जब अटल ने दोस्त की तबीयत जानने के लिए एम्स के बाहर बिताए थे 7 घंटे

Samachar Jagat | Friday, 17 Aug 2018 03:51:47 PM
When Atal spent 7 hours outside AIIMS to know health of his friend

आजमगढ। राजनीति के क्षेत्र में सरल स्वाभाव और नेतृत्व क्षमता से अपनी प्रतिभा का लोहा मनमाने वाले भारत रत्न एवं पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी दोस्तों के लिये अपनी जान छिड़कते थे। अपने राजनीतिक जीवन में उन्होने मात्र तीन दफे पूर्वी उत्तर प्रदेश के आजमगढ का दौरा किया और अपने व्यक्तित्व की ऐसी अमिट छाप छोडी कि यहां के बड़े बुजुर्ग शुक्रवार को  भी उसे याद करते हैं।

आजमगढ में श्री वाजपेयी के जिगरी दोस्त दोस्त महातम राय का निवास स्थान था। राय की पुत्री एवं भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) महिला मोर्चा की पदाधिकारी भावुक होकर बताती हैं कि वर्ष 1977 में पिताजी को ब्रेन ट्यूमर की शिकायत पर दिल्ली के एम्स में भर्ती कराया गया।

वाजपेयी को जैसे ही मित्र के बीमार होने की खबर लगी, वह बिना समय गंवाये एम्स पहुंच गये और अस्पताल के वेटिग लाउंज में डट गये। करीब सात घंटे बाद डाक्टरों ने कहा कि राय साहब की तबीयत अब ठीक है। इसके बाद संतोष का भाव लिए वाजपेयी अस्पताल से रवाना हुए। लखनऊ में रेलवे में यूनियन के नेता राय राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ से जुडे थे।

वह लखनऊ में संघ के कार्यवाह थे 7 इसी सेवा के दौरान उनकी दोस्ती अटल बिहारी वाजपेयी के साथ हुई। लखनऊ में 1953 से लेकर 197० तक अटल और राय सायकिल से लखनऊ की गलियों में सायकिल पर बैठकर प्रचार करते थे 7 महत्तम राय सायकिल चलाते थे और अटल जी सायकिल के पीछे बैठते थे 7 वैसे तो महातम राय अब इस दुनिया मे नही है। वह कई वर्ष पहले इस दुनिया को छोड़कर चले गए।

वाजपेयी की आज़मगढ़ की राजनीतिक यात्रा तीन बार रही। वे साल 1984 में, 1989 में और 1996 में यहां आए थे। आखिरी 1996 में एक रैली को शहर के जजी मैदान में संबोधित करना था जिसमे वह थोड़ा विलंब से पहुंचे थे, उसमे अपार जनसमुदाय उन्हें सुनने के लिए उमड़ पड़ा था। भीड़ को उस समय की भाजपा की रिकार्ड भीड़ कही गई थी।



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.