पश्चिम बंगाल पंचायत चुनाव: हिंसा की घटनाओं के बीच सुबह नौ बजे तक 11 प्रतिशत मतदान

Samachar Jagat | Monday, 14 May 2018 12:47:48 PM
West Bengal panchayat elections

कोलकाता। पश्चिम बंगाल पंचायत चुनाव में सोमवार सुबह नौ बजे तक 11 प्रतिशत मतदान हुआ। राज्य के कई हिस्सों में हिंसा की घटनाओं में कई लोग घायल हो गए हैं। राज्य निर्वाचन आयोग के अधिकारियों ने बताया कि दक्षिण दिनाजपुर जिले के तपन इलाके में एक मतदान केंद्र के बाहर बम फेंका गया, जिसमें एक व्यक्ति की मौत और तीन अन्य के घायल होने की खबर है।

पुलिस ने अभी तक व्यक्ति की मौत की पुष्टि नहीं की है। अधिकारी ने कहा कि हमें एक रिपोर्ट मिली है कि चार लोग घायल हो गए। उनमें से एक की मौत हो गई है। हालांकि जिला पुलिस अधीक्षक ने अभी तक मौत की पुष्टि नहीं की है। अधिकारी ने बताया कि सुबह नौ बजे तक 11.93 फीसदी मतदान दर्ज किया गया।

कर्नाटक में मतदान के बाद पेट्रोल-डीजल के दाम बढ़े

उन्होंने बताया कि मतदान शुरू होने के तीन घंटे से भी कम समय मे राज्य निर्वाचन आयोग को कई जिलों से हिंसा की शिकायतें मिलने लगी। आयोग ने पुलिस को कार्रवाई करने के लिए कहा है। उन्होंने बताया कि उत्तर 24 परगना,बर्द्धवान, कूचबिहार और दक्षिण 24 परगना जिलों से हिंसा की रिपोर्टें मिली हैं।

कूचबिहार जिले में उत्तर बंगाल विकास मंत्री रबींद्रनाथ घोष ने एक मतदान केंद्र के बाहर एक व्यक्ति को कथित तौर पर चांटा मारा। आयोग ने कहा कि उसे शिकायत मिली है और अधिकारियों से कार्रवाई करने के लिए कहा गया है। टेलीविजन चैनलों ने दिखाया कि मंत्री ने व्यक्ति को कथित तौर पर थप्पड़ मारा। हालांकि घोष ने दावा किया कि उन्होंने ऐसा कुछ नहीं किया।

सूत्रों ने बताया कि उत्तर बंगाल में कूचबिहार जिले के दिनहाटा इलाके में एक मतदान केंद्र के बाहर दो समूहों के बीच झड़पों में मतदाताओं सहित कम से कम 15 लोग घायल हो गए। मतदाताओं ने बाद में पुलिस में शिकायत दर्ज करायी। उत्तर 24 परगना में बीजेपी ने सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस पर जिले के कई हिस्सों खासतौर से अमदंगा इलाके में भय का माहौल पैदा करने का आरोप लगाया। आयोग के सूत्रों ने बताया कि अम्दांगा में दो समूहों के बीच हुई झड़पों में कुछ लोग घायल हो गए।

वरिष्ठ मंत्री ज्योतिप्रियो मलिक ने कहा कि घटना में तृणमूल कांग्रेस के कार्यकर्ता शामिल नहीं है और उन्होंने बीजेपी पर मतदाताओं को डराने का आरोप लगाया। बर्द्धवान जिले में विपक्षी दल माकपा और बीजेपी ने आरोप लगाया कि तृणमूल कांग्रेस मतदाताओं को डरा रही है और मतदान केंद्रों के बाहर बम फेंक रही है।

तृणमूल कांग्रेस ने इन आरोपों को निराधार बताया है। बीरभूम में कुछ मतदान केंद्रों के बाहर हथियार और लाठियां लिए नकाबपोश लोग मतदाताओं को धमकाते हुए देखे गए। दक्षिण 24 परगना के बसंती ब्लॉक से आ रही टीवी फुटेज में मतदान केंद्रों के बाहर नकाबपोश बंदूकधारियों को घूमते हुए देखा गया।

संघीय व्यवस्था को तोडऩे के केंद्र के प्रयास का विरोध करें सभी राज्य: चिदंबरम

अधिकारी ने बताया कि इसी जिले के भानगर में पुलिस ने झड़पों के बाद भीड़ को खदेडऩे के लिए लाठियां भांजी और आंसू गैस के गोले छोड़े। आयोग ने घटना के संबंध में पुलिस से एक रिपोर्ट सौंपने के लिए कहा है।



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.