7 दिसंबरः एक क्लिक में पढ़े देश दुनिया की 10 बड़ी खबरें

Samachar Jagat | Thursday, 07 Dec 2017 05:31:59 PM
todays top 10-news

एक परिवार के लिए अंबेडकर के योगदान को मिटाने के प्रयास हुएः मोदी

PM Modi targets Gandhi family

नई दिल्ली। नेहरू गांधी परिवार पर परोक्ष निशाना साधते हुए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आज कहा कि बाबा साहब भीमराव अंबेडकर के जाने के बरसों बाद तक राष्ट्र निर्माण में उनके योगदान को मिटाने के प्रयास किए जाते रहे लेकिन जिस एक परिवार के लिए ये सब किया गया, उस परिवार से कहीं ज्यादा लोग आज बाबा साहेब से प्रभावित हैं। 

बी आर अंबेडकर अंतरराष्ट्रीय केंद्र के उद्घाटन कार्यक्रम को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि बाबा साहेब का राष्ट्र निर्माण में जो योगदान है, उस वजह से हम सभी उनके ऋणी हैं। हमारी सरकार का ये प्रयास है कि ज्यादा से ज्यादा लोगों तक उनके विचार पहुंचें। विशेषकर युवा पीढ़ी उनके बारे में जाने, उनका अध्ययन करें। 

मोदी ने कहा कि बाबा साहेब में अद्भुत शक्ति थी। उनके जाने के बाद बरसों तक राष्ट्र निर्माण में उनके योगदान को मिटाने का प्रयास किया गया, लेकिन बाबा साहेब के विचारों को लोग जनमानस के चिंतन से हटा नहीं पाए। जिस परिवार के लिए ये सब किया गया, उस परिवार के मुकाबले कहीं ज्यादा लोग आज बाबा साहेब से प्रभावित हैं। 

उन्होंने कहा कि देश की सामाजिक बुराइयों का जिस व्यक्ति ने जीवनपर्यन्त सामना किया हो, वो देश को लेकर उम्मीदों से भरा हुआ था। हमें ये स्वीकारना होगा कि इतने वर्षोें बाद भी हम बाबा साहेब की उन उम्मीदों को, पूरा नहीं कर सके हैं।

हाईकोर्ट ने मानहानि मामले में केजरीवाल को निजी तौर पर पेश होने से छूट दी

defamation case: high court exempts kejriwal from personal appearance

नई दिल्ली। दिल्ली हाईकोर्ट ने राज्यसभा सदस्य सुभाष चंद्रा द्वारा दायर आपराधिक मानहानि के मामले में मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को 11 दिसंबर को निचली कोर्ट के समक्ष निजी तौर पर पेश होने से गुरुवार को छूट दे दी।

न्यायमूर्ति संगीता ढींगरा सहगल की पीठ ने दिल्ली पुलिस और चंद्रा को भी नोटिस जारी किया और उनसे बीजेपी  नेता द्वारा दर्ज कराई गई शिकायत को रद्द करने की मांग वाली मुख्यमंत्री की याचिका पर जवाब मांगा।

कोर्ट ने केजरीवाल को निजी पेशी से छूट दे दी और इस मामले पर अगली सुनवाई के लिए 22 जनवरी की तारीख तय की। केजरीवाल ने निचली कोर्ट द्वारा चार मार्च को उन्हें जारी समन पर रोक लगाने की मांग की है।

सुभाष चंद्रा ने नोटबंदी के मद्देनजर केजरीवाल द्वारा उन पर कथित तौर पर झूठे आरोप लगाए जाने को लेकर गत वर्ष 17 नवंबर को दिल्ली के मुख्यमंत्री पर अभियोग चलाने की मांग की थी।

डोनाल्ड ट्रंप पर महाभियोग चलाने का प्रस्ताव खारिज

Donald Trump rejects impeachment Offer

वाशिंगटन। अमेरिका की प्रतिनिधि सभा ने राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप पर महाभियोग चलाने का प्रस्ताव को खारिज कर दिया है। कांग्रेस के एक सदस्य के उस प्रस्ताव को जोरदार तरीके से खारिज करते हुए डेमोक्रेटिक पार्टी के नेताओं ने कहा कि अभी महाभियोग चलाने का वक्त नहीं है।

सांसदों ने रिपब्लिकन राष्ट्रपति के खिलाफ महाभियोग की कार्रवाई शुरू करने के डेमोक्रेट सांसद अल ग्रीन के प्रस्ताव को 58 के मुकाबले 364 मतों से खारिज कर दिया। यह मतदान महाभियोग के अनुच्छेदों को लेकर नहीं बल्कि इस प्रस्ताव को सदन में रखने को लेकर था। ग्रीन ने इस मुद्दे पर मतदान कराने के लिए तथाकथित विशेषाधिकार प्रस्ताव का इस्तेमाल किया। 126 डेमोक्रेटिक सदस्यों के साथ सभी रिपब्लिकन सांसदों ने प्रस्ताव का विरोध किया।

सदन में अल्पसंख्यक नेता नैंसी पेलोसी ने कहा कि ट्रंप ने कई ऐसे बयान दिए हैं और कदम उठाए हैं जो ज्यादातर अमेरिकियों की उम्मीद से परे हैं, लेकिन यह महत्वपूर्ण है कि कांग्रेस की समितियों को अमेरिकी चुनाव में रूसी हस्तक्षेप की जांच करने दी जाए। ग्रीन ने अक्टूबर में महाभियोग संबंधी प्रस्ताव पेश किया था, लेकिन इस पर बुधवार को मतदान हुआ।

सहयोगियों को पत्र में ग्रीन ने लिखा मैं अपने देश से प्यार करता हूं। इसलिए मैं प्रतिनिधि सभा में महाभियोग के अनुच्छेदों को मतदान के लिए रखूंगा। उन्होंने कहा कि ट्रंप ने राष्ट्रपति पद की गरिमा को उन वजहों से जोड़ दिया जो श्वेतों को सर्वाेच्च मानने वाली सोच, कट्टरता, नस्लवाद, यहूदी विरोधी भावना और श्वेत राष्ट्रवाद से संबद्ध थीं।

भारतीय ड्रोन का हमारे हवाई क्षेत्र में घुसपैठ : चीन

Indian drone infiltrated in our airspace: China

बीजिंग। चीन ने दावा किया कि एक भारतीय ड्रोन उसकी हवाई सीमा में घुसपैठ करने के बाद वापस अपने क्षेत्र में जाकर नष्ट हो गया। बीबीसी न्यूज के अनुसार वेस्टर्न थियेटर कॉम्बेट ब्यूरो के उप निदेशक झांग शुईली ने कहा कि यह हाल के दिनों की घटना है। उन्होंने हालांकि घटना के वास्तविक स्थल के बारे में कोई जानकारी नहीं दी।

चीन की सरकारी न्यूज एजेंसी शिन्हुआ ने शुईली के हवाले से कहा कि भारत ने चीन की क्षेत्रीय संप्रभुता का उल्लंघन किया है। हिमालयी पठार के एक इलाके को लेकर दोनों देशों के बीच इस साल गर्मियों में विवाद उभर कर सामने आया था। गत जून में भारत, चीन और भूटान की सीमा पर स्थित डोकलाम/डोंगलांग पठार तक चीन की ओर से सडक़ निर्माण का भारत ने कड़ा विरोध किया था।

इस इलाके पर भूटान के कब्जे का भारत समर्थन करता है जबकि चीन भी उसका दावेदार है। भारत ने हालांकि चीन के ताजे दावे को लेकर अभी तक कोई प्रतिक्रिया जाहिर नहीं की है। सरकारी मीडिया ने शुईली के हवाले से अपनी विस्तृत रिपोर्ट में कहा कि चीनी सीमा सुरक्षा बलों ने इस कथित ड्रोन की सत्यापन भी किया है। उन्होंने इस प्रकरण का यह कहते हुए कड़ा विरोध और असंतोष व्यक्त करते हुए कहा कि यह हमारे देश की सुरक्षा और अधिकारों पर भी खतरा है।

बारात लेकर गया था दूसरी शादी करने पर लौटना पड़ा पहली बीबी और बच्चों के साथ

Muslim man second marriage stop by police in Saharanpur

सहारनपुर।  उत्तर प्रदेश के सहारनपुर जिले में महिला सशक्तिकरण के लिए चल रहे पुलिस अभियान का लाभ एक मुस्लिम वैवाहिक महिला को मिला जब पुलिस के हस्तक्षेप से दूसरा ब्याह रचाने जा रहे उसके शौहर को न सिर्फ बारात लौटानी पड़ी बल्कि विवाह की हसरत छोड़ पत्नी का ताउम्र साथ निभाने की कसम खानी पड़ी।

दरअसल, शामली जिले के अजीजपुर गांव निवासी इनसार की पत्नी नसरीन से अनबन रहती थी जिसके चलते नसरीन पिछले एक साल से बच्चों के साथ कोतवाली थाना भवन के अम्बेहटा गांव स्थित मायके में रह रही थी। कल रात इनसार गाजे बाजे के साथ दूसरा ब्याह रचाने बडग़ांव के लूनाबड़ी गांव पहुंचा जिसकी भनक नसरीन को लग गई और शादी रूकवाने के लिए उसने पुलिस की शरण ली।

पीडि़त विवाहिता ने पुलिस को बताया कि उसका पति लूनाबड़ी में कामिल के यहां बारात लेकर आया है और उसकी बेटी शबाना के साथ निकाह करने वाला है। महिला की बात सुनने के बाद पुलिस हरकत में आई और बिना तलाक दिए दूसरा निकाह करने वाले इनसार को हिरासत में ले लिया। इस घटनाक्रम को देखते हुए बाराती गांव से भाग गए और कामिल ने भी अपनी बेटी शबाना का निकाह करने से इनकार कर दिया।

पुलिस के समझाने बुझाने और कानूनी कार्रवाई का डर दिखाने पर इनसार अपनी पहली पत्नी और दो बच्चों को साथ लेकर अपने गांव अजीजपुर चला गया। पीडि़त महिला ने बडग़ांव पुलिस का आभार जताया, कि उसका परिवार फिर से खुशहाल हो गया। एजेंसी

नए सिरे से तैयार होगा बीसीसीआई का कैलेंडर

BCCI's calendar ready to be renewed

नई दिल्ली। टीम इंडिया के खिलाडिय़ों की लगातार क्रिकेट खेलने की आपत्ति के बाद भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड नए सिरे से कैलेंडर तैयार करेगा जिसमें राजस्व के साथ खिलाडिय़ों के हितों को लेकर संतुलन बैठाने का प्रयास किया जाएगा।

भारतीय क्रिकेट टीम वर्तमान में श्रीलंका के साथ सीरीज खेल रहा है जिसमें तीन टेस्ट और इतने ही वनडे तथा टी-20 मैचों की सीरीज होनी है। इसके दो-तीन दिन के अंतर पर टीम इंडिया फिर दक्षिण अफ्रीका दौरे पर रवाना होगी जिससे उसे विदेशी सीरीज के लिए तैयारी का कोई समय ही नहीं मिला है।

बुधवार को संपन्न हुई श्रीलंंका टेस्ट सीरीज के दौरान भी पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी और कप्तान विराट ने बोर्ड के एक के बाद एक सीरीज का कार्यक्रम तैयार करने और उससे खिलाडिय़ों पर पडऩे वाले असर को लेकर असंतोष जाहिर किया था। ऐसे में साफ है कि कप्तान की नाराजगी को गंभीरता से लेते हुए बीसीसीआई अब अपने कार्यक्रम में बदलाव को तैयार है।

सिंगापुर में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) की सात और आठ दिसंबर को होने वाली सदस्यों की कार्यशाला में वर्ष 2019 से 2023 के बीच नए फ्यूचर टूर प्रोग्राम(एफटीपी) पर निर्णय लिया जाएगा। भारतीय टीम का वर्ष 2016-17 सितंबर में घरेलू सत्र शुरूआत हुआ था और तब से टीम इंडिया ने सभी प्रारूपों में कुल 60 अंतरराष्ट्रीय मैच खेले हैं।

पुजारा को विश्वास, दक्षिण अफ्रीका को भी हराएगी टीम इंडिया

Pujara confident, India will beat South Africa also

नई दिल्ली। घरेलू मैदान में लगातार शानदार प्रदर्शन कर रही टीम इंडिया के खिलाडिय़ों का मनोबल काफी ऊंचा नजर आ रहा है। चेतेश्वर पुजारा ने विश्वास व्यक्त किया है कि भारतीय टीम दक्षिण अफ्रीका दौरे पर भी जीत हासिल करेगी।

पुजारा ने श्रीलंका के खिलाफ तीसरा और अंतिम टेस्ट ड्रॉ समाप्त होने और भारत के तीन मैचों की सीरीज 1-0 से जीतने के बाद बुधवार को कहा कि हम दक्षिण अफ्रीका दौरे के लिए पूरी तरह तैयार हैं। श्रीलंका के खिलाफ टेस्ट सीरीज समाप्त हो जाने के बाद कुछ खिलाडिय़ों के पास अब मौका रहेगा कि वे खुद को इस मुश्किल दौरे के लिए तैयार करें।

उन्होंने कहा मैं 2010 और 2013 में दक्षिण अफ्रीका दौरे पर जा चुका हूं। कुछ और खिलाड़ी भी दक्षिण अफ्रीका में खेल चुके हैं। टीम को मनोबल बहुत ऊंचा है। टीम लगातार नौ सीरीज जीत चुकी है और इस लय को हम दक्षिण अफ्रीका में भी बरकरार रखेंगे।

भारतीय टीम दक्षिण अफ्रीका दौरे के लिए 27 दिसंबर को रवाना होगी और वहां 30-31 दिसंबर को दो दिवसीय अभ्यास मैच खेलने के बाद 5 जनवरी से केपटाउन में पहला टेस्ट खेलेगी। इस दौरे से पहले कोई कैंप लगाने के सवाल पर पुजारा ने कहा कि इसका फैसला करना बीसीसीआई का काम है। हमें तो खुद को तैयार रखना है।

बीबीसी ने शशि कपूर के निधन की खबर में की गड़बड़ी, माफी मांगी

BBC's sorry for the news of Shashi Kapoor's demise, apologized

लंदन। ब्रिटेन के सार्वजनिक प्रसारक बीबीसी ने हिंदी फिल्म अभिनेता शशि कपूर के निधन की खबर दिखाते समय गड़बड़ी कर दी लेकिन बाद में उसने अपनी गलती के लिए माफी भी मांग ली।

सोमवार को प्रसारित किए गए कार्यक्रम न्यूज ऐट टेन में दो वीडियो क्लिप दिखाए गए और प्रस्तोता एच एडवड्र्स ने 79 वर्षीय अभिनेता के निधन की घोषणा की। लेकिन वीडियो में जिन दो लोगों को दिखाया गया उनमें से शशि कपूर नहीं थे। एक उनके भतीजे रिषी कपूर थे और दूसरे अमिताभ बच्चन थे।

कार्यक्रम के संपादक पॉल रॉयल ने गलती के लिए बाद में ट्विटर पर माफी मांगी। बीबीसी ने भी एक बयान में कहा, शशि कपूर के निधन पर दिखायी गयी गलत तस्वीरों के लिए बीबीसी न्यूज ऐट टेन माफी मांगता है।

केंद्र सरकार विभिन्न योजनाओं को आधार से जोड़ने की समय सीमा बढ़ाने काे इच्छुक

central government Different schemes Deadline to add to base Wanting to increase

नई दिल्ली। केंद्र सरकार ने उच्चतम न्यायालय को सूचित किया कि वह विभिन्न सेवाओं और कल्याणकारी योजनाओं का लाभ उठाने के लिए उन्हेंआधार से अनिवार्य रूप से जोडऩे के वास्ते तय समय सीमा को अगले साल 31 मार्च तक बढ़ाने का इच्छुक है। उच्चतम न्यायालय आधार को अनिवार्य रूप से जोडऩे के केंद्र के फैसले पर अंतरिम रोक लगाने की मांग करने वाली कई याचिकाओं पर सुनवाई करने के लिए अगले सप्ताह पांच सदस्यीय संविधान पीठ का गठन करेगा।

अटॉर्नी जनरल के. के. वेणुगोपाल ने प्रधान न्यायाधीश दीपक मिश्रा के नेतृत्व वाली पीठ को बताया कि केंद्र विभिन्न सेवाओं और योजनाओं को आधार से जोडऩे के लिए निर्धारित 31 दिसंबर की समयसीमा को अगले साल 31 मार्च तक के लिए बढ़ाना चाहता है। अटॉर्नी जनरल ने हालांकि स्पष्ट किया कि बाधारहित मोबाइल सेवाओं को आधार से जोडऩे की समयसीमा अगले साल छह फरवरी ही रहेगी। उच्चतम न्यायालय ने कहा था कि मोबाइल सेवाओं को आधार से जोडऩा अनिवार्य है।

आधार योजना का विरोध करने वाले लोगों की ओर से पेश हुए वरिष्ठ वकील श्याम दीवान ने पीठ को बताया कि केंद्र सरकार को यह हलफनामा देना चाहिए कि आधार को विभिन्न योजनाओं से जोडऩे में नाकाम रहने वाले लोगों के खिलाफ कोई कठोर कदम नहीं उठाया जाएगा। पीठ में न्यायमूर्ति ए एम खानविलकर एवं न्यायमूर्ति डी वाई चंद्रचूड़ भी शामिल हैं। शीर्ष न्यायालय ने 30 अक्तूबर को कहा था कि आधार योजना के खिलाफ कई याचिकाओं पर संविधान पीठ नवंबर के आखिरी सप्ताह से सुनवाई शुरू करेगी।

हाल ही में उच्चतम न्यायालय की नौ सदस्यीय संविधान पीठ ने कहा था कि संविधान के तहत निजता का अधिकार मौलिक अधिकार है। आधार की वैधता को चुनौती देने वाली कई याचिकाओं में दावा किया गया था कि यह निजी अधिकारों का उल्लंघन करता है।एजेंसी

352 अंक की बढ़त बनाकर बंद हुआ सेंसेक्स

Sensex closes 352 points up

मुंबई। घरेलू शेयर बाजार में आज कारोबार हरे निशान पर बंद हुआ है, कारोबार की समाप्ति पर बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) का प्रमुख सूचकांक सेंसेक्स 352.03 अंक यानि 1.08 प्रतिशत की बढ़त के साथ 32,949.21 के स्तर पर बंद हुआ। वहीं नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का पचास शेयरों वाला प्रमुख इंडेक्स निफ्टी 122.60 अंक यानि 1.22 प्रतिशत की बढ़त के साथ 10,166.70 के स्तर पर बंद हुआ है।

कारोबार की समाप्ति पर मिडकैप और स्मॉलकैप शेयर भी बढ़त बनाकर बंद हुए। गौरतलब है कि कल के कारोबा के दौरान भारतीय रिजर्व बैंक द्वारा द्विमासिक मौद्रिक समीक्षा में नीतिगत दरों के मोर्चे पर यथास्थिति कायम रखने के बीच बंबई शेयर बाजार का सेंसेक्स 205 अंक टूटकर 32,597.18 अंक पर आ गया। केंद्रीय बैंक ने रेपो दर को छह प्रतिशत पर बरकरार रखा है, लेकिन मुद्रास्फीति के अनुमान को बढ़ाया है।

रिजर्व बैंक के गवर्नर उर्जित पटेल की अगुवाई वाली छह सदस्यीय मौद्रिक नीति समिति एमपीसी ने शेष वित्त वर्ष के लिए मुद्रास्फीति के अनुमान को बढ़ाकर 4.3 से 4.7 प्रतिशत कर दिया है। केंद्रीय बैंक की मौद्रिक समीक्षा के बाद बंबई शेयर बाजार का 30 शेयरों वाला सेंसेक्स 205.26 अंक या 0.63 प्रतिशत के नुकसान से 32,597.18 अंक पर आ गया। कारोबार के दौरान यह 32,565.16 अंक के निचले स्तर तक आया। 

नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 10,033.35 अंक के निचले स्तर को छूने के बाद अंत में 74.15 अंक या 0.73 प्रतिशत के नुकसान से 10,044.10 अंक पर बंद हुआ। शुरुआती कारोबार में यह 10,104.20 अंक के उच्चस्तर तक गया।



 
loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2017 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.