यात्रियों को मालूम है कि देरी से क्यों चल रही हैं ट्रेनें : गोयल

Samachar Jagat | Tuesday, 12 Jun 2018 05:23:18 AM
Travelers know why trains are delayed: Goyal

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures

नई दिल्ली। रेल मंत्री पीयूष गोयल का कहना है कि सुरक्षा पहली प्राथमिकता है और यात्रियों को मालूम है कि ट्रेनें देरी से क्यों चल रही हैं । 

अपने मंत्रालय की उपलब्धियों को बताते हुए एक संवाददाता सम्मेलन में रेल मंत्री पीयूष गोयल ने कहा कि रेलवे का वर्ष 2017-18 में सुरक्षा रेकॉर्ड सबसे अच्छा रहा है । 

रेल मंत्री पीयूष गोयल ने कहा कि दशकों से रूके हुए पटरियों की मरम्मत के कारण ट्रेनें देरी से चल रही हैं । यात्रियों को मालूम है कि ट्रेनें देरी से क्यों चल रही हैं और उन्हें मालूम है कि भारतीय रेल भविष्य के लिए तैयार हो रही है । सभी को पता है कि विरासत / उत्तराधिकार में हमें क्या मिला है । 

पूर्ववर्ती संप्रग सरकार पर निशाना साधते हुए भाजपा नेता ने कहा कि तत्कालीन प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी ने 2003 - 04 में रेल सुरक्षा निधि की घोषणा की थी , लेकिन 10 वर्ष तक उसपर विचार नहीं किया गया । इसके कारण मौजूदा सरकार को असुरक्षित रेलवे उत्तराधिकार में मिली । 

रेल मंत्री पीयूष गोयल ने कहा कि 2009 - 14 के बीच रेलवे पर हुए वार्षिक औसत खर्च के मुकाबले पिछले चार वर्ष में दोगुना से ज्यादा खर्च किया गया है । उन्होंने कहा कि 2017 - 18 में 5,000 किलोमीटर लंबी रेल की पटरियों को बदला गया है । 

रेल मंत्री पीयूष गोयल ने कहा कि दशकों से रूके हुए पटरियों की मरम्मत के कारण ट्रेनें देरी से चल रही हैं । यात्रियों को मालूम है कि ट्रेनें देरी से क्यों चल रही हैं और उन्हें मालूम है कि भारतीय रेल भविष्य के लिए तैयार हो रही है । सभी को पता है कि विरासत / उत्तराधिकार में हमें क्या मिला है । 

केन्द्रीय मंत्री ने कहा कि रेलवे का लक्ष्य छह - सात साल में रेलवे की आय दोगुना कर उसे आत्मनिर्भर बनाना है । - (एजेंसी)

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures


 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...

Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.