जदयू का यादव गुट तीर चिन्ह को लेकर फिर उच्च न्यायालय पहुंचा

Samachar Jagat | Wednesday, 06 Dec 2017 03:47:03 PM
Yadav faction of JDU in Delhi High Court again over Arrow symbol

नई दिल्ली। जनता दल (यूनाइटेड) के शरद यादव गुट के नव नियुक्त अध्यक्ष के राजशेखरन ने तीर के चिह्न पर उनके दावे को खारिज करने वाले निर्वाचन आयोग के आदेश को चुनौती देने के लिए बुधवार को दिल्ली उच्च न्यायालय का रूख किया। राजशेखरन का प्रतिनिधित्व करने वाले वरिष्ठ वकील के आज मौजूद ना रहने के कारण न्यायमूर्ति इंदरमीत कौर ने मामले पर सुनवाई को कल तक के लिए स्थगित कर दिया।

नायडू ने शरद मामले पर उनके फैसले की आलोचना पर जताया अफसोस

जदयू नेता ने निर्वाचन आयोग के 25 नवंबर के आदेश को चुनौती दी है। आयोग ने अपने आदेश में कहा था कि बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का गुट असली जदयू हैं और उसे तीर का चिह्ल आवंटित कर दिया गया। नीतीश के जुलाई में बीजेपी से हाथ मिलाने के बाद उन्होंने और शरद यादव ने अपनी राहें जुदा कर ली थी। 

जिसके बाद दोनों के बीच पार्टी पर नियंत्रण को लेकर लड़ाई शुरू हो गई। शरद यादव गुट इससे पहले निर्वाचन आयोग के 17 नवंबर के आदेश के खिलाफ उच्च न्यायालय पहुंचा था। आयोग ने अपने आदेश में कुमार के गुट वाली जदयू के पक्ष में फैसला दिया था लेकिन उसने इस फैसले के पीछे के कारण नहीं बताए थे।

लेह में मौसम की सबसे सर्द रात रिकॉर्ड की गई

निर्वाचन आयोग ने 25 नवंबर को कारण बताते हुए आदेश दिया था। राजशेखरन ने अपनी याचिका में आयोग के 25 नवंबर के आदेश को रद्द करने की मांग की। इससे पहले वाली याचिका गुजरात के विधायक छोटूभाई वसावा ने दायर की थी जो उस समय जदयू के यादव गुट के कार्यवाहक अध्यक्ष थे। 



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2017 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.