काम को टालने की आदत से बचें

Samachar Jagat | Wednesday, 27 Mar 2019 01:12:23 PM
Avoid Habitat Avoidance

व्यक्ति  की अपने जीवन में इज्जत उसके द्वारा किए जाने वाले काम से ही होती है और इसमें उसका साथ निभाता है व्यवहार। जिस चीज से व्यक्ति आगे बढ़ता है जिस चीज से उसकी पहचान बनती है, जिस चीज से उसके व्यक्तित्व में निखार आता है जो चीज जिसको आगे ले जाती है यदि वह चीज के प्रति उदासीन हो जाए, उसकी परवाह नहीं करें, उसको हल्के में ले, उसके साथ न्याय नहीं करे, उसके भार को बढ़ जाने दे और उसे उस समय तक टालता रहे जब तक कि उसकी अंतिम चरम सीमा नहीं आ जाए तो फिर उसको उस काम में सफलता मिलने वाली नहीं है, इज्जत मिलने वाली नहीं है और उससे सुकून मिलने वाला नहीं है। आमतौर पर यह देखा जाता है कि व्यक्ति उसी समय सक्रिय होते हैं, जब किसी कार्य को करने की अंतिम तिथि है, एक अंतिम रेखा खिंची हुई है, बहुत समय तक टालते रहते हैं और यह टालने की आदत उसको बहुत बड़ी मुसीबत में फंसा सकती है।

काम को टालने का सीधा सा मतलब है अपने जीवन के प्रति उदासीन होना, अपने दायित्व के प्रति उदासीन होना, अपने अधीनस्थों के प्रति जवाबदेह नहीं होना और जीवन का बिना किसी सपने और लक्ष्य के होना। जब सच में ऐसा होता है तो फिर ऐसा व्यक्ति इधर धकेला इधर आ गया उधर धकेला उधर चला गया अर्थात् उसके जीवन में न समय का महत्व है न संकल्प का महत्व है, न कोई समर्पण का महत्व है और सरलता का, न सच्चाई का महत्व है और न साधना का और न ही सृजन का महत्व है और न ही सफलता का। ये सब इसीलिए हो पाते हैं कि व्यक्ति अपने कर्म के प्रति निष्ठावान नहीं बनता है, अपने कर्म से प्रेम नहीं करता है, उसे भार मानकर करता है, उसे करना है बस इसीलिए करता है और उस पर भी अंतिम तिथि और समय का इंतजार करता रहता है। 

जीवन काम से आगे बढ़ता है, जीवन काम से सार्थक बनता है, जीवन कर्म करते रहने से गतिशील बनता है, जीवन कर्म करते रहने से सक्रिय बनता है, जीवन कर्म करते रहने से उपयोगी बनता है, जीवन कर्म करते रहने से समय के साथ आगे बढ़ता है, समय के साथ कदम मिलाता है और जीवन सर्वहितकारी बनता है। बस अपना कर्म करते रहिएगा, उसकी अहमियत समझते रहिएगा, उससे प्रेम करते रहिएगा, उसको सम्मान देते रहिएगा, उसको बहुत अच्छे से चाव से सम्पन्न करते रहिएगा, उसे टालिएगा नहीं क्योंकि कर्म ही सबसे बड़ी कामयाबी है और कर्म की जिंदगी की खूबसूरत इबारत लिखता है।

प्रेरणा बिन्दु:- 
जिंदगी में कर्म ही एक
साथ तेरा निभाएगा।
देख लेना नाम तेरा
जुबां पर सबके आएगा।।



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2019 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.