वीनस को हराने के बाद 15 वर्षीय गौफ ने कहा, मेरा लक्ष्य विंबलडन जीतना

Samachar Jagat | Tuesday, 02 Jul 2019 10:21:54 AM
After defeating Venus, Gauf, 15, said, My goal is to win Wimbledon

लंदन। कोरी गौफ का जब जन्म हुआ तब तक वीनस विलियम्स विंबलडन में दो एकल खिताब जीत चुकी थी और अब पांच बार की चैंपियन को पहले दौर में हराने के बाद इस 15 वर्षीय किशोरी का लक्ष्य यह ग्रैंडस्लैम टेनिस टूर्नामेंट जीतकर इतिहास रचना है।

अमेरिका की किशोरी हमवतन वीनस के खिलाफ किसी तरह की परेशानी में नहीं दिखी। विश्व में 313वें नंबर की गौफ ने अपने से 24 वर्ष बड़ी वीनस को आसानी से 6-4, 6-4 से हराया। इसके बाद गौफ ने टूर्नामेंट को लेकर अपनी महत्वकांक्षाओं को भी नहीं छिपाया। 

गौफ ने कहा कि मेरा लक्ष्य यहां खिताब जीतना है। मैं पहले भी यह कह चुकी हूं। मैं महानतम बनना चाहती हूं। जब मैं आठ साल की थी तो मेरे पिताजी ने कहा था कि मैं ऐसा कर सकती हूं। उन्होंने कहा कि मैं अब भी यह चाहती हूं, भले ही शत प्रतिशत आश्वस्त नहीं हूं।

लेकिन आप नहीं जानते कि कब क्या हो जाए। टेनिस से इतर रिहाना और बियोन्स को अपना रोल मॉडल मानने वाली गौफ ने कहा कि वीनस बचपन से ही उनकी आदर्श रही हैं लेकिन कोर्ट पर उन्होंने ऐसी भावनाएं हावी नहीं होने दी। गौफ ने वीनस और उनकी छोटी बहन सेरेना को देखकर टेनिस को अपनाया था। वीनस ने भी माना कि गौफ काफी आगे जा सकती है। 



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2019 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.