भाजपा शासन में उन्नाव की दुष्कर्म पीड़तिा को न्याय मिलने की उम्मीद नही : अखिलेश

Samachar Jagat | Tuesday, 30 Jul 2019 12:15:20 PM
Untimed misbehavior in BJP government, victim not expected to get justice: Akhilesh

लखनऊ। समाजवादी पार्टी(सपा) अध्यक्ष अखिलेश यादव ने आरोप लगाया है कि भारतीय जनता पार्टी(भाजपा) के शासन में उन्नाव की दुष्कर्म पीडि़ता को न्याय मिलने की उम्मीद नहीं है। 

यादव ने मंगलवार को यहां जारी बयान में कहा कि पीडि़ता को मिले सुरक्षा कर्मियों को क्लीन चिट दी जा रही है जबकि उन्हें अपनी ड्यूटी के तहत उसके साथ जाना था। इस गंभीर मामले की निष्पक्ष न्याय के लिए केन्द्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) जांच होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि आरोपित भाजपा विधायक को उत्तर प्रदेश से बाहर किसी जेल में भेजा जाना चाहिये। 

इस घटना में पीडि़ता तथा उसका वकील गंभीर रूप से घायल हैं। पीडि़ता की मौसी और चाची की मृृत्यु हो गई है। संदेह का कारण यह भी है कि पहले इस काण्ड के एक गवाह की जान जा चुकी है। आरोपी भाजपा विधायक अब भी पीडि़त परिवार को धमकियाँ दे रहा है।

सपा अध्यक्ष ने कहा कि पीडि़ता के साथ बहुत अन्याय हुआ है। सरकार तो तब चेती जब आठ अप्रैल 2018 को उसने मुख्यमंत्री आवास के पास आत्मदाह का प्रयास किया। रविवार को हुई घटना में तो पीडि़ता बच तो गई है लेकिन उसकी जान खतरे में है। उसे गंभीर चोटें है।

यादव ने कहा है कि पुलिस अधिकारी सरकार की भाषा बोल रहे हैं। उन्हें पीडि़त बेटी की बात भी सुननी चाहिए। उन्होने कहा कि हत्या की जांच किसी निष्पक्ष एजेंसी से ही की जा सकती है। अधिकारियों को न्याय करना चाहिए।

गौरतलब है कि उत्तर प्रदेश के रायबरेली जिले में रविवार को हुई सडक़ दुर्घटना में उन्नाव रेप पीड़तिा की मौसी और चाची की मृत्यु हो गई थी जबकि पीड़तिा और उसका वकील गंभीर रूप से घायल हो गये थे। पीड़तिा कार से परिवार के लोगों के साथ रायबरेली जेल में बंद अपने रिश्तेदार से मिलने जा रहे थी। गुरुबक्शगंज क्षेत्र में रायबरेली-बांदा हाईवे पर सुल्तानपुर खेड़ा मोड़ के पास ट्रक ने कार को टक्कर मार दी। -(एजेंसी)



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2019 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.