सावन मास 2019: हर तरफ हर हर महादेव की गूंज, शुरू हुआ कांवड़ मेला

Samachar Jagat | Wednesday, 17 Jul 2019 12:00:05 PM
Shravan Mas 2019

हरिद्वार। वार्षिक कांवड़ मेला बुधवार से शुरू होगा जिसके मद्देनजर शिवभक्त कांवड़ियों द्बारा प्रयुक्त किए जाने वाले मार्गों पर सुरक्षा व्यवस्था कड़ी कर दी गई है। कावंडिए हर साल सावन के महीने में हरिद्वार के मुख्य घाट हर की पौडी तथा अन्य घाटों से पवित्र गंगा जल लेने आते हैं और उन्हें अपने गांव या घर के पास शिवालयों में अर्पित करते हैं।

प्रदेश के पुलिस महानिदेशक, कानून और व्यवस्था, अशोक कुमार ने बताया कि कांवड़ियों द्वारा प्रयुक्त किए जाने वाले मार्गों पर करीब दस हजार पुलिस और अर्धसैनिक बल तैनात किये गये हैं। इसके अलावा, बम निरोधी और आतंकवादी निरोधी दस्ते की भी तैनाती की गई है। उन्होंने बताया कि मेला क्षेत्र में चयनित स्थानों पर कडी निगाह रखने के लिए सीसीटीवी तथा ड्रोन कैमरे भी लगाए गए हैं।

कुमार ने बताया कि संदिग्ध गतिविधियों पर नजर रखने के लिए मेले के दौरान संवेदनशील स्थानों पर सादे कपडों में भी पुलिसकर्मी तैनात रहेंगे। बारह अगस्त को संपन्न होने वाले कांवड़ मेले के दौरान इस साल तीन करोड़ कांवडियों के आने की संभावना है। भीड नियंत्रण के लिये हरिद्बार को 12 सुपर जोन, 31 जोन और 133 सेक्टरों में विभाजित किया गया है।

सेक्टर मजिस्ट्रेटों को संबोधित करते हुए पुलिस अधिकारी ने कांवड़ियों को व्यवस्थाओं तथा मार्गों के बारे में जानकारी देने के लिये उन्हें सोशल मीडिया मंच का भरपूर उपयोग करने के निर्देश दिए ताकि किसी प्रकार का कुप्रबंधन न हो। हाल में ऋषिकेश में लक्ष्मणझूला को सुरक्षा की दृष्टि से आवागमन के लिये बंद किए जाने के चलते कांवड़ मार्ग में भी थोडा बदलाव किया गया है।

गढवाल रेंज के पुलिस महानिरीक्षक अजय रौतेला ने संवाददाताओं को बताया कि पैदल जाने वाले कांवड़ियों को रामझूला तथा मौनी बाबा की गुफा से होकर नीलकंठ महादेव के मंदिर तक भेजा जायेगा जबकि वापसी में उन्हें ऋषिकेश बैराज से होकर आना होगा। पुलिस ने शिव भक्तों से शराब या अन्य नशीली चीजों के सेवन से दूर रहने को कहा है। कांवड़ियों से दुपहिया या चारपहिया पर क्षमता से ज्यादा सवारियां बैठाने और रेलगाडियों की छतों पर बैठकर सफर करने से भी बचने को कहा है। 



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
रिलेटेड न्यूज़
ताज़ा खबर

Copyright @ 2019 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.