योगेंद्र यादव को कांग्रेस पर टिप्पणी करने का नैतिक अधिकार नहीं-गहलोत

Samachar Jagat | Tuesday, 21 May 2019 09:43:34 AM
Yogendra Yadav does not have the moral right to comment on Congress- Gehlot

जयपुर। राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने राजनीतिक विश्लेषक और स्वराज इंडिया के प्रमुख योगेंद्र यादव की कांग्रेस पर की गई टिप्पणी की आलोचना करते हुए कहा कि उन्हें कांग्रेस पर टिप्पणी करने का नैतिक अधिकार नहीं है।

गहलोत ने आज रात  ट्वीट करते हुए कहा कि यूपीए के दूसरे कार्यकाल के दौरान अन्ना हजारे, बाबा रामदेव, अरविन्द केजरीवाल, किरण बेदी सहित जिन लोगों ने कांग्रेस सरकार की छवि को धूमिल किया, उनमें योगेंद्र यादव भी शामिल थे। वह उस समय जिस प्रकार से आरएसएस-बीजेपी के षड्यंत्र का शिकार हुए, उसके बाद यादव को कांग्रेस के बारे में टिप्पणी करने का कोई नैतिक अधिकार नहीं है। उनके शब्द बेहद निंदनीय हैं।

उन्होंने कहा कि आइडिया ऑफ इण्डिया के लिए कांग्रेस का संघर्ष आरम्भ से है तभी आज भारत का लोकतंत्र कायम है। श्री गहलोत ने कहा कि गांधी, नेहरू,पटेल, मौलाना आजाद, अम्बेडकर के सिद्धांतों को लेकर चलने वाली देश की सबसे पुरानी पार्टी कांग्रेस ने अपने संघर्ष, सकारात्मक योगदान से न केवल इतिहास में राष्ट्र निर्माण में अपनी भूमिका निभाई बल्कि देश को अखण्ड भी रखा और इसके लिए इंदिरा जी, राजीव जी ने अपनी कुर्बानी तक दे दी।

उल्लेखनीय है कि एक्जिट पोल आने के बाद यादव ने एक टीवी चैनल पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा कि अगर कांग्रेस इस चुनाव में भाजपा को रोक पाने में सफल नहीं हो पाती है, तो उसे अवश्य ही मर जाना चाहिए। उन्होंने यह भी कि कांग्रेस की भारतीय इतिहास में सकारात्मक भूमिका नहीं रही है। वर्तमान में देश में विकल्प के रूप में एक गैर कांग्रेसी मजबूत विपक्ष की सख्त जरूरत है, लेकिन राहुल गांधी के नेतृत्व वाली कांग्रेस इसमें एक मात्र सबसे बड़ी बाधा है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस अब देश के लिये गैर जरूरी हो गई है। यादव ने कहा कि उन्होंने यह प्रतिक्रिया सोच समझकर की है। एजेंसी



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2019 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.