सब्जेक्ट एक्सपर्ट के साथ लाइफ एक्सपर्ट भी बनें

Samachar Jagat | Thursday, 02 May 2019 04:16:57 PM
Become a Life Expert with Subject Expert

हर कहीं देखने सुनने को मिलता है कि वह अर्थशास्त्र में एक्सपर्ट है, मनोविज्ञान में एक्सपर्ट है, विदेश नीति में एक्सपर्ट है, क्रिकेट में एक्सपर्ट है, बोलने में एक्सपर्ट है, दौड़ने में एक्सपर्ट है, नाक-कान-गले में एक्सपर्ट है और भी न जाने किन क्षेत्रों में एक्सपर्ट मिल जाएंगे यहां-तहां-हर कहां लेकिन यह भी विडबंना ही कही जाएगी कि लाइफ में कितने लोग एक्सपर्ट मिलते हैं। किसी विषय विशेष में एक्सपर्ट होना बहुत अच्छा है लेकिन लाइफ में एक्सपर्ट होना सबसे अच्छी बात है।

Rawat Public School

 सब्जेक्ट एक्सपर्ट समाज देश और दुनिया को अपने अनुभव से, अपने ज्ञान से और अपने कर्मक्षेत्र से लाभान्वित कर सकता है, आर्थिक, सामाजिक और आध्यात्मिक उन्नति की ओर ले जा सकता है, अर्थात् व्यक्ति आर्थिक रूप से कैसे समृद्ध बने, कैसे अधिक पैसे कमाए, कैसे उसका सामाजिक उन्नयन हो और कैसे उसका जीवन चले, कैसे वह अपनी गृहस्थी का लालन-पालन करे और कैसे वह कोई धंधा शुरू करे, जीवन को आगे बढ़ाए, अपने ज्ञान में अभिवृद्धि करे।

सब्जेक्ट एक्सपर्ट बनने के साथ-साथ लाइफ एक्सपर्ट बनना सबसे जरूरी है क्योंकि लाइफ एक्सपर्ट का मतलब होता है कि मानव जीवन है क्या? मानव जीवन का मकसद क्या है? क्या इसका मकसद सिर्फ जन्म लेना, शिक्षा लेना, नौकरी पाना, शादी करना, गृहस्थी चलाना, अर्थाेपार्जन करना, नकल करना, दूसरों पर समय जाया करना और अपनी कमाई केवल अपने पर खर्च करना ही होता है।

सब वह अच्छे से जानते हैं कि मानव जीवन दुर्लभ है, यह परम सौभाग्यशाली को मिलता है, इसको सार्थक बनाना मनुष्य के स्वयं पर निर्भर करता है, इसको प्रसन्नताओं से भरना उसके स्वयं पर निर्भर करता है, इसको सर्वकल्याण में लगाना उसके स्वयं पर निर्भर करता है, सबको साथ लेकर चलना उसके स्वयं पर निर्भर है, अपने जीवन का बनाना उसके स्वयं पर निर्भर है लेकिन एक बात तय है कि मृत्यु की बात उसके अधीन नहीं है क्योंकि मृत्यु न तो उम्र देखती है, जाति-धर्म को भी वह अनदेखा कर देती है, धनवान-गरीब का भी वह कोई भेद नहीं करती है, दिन-रात, त्यौहार और समारोह भी उसके लिए कोई मायने नहीं रखते हैं अर्थात् वह कभी भी कहीं भी किसी के यहां आ सकती है। इसलिए लाइफ एक्सपर्ट, लाइफ मेकर बनने का संकल्प आपको मौत से निडर कर देगा।

प्रेरणा बिन्दु:- 
जिंदगी धुन गीत की है
जिंदगी सबसे प्रीत की है
शूल के पथ फूल होंगे
चलना ही शर्त जीत की है।
 



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

Copyright @ 2019 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.