क्या मुंबई हमले के गुनाहगारों को कसाब के अंजाम तक पहुंचाने के लिए साहस दिखाएंगे मोदी : कांग्रेस

Samachar Jagat | Tuesday, 15 May 2018 06:14:32 AM
What show courage for the execution of Kasab sinners Mumbai attacks Modi: Congress

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures

नई दिल्ली। मुंबई आतंकी हमले में पाकिस्तान की संलिप्तता को पूर्व पाकिस्तानी प्रधानमंत्री नवाज शरीफ द्वारा स्वीकार किए जाने के बाद कांग्रेस ने सवाल किया कि क्या प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इस हमले के गुनाहगारों को अजमल कसाब की तरह फांसी के फंदे तक पहुंचाने के लिए ‘56 इंच का सीना’ दिखाने का साहस करेंगे।

पार्टी के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने संवाददाताओं से कहा, ‘‘पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने एक बयान दिया है। उन्होंने स्वीकार किया है कि 26 नवंबर, 2008 का मुंबई हमला पाकिस्तान में सरकार एवं सरकार से इतर तत्वों द्वारा किए गए।’’

उन्होंने कहा, ‘‘प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इन्हीं नवाज शरीफ के घर बिना बुलाए दावत पर गए थे। पहला सवाल यह है कि क्या मोदी सरकार यह सुनिश्चित करने के लिए कदम उठाएगी कि पाकिस्तान को आतंकवादी देश घोषित किया जाए और उस पर सैन्य एवं आॢथक प्रतिबंध लगे? दूसरा सवाल यह कि क्या प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 56 इंच का सीना दिखाने का साहस करेंगे ताकि मुंबई हमले के गुनाहगारों के खिलाफ मामले अंजाम तक पहुंच सकें या फिर उनको भारत के सुपुर्द किया जाए ताकि अजमल कसाब की तरह उनको भी दंडित किया जा सके।’’

उन्होंने कहा कि देश प्रधानमंत्री से इन दोनों सवालों का जवाब जानना चाहता है। गौरतलब है कि पिछले दिनों शरीफ ने एक साक्षात्कार में पहली बार सार्वजनिक रूप से यह स्वीकार किया कि पाकिस्तान में आतंकवादी संगठन सक्रिय हैं। उन्होंने सरकार से इत्तर तत्वों को सीमा पार जाने और मुंबई में लोगों को ’’मारने’’ की अनुमति देने की नीति पर भी सवाल उठाया। 

मुंबई हमले में 166 लोग मारे गए थे और कई घायल हो गए थे। हमले के दौरान भजदा पकड़े पाकिस्तानी आतंकवादी अजमल कसाब को बाद में फांसी दी गई। भारत की ओर से कई बार सबूत मुहैया कराए जाने के बावजूद पाकिस्तान में मुंबई हमले के किसी भी षड्यंत्रकारी पर अब तक कोई ठोस कार्रवाई नहीं हुई। -(एजेंसी) 

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures


 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...

Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.