सभी धर्म शांति का संदेश देते हैं:राम नाईक

Samachar Jagat | Friday, 02 Nov 2018 12:54:44 PM
All religions give a message of peace: Ram Naik

लखनऊ।  उत्तर प्रदेश के राज्यपाल राम नाईक ने कहा कि सभी धर्मों के केन्द्र में शांति है और पवित्र किताबें शांति और सछ्वाव का संदेश देती हैं। 

नाईक गुरुवार को यहां के जाने‘माने आईटी कालेज द्वारा‘ट्रांससेन्डिग बाउंड्रीस फॉर पीस: मेङ्क्षकग पीस पीसफुली’विषय पर आयोजित संगोष्ठी को सम्बोधित कर रहे थे । उन्होंने कहा कि संगोष्ठी का शीर्षक अत्यंत सामयिक है। शांति की आवश्यकता पहले भी थी और आज भी है। सभी धर्मों के केन्द्र में शांति है। गीता, बाईबिल, वेद, कुरान, गुरू ग्रंथ साहिब जैसी पवित्र किताबें शांति और सछ्वाव का संदेश देती हैं। 

उन्होंने कहा कि भारतीय संस्कृति वसुधैव कुटुम्बकम् की परिचायक है। जब पूरा विश्व एक पूरा परिवार हो तो वहाँ झगड़ा नहीं प्रेम और शांति होगी। तेरा और मेरा का भाव संकुचित विचारधारा वाले करते हैं। विशाल हृदय वालों के लिये पूरा विश्व एक परिवार है। उन्होंने कहा कि हम आपसी संवाद से हर समस्या का समाधान कर सकते हैं।

नाईक ने आईटी कालेज की सराहना करते हुये कहा कि यह कालेज देश के शिक्षण संस्थानों में 40वें स्थान पर है। महिला शिक्षा के प्रचार-प्रसार में कालेज की महत्वपूर्ण भूमिका रही है। इस 22 करोड़ की आबादी वाले प्रदेश में महिला शिक्षा अपने आप में महत्वपूर्ण है। महिला शिक्षा को लेकर उत्तर प्रदेश में नया चित्र देखने को मिल रहा है। अब तक 22 विश्वविद्यालयों के दीक्षान्त सम्पन्न हो चुके हैं, जिनके माध्यम से लगभग 15 लाख 97 हजार विद्यार्थियों को उपाधियाँ प्रदान की गई है, जिसमें 52 प्रतिशत उपाधियाँ बेटियों ने प्राप्त की हैं।

उन्होंने कहा कि 22 विश्वविद्यालय में अब तक 1,437 पदक प्रदान किये गये हैं, जिसमें 978 यानी 68 प्रतिशत पदक छात्राओं ने तथा 459 यानि 32 प्रतिशत पदक छात्रों ने अर्जित किये हैं। गत वर्ष की तुलना में इस वर्ष लड़कियों का प्रतिशत और बढ़ा है। समय बदला है बेटियां आगे बढ़ रही हैं। उत्कृष्ट प्रदर्शन कर पदक प्राप्त करने में आंबेडकर विश्वविद्यालय आगरा में लड़कियों का 85 प्रतिशत, दीनदयाल उपाध्याय विश्वविद्यालय गोरखपुर में 82 प्रतिशत, शाहूजी महाराज कानपुर विश्वविद्यालय में 81 प्रतिशत तथा महात्मा गांधी विद्यापीठ काशी में 81 प्रतिशत हिस्सा रहा है। उत्तर प्रदेश में महिलाओं की शिक्षा का प्रतिशत बढ़ाने का श्रेय पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के‘सर्व शिक्षा अभियान’और वर्तमान प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के‘बेटी बचाओ - बेटी पढ़ाओ’को जाता है।

इस अवसर पर पूर्व मंत्री डॉ0 अम्मार रि•वी, बिशप डॉ0 फिलिप्स मसीह, ग्लोबल एजुकेशन के महासचिव डॉ0 अमॉस नासिमेन्टो, डॉ0 फ्लोरिटा वी0 मिरिन्डा, विभिन्न देशों से आये प्रतिनिधिगण व कालेज के शिक्षकगण उपस्थित थे। इस मौके पर बिशप डॉ0 फिलिप्स मसीह ने राज्यपाल को शॉल और स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया। कार्यक्रम में डॉ0 फ्लोरिटा, डॉ0 ई0एस0 चाल्र्स और डॉ0 वंदना ने भी अपने विचार रखे।
एजेंसी



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2019 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.