प्रचार से बैन हटते ही मायावती का ट्विटर पर फूटा गुस्सा, योगी के प्रति चुनाव आयोग मेहरबान क्यों?

Samachar Jagat | Thursday, 18 Apr 2019 01:42:47 PM
Mayawati's twitter blows out of propaganda by Ban

नई दिल्ली। बसपा सुप्रीमो मायावती ने सहारनुपर की देवबंद रैली में मुस्लिम समुदाय से वोट मांगकर आचार संहिता का उल्लंघन करने का आरोप था। इस वजह से चुनाव आयोग ने उन पर 48 घंटे तक प्रचार की रोक लगाई थी। यह समय सीमा खत्म होते ही मायावती ने ट्विटर पर एक के बाद एक ट्वीट किए। अपने ट्वीट में मायावती ने कांग्रेस, भाजपा और मोदी को निशाने पर लिया।

 

मायावती ने ट्वीट करते हुए लिखा कि आज दूसरे चरण का मतदान है और बीजेपी व पीएम श्री मोदी उसी प्रकार से नरवस व घबराए लगते हैं जैसे पिछले लोकसभा चुनाव में हार के डर से कांग्रेस व्यथित व व्याकुल थी। इसकी असली वजह सर्वसमाज के गरीबों, मजदूरों, किसानों के साथ-साथ इनकी दलित, पिछड़ा व मुस्लिम विरोधी संकीर्ण सोच व कर्म है।

 


तो वहीं अपने दूसरे ट्वीट में लिखा कि चुनाव आयोग की पाबंदी का खुला उल्लंघन करके यूपी के सीएम योगी शहर- शहर व मन्दिरों में जाकर एवं दलित के घर बाहर का खाना खाने आदि का ड्रामा करके तथा उसको मीडिया में प्रचारित/प्रसारित करवाके चुनावी लाभ लेने का गलत प्रयास लगातार कर रहे हैं किन्तु आयोग उनके प्रति मेहरबान है, क्यों?

 


तो वहीं मायावती ने एक और ट्वीट करते हुए कहा कि अगर ऐसा ही भेदभाव व बीजेपी नेताओं के प्रति चुनाव आयोग की अनदेखी व गलत मेहरबानी जारी रहेगी तो फिर इस चुनाव का स्वतंत्र व निष्पक्ष होना असंभव है। इन मामलों मे जनता की बेचैनी का समाधान कैसे होगा? बीजेपी नेतृत्व आज भी वैसी ही मनमानी करने पर तुला है जैसा वह अबतक करता आया है, क्यों?


 



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2019 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.