राफेल और एके-103 राइफल खरीद में सरकार का दोहरा मापदंड : कांग्रेस

Samachar Jagat | Wednesday, 05 Sep 2018 06:52:57 PM
Government double standards for Rafael and AK-103 rifle purchases: Congress

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures

नई दिल्ली। कांग्रेस ने आरोप लगाया है कि सरकार फ्रांस के साथ राफेल लड़ाकू विमान खरीद और रूस के साथ ए के-103 राइफल खरीद सौदे में दोहरा मापदंड अपना रही है और उसे बताना चाहिए कि किस सौदे में रक्षा खरीद नियमों का उल्लंघन किया गया है।

सहारनपुर-दिल्ली फोरलेन मार्ग का 11 सितम्बर को गडक़री करेंगे शिलान्यास 

कांग्रेस प्रवक्ता अभिषेक मनु सिघवी ने बुधवार को यहां पार्टी की नियमित प्रेस ब्रीफिंग में कहा कि मीडिया की खबरों के अनुसार रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने सेना के लिए 3000 करोड़ रुपए के एके-103 राइफल सौदे में निजी कंपनी को ऑफसेट ठेका देने से रूस के अनुरोध को यह कहते हुए ठुकरा दिया कि यह दो सरकारों के बीच हुआ सौदा है और इसमें निजी कंपनी को ऑफसेट काम देने की इजाजत नहीं है। 

पश्चिम बंगाल में पुलों की स्थिति पर रिपोर्ट के लिए उच्च न्यायालय से हस्तक्षेप का आग्रह 

रूस को यह भी बताया गया कि रक्षा खरीद नियम के तहत सिर्फ सार्वजनिक क्षेत्र की कंपनी ही इसके लिए अधिकृत है। निजी कंपनी को इसमें सहयोगी बनना है तो इसके लिए अलग से निविदा भरनी पड़ेगी। 

2019 लोकसभा चुनाव:टीएमसी, बीजेपी सोशल मीडिया पर सक्रियता बढ़ाएंगे 

उन्होंने कहा कि मोदी सरकार को बताना चाहिए कि जिन नियमों का हवाला देकर उसने रूस को एके-103 राइफलों का ऑफसेट ठेका निजी कंपनी को देने से इनकार किया है क्या रक्षा सौदा खरीद का यह नियम राफेल लड़ाकू विमान सौदे में लागू नहीं होता है। यदि इस नियम का पालन एके-103 की खरीद के साथ किया जाता है तो राफेल लड़ाकू विमान सौदे में निजी कंपनी को ऑफसेट ठेका किस आधार पर दिया गया है।

प्रवक्ता ने आरोप लगाया कि अब साफ हो गया है कि राफेल या फिर एके-103 राइफ खरीद में सरकार झूठ बोल रही है और दोहरा मापदंड अपना रही है। सरकार को अब स्पष्ट करना चाहिए कि रक्षा खरीद नियमों का उल्लंघन इनमें से किस सौदे में हुआ है।

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures


 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!



Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.