुरू ही से अपने प्रतिद्वंद्वी पर दबाव बनाये रखा। दूसरी ओर खब्बू और लंबे कद का होने के बावजूद कोरियाई मुक्केबाज अच्छा प्रदर्शन करने में नाकाम रहा।  इससे पहले उसने इंडिया ओपन और बुल्गारिया में स्ट्रांजा मेमोरियल टूर्नामेंट में भी स्वर्ण पदक जीते थे जबकि गोल्ड कोस्ट राष्ट्रमंडल खेलों में रजत पदक जीता था। 

रिकॉर्ड स्तर से फिसला सेंसेक्स, 173 अंक टूटा

Sensex slips from record level, 173 points broken

मुम्बई। अधिकतर एशियाई बाजारों से मिले मजबूत संकेतों के बावजूद भारतीय मुद्रा के रिकॉर्ड निचले स्तर पर आने और मुनाफावसूली के दबाव में शेयर बाजार शिखर से लुढक़ गए। बीएसई का 30 शेयरों वाला संवेदी सूचकांक सेंसेक्स 173.70 अंक फिसलकर बुधवार को 38,722.93 अंक पर और एनएसई का निफ्टी 46.60 अंक की गिरावट में 11,691.90 अंक पर बंद हुआ। एशियाई बाजारों के तेजी में रहने की खबरों के बीच सेंसेक्स की शुरूआत मजबूत रही और यह बढ़त के साथ 38,989.65 अंक पर खुला।

यह अब तक का रिकॉर्ड उच्चतम स्तर है। डॉलर के मुकाबले रुपए के 70.51 रुपए प्रति डॉलर के रिकॉर्ड निचले स्तर पर आने और पेट्रोल तथा डीजल की कीमतों की रिकॉर्ड बढ़त के दबाव में यह शुरूआती घंटे में ही लुढक़ता हुआ 38,679.57 अंक के दिवस के निचले स्तर तक चला गया। विश्लेषकों के मुताबिक वैश्विक बाजार में कच्चे तेल की कीमतों में रही तेजी से आयातकों की डॉलर मांग बढ़ गई है जिसके दबाव में भारतीय मुद्रा कमजोर पड़ी है। आखिरी पहर में सेंसेक्स में हल्का सुधार आया लेकिन बाजार पर मुनाफावसूली हावी रही जिससे सेंसेक्स गत दिवस की तुलना में 0.45 प्रतिशत की गिरावट में 38,722.93 अंक पर बंद हुआ।

सेंसेक्स की 12 कंपनियां बढ़त में और शेष 18 गिरावट में रहीं। सेंसेक्स गत दो दिन से नए रिकॉर्ड बना रहा था। निफ्टी की शुरूआत भी तेजी के साथ 11,744.95 अंक से हुई। कारोबार के दौरान यह 11,753.20 अंक के दिवस के उच्चतम और 11,678.85 अंक के दिवस के निचले स्तर से होता हुआ यह गत दिवस की तुलना में 0.40 प्रतिशत की गिरावट में 11,691.90 अंक पर बंद हुआ।

निफ्टी की 30 कंपनियां गिरावट में और शेष 20 तेजी में रहीं। दिग्गज कंपनियों के विपरीत मंझोली और छोटी कंपनियों में लिवाली देखी गई। बीएसई का मिडकैप 0.47 प्रतिशत यानी 79.15 अंक की तेजी में 16,750.45 अंक पर और स्मॉलकैप 0.05 प्रतिशत यानी 9.29 अंक की तेजी में 17,052.67 अंक पर बंद हुआ। बीएसई में कुल 2,876 कंपनियों के शेयरों में कारोबार हुआ जिनमें 1,284 में तेजी, 1,426 में गिरावट और 166 कंपनियों के शेयरों में टिकाव रहा।

नोटबंदी के बाद बंद किए गए नोटों में से 99.3 प्रतिशत बैंकों के पास लौटे : रिजर्व बैंक

99.3 percent of the closed notes after the coffin returned to the banks: the Reserve Bank

नई दिल्ली। नवंबर 2016 में नोटबंदी लागू होने के बाद बंद किए गए 500 और 1,000 रुपए के नोटों का 99.3 प्रतिशत बैंको के पास वापस आ गया है। रिजर्व बैंक की 2017-18 की वार्षिक रपट में यह जानकारी दी गई है। इसका तात्पर्य है कि बंद नोटों का एक काफी छोटा हिस्सा ही प्रणाली में वापस नहीं आया। सरकार ने 8 नवंबर 2016 को नोटबंदी की घोषणा करते हुए कहा था कि इसके पीछे मुख्य मकसद कालाधन और भ्रष्टाचार पर अंकुश लगाना है। 

रिजर्व बैंक को प्रतिबंधित नोटों की गिनती में काफी अधिक समय लगा है। सरकार ने नोटबंदी की घोषणा के बाद लोगों को पुराने नोटों को जमा कराने के लिए 50 दिन की सीमित अवधि उपलब्ध कराई थी। नोटबंदी के समय मूल्य के हिसाब से 500 और 1,000 रुपए के 15.41 लाख करोड़ रुपए के नोट चलन में थे। रिजर्व बैंक की रिपोर्ट में कहा गया है कि इनमें से 15.31 लाख करोड़ रुपए के नोट बैंकों के पास वापस आ चुके हैं। इसका मतलब है कि बंद नोटों में सिर्फ 10,720 करोड़ रुपए ही बैंकों के पास वापस नहीं आए हैं।

केंद्रीय बैंक ने कहा कि निर्दिष्ट बैंक नोटों (एसबीएन) की गिनती का जटिल कार्य सफलतापूर्वक पूरा हो गया है। नोटबंदी के बाद लोगों को पुराने नोट जमा कराने का समय दिया गया था। कुछ ऐसे मामले जिनमें बहुत अधिक पुराने नोट जमा कराए गए, अब आयकर विभाग की जांच के घेरे में हैं। 

रपट में कहा गया है कि बैंकों के पास आए एसबीएन को जटिल द्रुत गति की करेंसी सत्यापन एवं प्रसंस्करण प्रणाली (सीवीपीएस) के जरिये सत्यापित किया गया और उसके बाद उनकी गिनती करने के बाद उन्हें नष्ट कर दिया गया।  एसबीएन से तात्पर्य 500 और 1,000 रुपए के बंद नोटों से है। 

रिजर्व बैंक ने कहा कि एसबीएन की गिनती का काम पूरा हो गया है। कुल 15,310.73 अरब मूल्य के एसबीएन बैंकों के पास वापस आये हैं। सरकार ने 500 रुपए के बंद नोट के स्थान पर नया नोट तो जारी किया है लेकिन 1,000 रुपए के नोट के स्थान पर नया नोट जारी नहीं किया गया है। इसके स्थान पर 2,000 रुपए का नया नोट जारी किया गया है। 

नोटबंदी के बाद 2016-17 में रिजर्व बैंक ने 500 और 2,000 रुपए के नए नोट तथा अन्य मूल्य के नोटों की छपाई पर 7,965 करोड़ रुपए खर्च किए, जो इससे पिछले साल खर्च की गई 3,421 करोड़ रुपए की राशि के दोगुने से भी अधिक है। 2017-18 (जुलाई 2017 से जून 2018) के दौरान केंद्रीय बैंक ने नोटों की छपाई पर 4,912 करोड़ रुपए और खर्च किए।

नोटबंदी को कालेधन, भ्रष्टाचार पर अंकुश तथा जाली नोटों पर लगाम लगाने के कदम के रूप में देखा जा रहा था। लेकिन रिजर्व बैंक का कहना है कि एसबीएन में 500 और 1,000 के पकड़े गए जाली नोटों की संख्या क्रमश: 59.7 और 59.6 प्रतिशत कम हुई है। 

केंद्रीय बैंक ने कहा कि पिछले साल की तुलना में 100 रुपए के जाली नोट 35 प्रतिशत अधिक पकड़े गए जबकि 50 रुपए के जाली नोटों की संख्या में 154.3 प्रतिशत का इजाफा हुआ। रिजर्व बैंक ने कहा कि 2017-18 में नए 500 रुपए के नोट की 9,892 जाली इकाइयां पकड़ी गईं, जबकि 2,000 रुपए के नोट की 17,929 जाली इकाइयां पकड़ी गईं। इससे पिछले साल यह आंकड़ा क्रमश: 199 और 638 था। 

मदद के लिए एक बार फिर आगे आए बॉलीवुड के 'शहंशाह' शहीदों, किसानों के परिवारों को देंगे ढाई करोड़ रुपए

Amitabh Bachchan will give Rs 2.5 crore to the martyrs, families of farmers

मुंबई। बॉलीवुड के शहंशाह अमिताभ बच्चन एक बार फिर मदद के लिए अपने हाथ बढ़ाए हैं। आपको बता दें कि अमिताभ बच्चन  शहीदों के परिवार के लिये एक करोड़ रुपये और किसानों की कर्जमाफी के मद में डेढ़ करोड़ रुपये अलग से दान के रूप में देंगे। पचहत्तर वर्षीय अभिनेता ने कहा कि वह शहीदों के परिवारों के लिये कुछ करना चाहते हैं।

बच्चन ने यहां संवाददाताओं को बताया, ''कल ही हमें सरकार की तरफ से ऐसे 44 परिवारों की सूची मिली है। हमने ऐसे परिवारों की देखभाल की खातिर एक करोड़ रुपये मूल्य के 112 डिमांड ड्राफ्ट तैयार किये हैं।" उन्होंने कहा, ''सरकार में एक प्रणाली है। 60 प्रतिशत राशि पत्नी को, 20 प्रतिशत पिता को और 20 प्रतिशत माता को दी जाती है... इसी तरह से हमने शहीदों के 44 परिवारों के लिये राशि वितरित की है।" 

अभिनेता ने कहा कि वह किसानों की खुदकुशी से भी दुखी हैं और इसलिए उन्होंने उनकी सहायता करने का फैसला किया। बच्चन यहंा आज ''कौन बनेगा करोड़पति" के 10वें संस्करण के संवाददाता सम्मेलन के मौके पर बोल रहे थे। वर्कफ्रंट की बात करें तो अमिताभ इऩ दिनों दो बड़ी फिल्मों को लेकर बिजी हैं।

उनकी आने वाली फिल्मों में एक आमिर खान स्टारर ठग्स ऑफ हिंदुस्तान हैं। जिसमें जायरा वसीम और कैटरीना कैफ भी लीड रोल  में नजर आएंगी। इसके अलावा वे अयान मुखर्जी के निर्देशन में बन रही फिल्म ब्रह्रास्त्र में भी नजर आएंगे। इस फिल्म में रणबीर कपूर और आलिया भट्ट लीड रोल में हैं। 

विवादों में फंसे ऋतिक रोशन, 21 लाख रुपए की धोखाधड़ी का मामला दर्ज

Hrithik Roshan registers fraud case of Rs 21 lakhs

चेन्नई। बॉलीवुड के सुपरस्टार ऋतिक रोशन एक बार फिर खबरों का हिस्सा बने हुए हैं। आपको बता दें कि इस बार ऋतिक का नाम एक विवाद में सामने आया हैं। दरअसल चेन्नई के एक व्यापारी ने ऋतिक रोशन के समेत सात अन्य लोगों पर धोखाधड़ी का मामला दर्ज कराया है। मामला दर्ज कराने वाले सन इंटरप्राइजेज के आर मुरलीधरन के अनुसार गुडग़ांव की एक कंपनी ने रितिक को एचआरएक्स ब्रांड की मर्चेंडाइजिग के लिए उसे स्टाकिस्ट नियुक्त किया था।

श्री मुरलीधरन ने कहा है कि फिल्मस्टार और इस मामले में शामिल आठ लोगों की धोखाधड़ी के कारण उसे 21 लाख रुपए का नुकसान उठाना पड़ा है। व्यापारी का आरोप है कि कंपनी की तरफ से उसे नियमित उत्पाद मुहैया नहीं कराये जाते थे। ऋतिक ने बिना जानकारी दिए विपणन टीम को खत्म कर दिया।

इस वजह से उसके पास रखे उत्पाद बेचे नहीं जा सके। कर्मचारियों के वेतन और माल को रखने के लिए गोदाम आदि का किराया मिलाकर उसे लगभग 21 लाख रुपए व्यय करने पड़े। ऋतिक पर भारतीय दंड संहिता की धारा 420 के तहत मामला दर्ज किया गया है। आपको बता दें कि इन दिनों ऋतिक अपनी फिल्मों से कम बल्कि कई तरह की खबरों को लेकर सुर्खियों में छाए हुए हैं।

आपको बता दें कि हाल ही में ऋतिक रोशन ने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म ट्विटर पर ट्वीट करते हुए अपना गुस्सा जाहिर किया हैं। ऋतिक ने उन मीडिया रिपोर्ट की कड़ी निंदा की है जिसमें यह दावा किया गया है कि अभिनेत्री दिशा पटानी ने ऋतिक की वजह से एक फिल्म छोड़ दी। उन्होंने इस तरह की सभी खबरों को सीरे से खारिज करते हुए ट्विटर पर जबरदस्त लताड़ लगाई हैं।

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures


 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!



Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.