उप्र की तरह शक्ति संतुलन कायम करें दक्षिण भारत के पार्टी नेता : मायावती

Samachar Jagat | Friday, 30 Aug 2019 11:57:52 AM
Maintain the balance of power like Uttar Pradesh's party leaders: Mayawati

लखनऊ। बहुजन समाज पार्टी सुप्रीमो मायावती ने गुरूवार को दक्षिण भारत के राज्यों के पार्टी नेताओं को उत्तर प्रदेश के पैटर्न पर चलकर कैडर के माध्यम से अपनी शक्ति बढ़ाकर शक्ति संतुलन कायम करने की कोशिश करने को कहा है।


loading...

मायावती ने दक्षिण भारत के पाँच राज्यों तमिलनाडू, केरल, कर्नाटक, आंध्र प्रदेश व तेलांगना के पदाधिकारियों के साथ आज बैठक में पार्टी संगठन के कार्यकलापों की गहन समीक्षा की तथा इस दौरान आई कमियों,खामियों को दूर करने के लिए पार्टी संगठन में कुछ जरूरी परिवर्तन, फेरबदल किया।

पार्टी द्वारा जारी एक बयान में गुरूवार को कहा गया कि इन राज्यों का प्रतिनिधिमण्डल बसपा की केन्द्रीय कार्यसमिति की आल-इण्डिया की बैठक में भाग लेने के लिए इन दिनों यहाँ लखनऊ आया हुआ है और उस बैठक की समाप्ति के बाद मायावती द्वारा की जा रही राज्यवार समीक्षाओं के दौरान आज दक्षिण भारत के राज्यों की समीक्षा बैठक हुई।

समीक्षा बैठक में पार्टी संगठन की तैयारियों व कैडर कार्यक्रमों की प्रगति रिपोर्ट लेने के बाद मायावती ने कहा कि बसपा एक राजनीतिक पार्टी के साथ-साथ आत्म-सम्मान व स्वाभिमान का एक अम्बेडकरवादी आंदोलन भी है।

उन्होंने कहा कि दक्षिण भारत के राज्यों को भी उप्र के पैटर्न पर ही कैडर के आधार पर चलकर अपनी शक्ति बढ़ाकर पहले शक्ति संतुलन कायम करने की कोशिश करनी चाहिए। 

दक्षिणी भारत के इन राज्यों में बाढ़ के कारण भयानक तबाही का उल्लेख करते हुए मायावती ने पार्टी के लोगों से कहा कि वे गरीबों व अति-जरूरतमन्दों की हर प्रकार से मदद करने की कोशिश करें। -(एजेंसी)
 



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!




Copyright @ 2019 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.