रिटायर हो रहा है ग्रहों की खोज करने वाला नासा का दूरबीन केप्लर

Samachar Jagat | Wednesday, 31 Oct 2018 11:41:48 AM
NASA telescope kepler is searching for planets to retire

टैंपा। अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी नासा का ग्रहों की खोज करने वाला केप्लर दूरबीन नौ साल की सेवा के बाद रिटायर होने वाला है। अधिकारियों ने मंगलवार को बताया कि 2,600 ग्रहों की खोज में मदद करने वाले केप्लर दूरबीन का ईंधन खत्म हो गया है इसलिए उसे रिटायर किया जा रहा है । विशेषज्ञों का कहना है कि 2009 में स्थापित इस दूरबीन ने अरबों छुपे हुए ग्रहों से हमें अवगत कराया और ब्रह्मांड की हमारी समझ को बेहतर बनाया ।

ये कंपनी दीपावली पर अपने कर्मचारियों को बोनस में देगी 600 कारें

नासा की ओर से जारी बयान के अनुसार, केप्लर ने दिखाया कि रात में आकाश में दिखने वाले 20 से 50 प्रतिशत तारों के सौरमंडल में पृथ्वी के आकार के ग्रह हैं और वे अपने तारों के रहने योग्य क्षेत्र के भीतर स्थित हैं। इसका मतलब है कि वे अपने तारों से इतनी दूरी पर स्थित हैं, जहां इन ग्रहों पर जीवन के लिए सबसे महत्वपूर्ण पानी के होने की संभावना है ।

मंगल पर तरल पानी में जीवन को सहारा देने के लिए पर्याप्त ऑक्सीजन हो सकती हैः अध्ययन

नासा के एस्ट्रोफिजिक्स विभाग के निदेशक पॉल हर्ट्ज का कहना है कि केप्लर का जाना कोई अनपेक्षित नहीं था। केप्लर का ईंधन खत्म होने के संकेत करीब दो सप्ताह पहले ही मिले थे । उसका ईंधन पूरी तरह से खत्म होने से पहले ही वैज्ञानिक उसके पास मौजूद सारा डेटा एकत्र करने में सफल रहे। नासा का कहना है कि फिलहाल केप्लर धरती से दूर सुरक्षित कक्षा में है । -एजेंसी

 

 

 



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2019 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.