यहां पर रंग-बिरंगी गुड़ियाओं को देखकर हैरान रह जाएंगे आप

Samachar Jagat | Friday, 13 Jul 2018 01:15:05 PM
You will be surprised to see the colorful dolls here

जयपुर। केन्द्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री सुरेश प्रभु 14 जुलाई को जयपुर में डॉल्स म्यूजियम का लोकार्पण करेंगे। समारोह की अध्यक्षता मुख्यमंत्री वसुन्धरा राजे करेगीं। गुलाबी नगरी जयपुर में सेठ आनन्दीलाल पोद्दार मूक-बधिर संस्थान में विश्वविख्यात सविता-रणजीत सिंह भण्डारी डॉल्स म्यूजियम के जीर्णोद्बार के बाद प्राचीन गुडियाएं अब नए-निखरे स्वरूप में नजर आएगीं। इस अवसर पर फाउण्डेशन के संरक्षक पद्मश्री डॉ. एस.आर. मेहता, पद्मभूषण डी.आर. मेहता, पद्मश्री डॉ. गोवर्धन मेहता के अलावा फाउण्डेशन के न्यासीगण अजीत सिंह, नरपत सिंह रविन्द्र, शरद, शारदा भण्डारी एवं पी.पी. पारीक उपस्थित रहेंगे। 

पेड़ों के बीच में बनाई गई हैं ये सुरंगे, पर्यटकों को करती हैं आकर्षित

भण्डारी मेमोरियल फाउण्डेशन के प्रबंध न्यासी एस.एस.भण्डारी एफसीए ने बताया कि सेठ आनंदीलाल मूक-बधिर संस्थान में वर्ष 1980 से सेकसरिया डॉल्स म्यूजियम बना हुआ है, जिसका निर्माण भगवानी बाई चेरिटेबल ट्रस्ट ने करवाया था। इसमें वर्तमान में देश-विदेश की करीब 300 गुडियाएं हैं, जो कि विश्व के कई देशों तथा भारत के विभिन्न प्रान्तों से यहां लाई गई हैं। ये गुडियाएं मूक होकर भी अपनी भाव-भंगिमाओं से देश-विदेश की संस्कृति, वेषभूषा, रहन-सहन आदि की झलक दर्शाती हैं।

 

उनका का मानना है कि ये गुडियाएं मूक-बधिर बच्चों का एक स्वरूप है। उन्होंने बताया कि गुडियां घर के जीर्ण-शीणह्म होने की स्थिति पर यहां नए कक्ष बनाने के साथ ही करीब 400 नई गुडियाओं को भी स्थान दिया गया है। उन्होंने बताया कि नए कक्ष बनाने के बाद अब डॉल्स म्यूजियम का क्षेत्रफल बढ़ गया है। दोनों कक्षों में नए शेल्फ, कूलिंग एवं लाइट सिस्टम, पर्यटकों के बैठने एवं सुलभ सुविधा की व्यवस्था भी की गई है। यहां की डॉल्स को मिट्टी से सुरक्षित रखने के लिए दोनों कक्षों को सेंट्रल एयरकंडीशन्ड किया गया है। पुरानी गुडियाओं को उनके विवरण एवं बैकग्राउड के साथ सजाकर लोकार्पित किया जाएगा। -एजेंसी

वास्तु शास्त्र के अनुसार ऑफिस में कुछ इस तरह का होना चाहिए कर्मचारियों के बैठने का स्थान



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.