अब तक 2014 से डेढ़ गुना ज्यादा राशि जब्त

Samachar Jagat | Tuesday, 16 Apr 2019 04:06:53 PM
Seized more than one and a half times rupees more than 2014

देश में लोकतंत्र के सबसे बड़े त्योहार की शुरुआत बीते सप्ताह में गुरुवार से हो गई। मगर इसमें मतदाताओं को भटकाने की कोशिशें भी कम नहीं हो रही है। चुनाव आयोग की सख्ती के बावजूद मतदाताओं को ललचाने के लिए नकदी, शराब, ड्रग्स व अन्य तोहफे देने की कोशिशें बड़े पैमाने पर की जा रही है। आयोग के आंकड़े बताते हैं कि नौ चरणों में हुए 2014 के लोकसभा चुनावों में जितनी कुल नकदी व अन्य चीजें जब्त नहीं की गई थी, उससे डेढ़ गुना ज्यादा तो पहले चरण के मतदान से पहले ही जब्त की जा चुकी है। मौजूदा लोकसभा चुनाव के पहले चरण तक जब्त की गई राशि में 528.9 करोड़ रुपए नकद बरामद किए गए हैं। इसके अलावा 426.8 करोड़ रुपए का सोना-चांदी पकड़ा गया है।

इसके साथ ही 725.3 करोड़ रुपए की ड्रग्स पकड़ी जा चुकी है। 186.1 करोड़ रुपए की 99.4 लाख लीटर शराब पकड़ी गई। यही नहीं 41.4 करोड़ रुपए के तोहफे पकड़े गए हैं। 2014 के चुनाव में 304 करोड़ रुपए नकद जब्त किए गए थे। इसके साथ ही पिछले चुनाव में 92 करोड़ रुपए की शराब पकड़ी गई थी। यही नहीं 804 करोड़ रुपए की ड्रग्स भी चुनाव आयोग ने पिछले चुनाव में जब्त की गई थी। जिन पांच राज्यों में सबसे ज्यादा नकदी और शराब व ड्रग्स पकड़ी गई है, उनमें उत्तर प्रदेश में 32.40 करोड़ रुपए नकद, 38.46 करोड़ लीटर शराब, ड्रग्स 22.4 करोड़ रुपए की, सोना-चांदी 68.63 करोड़ रुपए की इस प्रकार कुल 161.93 करोड़ रुपए की नगदी, शराब, सोना-चांदी और ड्रग्स पकड़ी गई है। बिहार में 4.27 करोड़ की नकदी, 0.86 करोड़ लीटर शराब, 61 करोड़ रुपए की ड्रग्स, 29 करोड़ रुपए की सोना पकड़ी गई।

दिल्ली में 3.126 करोड़ रुपए की नकदी पकड़ी गई। उत्तराखंड में 3.32 करोड़ नगदी, 2.8 करोड़ लीटर शराब, 0.76 करोड़ ड्रग्स और सोना-चांदी 0.21 करोड़ रुपए जब्त की गई। और 0.04 करोड़ रुपए के तोहफे कुल 7.13 करोड़ का सामान जब्त किया गया। झारखंड में 1.951 करोड़ रुपए की नगदी, शराब 1.76 करोड़ लीटर, ड्रग्स 0.005 करोड़, सोना-चांदी 0.28 करोड़ कुल 4.99 करोड़ की नकदी और सामान पकड़ा गया। चुनाव आयोग द्वारा की गई कार्रवाई में दक्षिण राज्यों में सोना-चांदी ज्यादा बरामद की गई है। दक्षिण राज्यों में चुनाव आयोग ने सबसे ज्यादा नकद राशि तमिलनाडु में 171.34 करोड़ रुपए बरामद किए जबकि सबसे कम उसी के पड़ोसी केंद्र शासित पुडुचेरी में 21 लाख रुपए जब्त किए गए। सोना-चांदी और अन्य कीमती तोहफे भी दक्षिण से ज्यादा पकड़े गए है। 

आंध्रप्रदेश में 118.69 करोड़ रुपए जब्त किए जा चुके हैं। इसके अलावा तेलंगाना में 45.18 करोड़ रुपए जब्त किए गए हैं। चुनाव आयोग ने पाकिस्तानी सीमा से सटे गुजरात और पंजाब से भारी मात्रा में नशीली दवाएं बरामद की है। करीब 725 करोड़ की कुल बरामदगी में से 625 करोड़ रुपए की नशीली दवाएं तो सिर्फ इन दो राज्यों से ही जब्त की गई है। इसमें 500.1 करोड़ रुपए की नशीली दवा गुजरात में जब्त की गई है, जबकि 125.78 करोड़ रुपए की ड्रग्स जब्त की गई। ड्रग्स के मामले में मणिपुर तीसरे नंबर पर है, जहां 28.67 करोड़ की ड्रग्स जब्त की गई है। 

चुनाव आयोग की सूचना के अनुसार 2018 से 5 विधानसभाओं के हुए चुनाव में सबसे अधिक नगदी, शराब और अन्य ड्रग्स तेलंगाना में 136.5 करोड़ के जब्त किए गए। दूसरे नंबर पर राजस्थान रहा जहां 13 करोड़ नकद, 54 करोड़ रुपए की शराब व 19.5 की ड्रग्स अफीम आदि कुल 86.5 करोड़ की जब्त की गई। इसी प्रकार मध्यप्रदेश में कुल 54 करोड़, छत्तीसगढ़ में 13 करोड़ और मिजोरम में 6 करोड़ रुपए नकदी, शराब और ड्रग्स जब्त किए गए हैं। नकदी, शराब और ड्रग्स की यह बरामदगी और जब्ती पहले चरण से पहले 9 अप्रैल 2019 तक के आंकड़े है। नकदी, शराब, सोना-चांदी और ड्रग्स की धरपकड़ जारी है।



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2019 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.