कांग्रेस सरकार ने हाड़ौती की उपेक्षा की-वसुन्धरा

Samachar Jagat | Saturday, 15 Sep 2018 10:44:50 AM
Congress government ignored Harvada- Vasundhara

जयपुर।  राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुन्धरा राजे ने पूर्ववर्ती कांग्रेस सरकार पर हाड़ौती क्षेत्र की उपेक्षा करने आरोप लगाया हैं। राजे आज झालावाड़ जिले के डग तथा कोटा के रामगंजमंडी कस्बे में आयोजित सभाओं को सम्बोधित करते हुए कहा कि कांग्रेस के लिए राजस्थान हाड़ौती की सीमा पर ही खत्म हो जाता है। जब-जब भी कांग्रेस की सरकारें आई उसने हाड़ौती क्षेत्र की उपेक्षा की। उन्होंने हाड़ौती से अपना तीस साल का मजबूत रिश्ता बताते हुए कहा कि इस अवधि में उन्होंने कई उतार-चढ़ाव देखे हैं, लेकिन यहां के लोग ढाल बनकर हमेशा उनके साथ खड़े रहे। 

उन्होंने कहा कि हमने केवल चुनाव तक ही भाजपा और कांग्रेस की लड़ाई लड़ी। इसके बाद हमने प्रदेश की सभी कौम को गले लगाया और बिना किसी भेदभाव के पूरे प्रदेश का विकास किया। पहले टैक्स, उसके बाद वेट और अब जीएसटी को न्याय संगत कर हमारी सरकार ने कोटा स्टोन उद्योग को संरक्षण देने का काम किया है। 

मुख्यमंत्री ने कहा कि विधानसभा जनता की आवाज उठाने का एक सशक्त मंच होता है। लेकिन पांच साल गायब रहकर आज एकाएक चुनाव के समय नजर आने वालों ने विधानसभा में जनता के लिए एक शब्द भी नहीं बोला। पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत का नाम लिए बिना उन्होंने कहा कि दो बार मुख्यमंत्री रह चुके व्यक्ति विधानसभा में जनता की आवाज नहीं उठाये और चुनाव आते ही बाहर निकल आये। इसी से स्पष्ट है कि इन लोगों का जनता से कोई लेना-देना नहीं है। 

राजे ने कहा जब कांग्रेस की सरकार थी तब विकास इनकी प्राथमिकता नहीं थी। कहते थे हमारे पास पैसा नहीं है इसलिए विकास नहीं करा सकते। मैं कहती हूं उनके पास पैसों की नहीं विकास के लिए ²ढ़ इच्छा शक्ति की कमी थी। हमने कभी नहीं कहा कि हमारे पास पैसा नहीं है। जनता ने जो भी वाजिब काम बताया वह हमने किया। उन्होंने कहा कि आज चुनाव के वक्त पेट्रोल-डीजल की कीमतों को लेकर हल्ला मचा रहे हैं जबकि वर्तमान राजस्थान सरकार ने इतिहास में पहली बार डीजल-पेट्रोल के दामों में इतनी कमी की है। 
एजेंसी



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.