वाजपेयी के अंतिम दर्शन के लिए पहुंची कई हस्तियां, भाजपा मुख्यालय रखा गया पार्थिव शरीर

Samachar Jagat | Friday, 17 Aug 2018 11:15:12 AM
Vajpayee's final vision was felt for people

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures

नई दिल्ली। अपने प्रिय नेता के अंतिम दर्शन के लिए सुबह से ही सैकड़ों की संख्या में लोग पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के आवास पर पहुंचे। नई दिल्ली के लुटियंस जोन में कृष्णा मेनन मार्ग पर स्थित बंगला नंबर 6-ए के आसपास सुरक्षा का भारी बंदोबस्त है। पुलिस और यातायात पुलिस के साथ-साथ वहां अर्द्धसैनिक बलों के जवानों की भी तैनाती की गयी है।

कारगिल से कंधार तक वाजपेयी ने बड़ी सुरक्षा चुनौतियों का किया सामना, इन उपलब्धियों को हर कोई रखेगा याद 

सुरक्षा अधिकारियों के मुताबिक, वाजपेयी के अंतिम दर्शन के लिए उनके आवास के दरवाजे सुबह करीब साढ़े सात बजे खोले गए। बाद में वाजपेयी का पार्थिव शरीर भारतीय जनता पार्टी के दीन दयाल उपाध्याय मार्ग स्थित नव-निर्मित मुख्यालय पर ले जाया गया। 'राष्ट्रीय स्मृति’ स्थल के लिए उनकी अंतिम यात्रा दोपहर एक बजे शुरू होगी। लंबी बीमारी के बाद कल एम्स में वाजपेयी का निधन हो गया। वह 93 वर्ष के थे।

वाजपेयी के कार्यकाल में बगैर परेशानी के बने थे तीन नए राज्य, भाजपा के ही नहीं, देश के उम्दा नेताओं में थे शुमार 

सुबह कृष्णा मेनन मार्ग पहुंचने वालों में शामिल 52 वर्षीय योगेश कुमार उत्तराखंड के उत्तरकाशी से अपने नेता के अंतिम दर्शन को आये हैं। लोग पूरी रात यात्रा करके दिल्ली आये हैं ताकि अपने नेता को एक अंतिम बार देख सकें।

कुमार का दावा है, ''1984 में जब वाजपेयी जी गंगोत्री जाने के दौरान उत्तरकाशी में रूके थे, तब मैं उनसे मिला था। 1986 में वह फिर से उत्तरकाशी आये।’’ कुमार अपने साथ याद के रूप में अपनी और वाजपेयी जी की तस्वीर लेकर आए हैं। उनका कहना है, मैं अपने साथ गंगोत्री से गंगाजल लेकर आया हूं। आशा करता हूं कि उन्हें अंतिम बार देख सकूंगा।

वही अटल बिहारी वाजपेयी के पार्थिव शरीर को भाजपा मुख्यालय में रखा गया। वाजपेयी के पार्थिव शरीर को तिरंगे में लपेट कर रखा गया है। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सहित सभी राज्यों के मुख्यमंत्रियों और मंत्रियों ने पहुंचकर अंतिम दर्शन किया। रिपोर्ट्स के अनुसार इस दौरान नरेंद्र मोदी और भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह साथ रहेें। वाजपेयी के अंतिम दर्शन करने के लिए कई हस्तियां पहुंची। 

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures


 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!



Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.