इस शुभ मुहूर्त में करे जन्माष्टमी पूजन

Samachar Jagat | Thursday, 22 Aug 2019 02:49:33 PM
Do Janmashtami worship in this auspicious time

इंटरनेट डेस्क  भादो मास में शुरु होने वाला कृष्ण जन्माष्टमी का पर्व बड़े धूमधाम से मनाया जाता है। इस दिन व्यक्ति भगवान श्री कृष्ण की कृपा पाने के लिए उपवास और वर्त करते है। हर साल श्री कृष्ण जन्माष्टी का पर्व देश ही नही पूरी दुनिया में हर्ष और उल्लास से मनाया जाता है।इस वर्ष जन्माष्टमी का पर्व 24 अगस्त को मनाई जाऐगी।


loading...

कृष्ण जन्माष्टमी के शुभ मुहूर्त के बारे में एक  पंडित ने बताया कि 23 अगस्त शुक्रवार को सप्तमी तिथि के साथ अष्टमी तिथि शुरु हो जाती है। इस दिन जन्माष्टमी नही मनाई जाती है क्योंकि 23 अगस्त को रोहिणी नक्षत्र का शुभ संयोग नही हो रहा है। कृष्ण जन्माष्टमी का पर्व हमेशा रोहिणी नक्षत्र में मनाना शुभ माना जाता है। इस बार रोहिणी नक्षत्र 24 अगस्त को है। जिसकी शुरुआत ब्रह्म मुहूर्त में 3 बजकर 48 मिनिट पर होगी। इसी दिन रात्रि को 11 बजकर 56 मिनट से लेकर कृष्ण जन्म के बाद मध्य रात्रि तक विधि-विधान से योगेश्वर श्रीकृष्ण का पूजन अर्चन कर उनकी कृपा के अधिकारी बन सकते है।

क्योकि जगत पालक भगवान विष्णु जी के अवतार, वासुदेव-देवकी की आठवी संतान और मैया यशोदा व नंद के लाल कान्हा का जन्म भादो मास के कृष्ण पक्ष की अष्टमी तिथि को रोहिणी दशरात्र में द्वापर युग में धर्म की रक्षा के लिए हुआ था

 



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!




Copyright @ 2019 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.