विचार और संस्कार संसार की धरोहर है

Samachar Jagat | Monday, 03 Sep 2018 11:12:08 AM
Thoughts and rites are the heritage of the world

जीवन की सफलता के लिए विचारों का बहुत महत्वपूर्ण स्थान होता है अर्थात् व्यक्ति के विचार ही उसकी असली धरोहर होते हैं। वह आज और कल अपने विचारों से ही जाना जाएगा और दुनिया में कैसा है-माना जाएगा। कुछ रचनात्मक विचार यहां दिए जा रहे हैं:-

खुद का ध्यान रखने वाले को व्यक्ति कहते हैं, परिवार का ध्यान रखने वाले को आदमी कहते हैं, समाज, देश और दुनिया का ध्यान रखने वाले को इंसान कहते हैं लेकिन सम्पूर्ण सृष्टि का ध्यान रखने वाले को भगवान कहते हैं। मां संस्कार देती है, प्यार आधार और जीवन का सार देती है लेकिन बच्चे आपा खो देते हैं दो चार बार मां बोलने पर ही लेकिन मां तो मां होती है जो हजार बार बेटा-बेटा पुकारती है।

अपनी संतान की वाह करने के लिए पिता रात के अंधेरों में मुसिबतों के फेरों की परवाह नहीं करता, तन को सलीके से नहीं ढक पाता, पेट की सलवटें तक नहीं खोल पाता है, उम्र के अंतिम पायदान तक सब कुछ लुटाता है बस केवल बोल नहीं पाता है।

 व्यवहार और कर्म से कोई किसी के दिल में उतर जाता है तो कोई किसी के दिल से उतर जाता है क्योंकि व्यक्ति का दिल तो दर्पण की तरह होता है जो टूटने पर टुकड़ों में बिखर जाता है। माइकल फेल्प्स ने संयोग से बीजिंग ओलम्पिक में आठ स्वर्ण पदक नहीं जीते बल्कि जुनून जज्बात, संकल्प और लगातार कड़े अभ्यास से जीते। जिस गति से आप चल रहे हैं यदि उसी गति से चलते रहोगे तो वहीं पहुंचोगे जहां पर रोज पहुंचते हैं, उससे आगे पहुंचने के लिए गति को तेज तो करना ही होगा।

तैरना सीखने के लिए पानी में प्रवेश करना ही होगा और समस्या के समाधान के लिए संघर्ष से ही सही उसकी गहराइयों में जाना ही होगा। वर्तमान में हमारी जो भी स्थिति-परिस्थिति है उसके लिए हमारा भूतकाल जिम्मेदार है और आज का काम भविष्य के नाम होगा। मनुष्य एक ऐसा गहरा महासागर है जिसकी गहराई में अनंत संभावनाएं हैं सफलताएं, क्षमताएं और योग्यताएं छिपी है कोई उन तक जाए तो सही। आगे बढ़ने वाला इसलिए आगे बढ़ता है कि उसका लक्ष्य उससे आगे रहता है, इसके अलावा दांये-बांये क्या घटित हो रहा है, उसकी नजर वहां तक नहीं जाती है।

प्रेरणा बिन्दु:- 
हवा चलती है तो पेड़ के पत्ते हिलते हैं, आंधी चलती है तो पेड़ की टहनियां हिलती है, तूफान चलता है तो पेड़ हिलते हैं, और जो तूफान को झेल जाते हैं उनसे तो पर्वत हिलते हैं।
 



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.