हसीब-कुक की मजबूत साझेदारी से ड्रॉ की और राजकोट टेस्ट

Samachar Jagat | Sunday, 13 Nov 2016 08:25:00 AM
हसीब-कुक की मजबूत साझेदारी से ड्रॉ की और राजकोट टेस्ट

राजकोट । इंग्लैंड की सलामी जोड़ी ने अटूट शतकीय साझेदारी की जिससे टेस्ट चौथे दिन ड्रा की ओर बढ़ रहा है। इंग्लैंड के पहली पारी के 537 रन के जवाब में भारत ने 488 रन बनाए और इस तरह मेहमान टीम को 49 रन की बढ़त हासिल की। इंग्लैंड के सलामी बल्लेबाजों हसीब हमीद (नाबाद 62) और कप्तान एलिस्टेयर कुक (नाबाद 46) ने इसके बाद 37 ओवर में 114 रन जोड़कर टीम की बढ़त को 163 रन तक पहुंचाया।

मैच में अब सिर्फ एक दिन का खेल बचा है और पिच से धीमा टर्न मिल रहा है जिससे नतीजा निकलना आसान नहीं होगा और मैच ड्रा की ओर बढ़ रहा है। कुक अपनी पारी में 107 गेंद का सामना करते हुए तीन चौके जड़े हैं। हमीद ने पदार्पण मैच में अर्धशतक जड़ा। उनकी 115 गेंद की पारी में अब तक पांच चौके और एक छक्का शामिल है। पिच अधिक नहीं टूटी है जिससे ड्रा की उम्मीद अधिक है। इंग्लैंड हालांकि कल पारी घोषित करने का साहसिक फैसला करके जीत के लिए खेलने की कोशिश कर सकता है।
 
सुबह भारत ने दिन की शुरूआत चार विकेट पर 319 रन से की और नियमित अंतराल पर विकेट गंवाए। रविचंद्रन अश्विन (70) और रिद्धिमान साहा (35) ने हालांकि बीच में सातवें विकेट के लिए 64 रन की साझेदारी की। अश्विन ने अपनी पारी में 139 गेंद का सामना करते हुए सात चौके जड़े।

आदिल राशिद (114 रन पर चार विकेट), जफर अंसारी (77 रन पर दो विकेट) और मोईन अली (85 रन पर दो विकेट) की मेहमान टीम की स्पिन तिकड़ी ने एससीए स्टेडियम की टूटती पिच का पूरा फायदा उठाते हुए भारतीय पारी को चाय से ठीक पहले 488 रन पर समेटा।

भारत ने पहले सत्र में अजिंक्य रहाणे (13) और कप्तान विराट कोहली (40) के विकेट जल्दी गंवा दिए। अश्विन, साहा, स्थानीय खिलाड़ी रविंद्र जडेजा (12) और उमेश यादव (05) दूसरे सत्र में आउट हुए। ये सभी विकेट स्पिनरों ने लिए। अपने 40वें टेस्ट में करियर का सातवां और इंग्लैंड के खिलाफ तीसरा अर्धशतक जड़ने वाले अश्विन आउट होने वाले अंतिम बल्लेबाज रहे। वह मोहम्मद शमी (08) के साथ अंतिम विकेट के लिए 29 रन जोड़ने के बाद मोईन की गेंद पर अंसारी को कैच दे बैठे।

सुबह भारत ने 17 गेंद में रहाणे और कोहली के विकेट गंवाए। कोहली 65 साल से भी अधिक समय में हिट विकेट आउट होने वाले पहले भारतीय कप्तान बने। कल रात स्पिन गेंदबाजी के खिलाफ चार गेंद में दो विकेट गंवाने के बाद भारत ने आज सुबह तेज गेंदबाजों के खिलाफ आधे घंटे तक कोई विकेट नहीं गंवाया।

रहाणे और कोहली दोनों ने इसके बाद उस विकेट पर स्पिनरों के खिलाफ पुल शाट खेलते हुए विकेट गंवाए जहां पैर के निशान और दरारें बढ़ने के कारण कई गेंद काफी स्पिन और उछाल ले रही हैं। रहाणे बायें हाथ के स्पिनर अंसारी की गेंद को बैकफुट पर पुल करने की कोशिश में बोल्ड हो गए।

कोहली जम चुके थे और जोखिम भरे शाट नहीं खेल रहे थे लेकिन वह लेग स्पिनर राशिद की गेंद को पुल करने के लिए काफी पीछे चले गए और इस दौरान उनका पैर स्टंप से टकरा गया और बेल्स गिर गई। चेन्नई में चेपक में 1948-49 में वेस्टइंडीज के ट्रेवर गोडार्ड की गेंद पर लाला अमरनाथ के हिट विकेट होने के बाद कोहली इस तरह आउट होने वाले पहले भारतीय कप्तान हैं।

कोहली हिट विकेट आउट होने वाले 22वें भारतीय बल्लेबाज हैं। लाला के बेटे मोहिंदर अमरनाथ तीन बार इस तरह आउट हुए। भारतीय बल्लेबाजों में पिछली बार वीवीएस लक्ष्मण सेंट जोंस के एंटीगा में वेस्टइंडीज के खिलाफ 2002 में इस तरह आउट हुए थे। भारत ने 17 गेंद के भीतर दो विकेट गंवाए जिससे उसका स्कोर छह विकेट पर 361 रन हो गया। अश्विन और साहा पर इससे काफी दबाव बढ़ गया।

अश्विन ने ठोस बल्लेबाजी की। उन्होंने अंसारी पर स्क्वायर कट से चौका भी जड़ा। साहा को शुरूआत में परेशानी हुई। बेन स्टोक्स की गेंद ने उनके बल्ले का किनारा लिया लेकिन विकेटकीपर जानी बेयरस्टा के दस्तानों तक नहीं पहुंची। स्पिनरों के खिलाफ हालांकि उन्हें कोई परेशानी नहीं हुई और उन्होंने राशिद पर सीधा छक्का भी जड़ा। दोनों ने लंच तक टीम का स्कोर छह विकेट पर 411 रन तक पहुंचाया। 

दूसरे सत्र में साहा हालांकि मोईन की गेंद को कट करने की कोशिश में विकेटकीपर को कैच दे बैठे जिससे अश्विन के साथ उनकी 64 रन की साझेदारी का अंत हुआ। जडेजा ने मोईन पर छक्का जड़ा लेकिन राशिद की गेंद पर हसीब हमीद को कैच दे बैठे। उमेश यादव ने राशिद की गेंद पर स्टोक्स को कैच थमाया। अश्विन ने एक रन के साथ भारतीय सरजमीं पर अपना चौथा अर्धशतक पूरा किया। उन्होंने शमी के साथ मिलकर इंग्लैंड की बढ़त को 50 रन से कम किया।

दूसरी पारी में कुक और हमीद को भारत के तेज गेंदबाजी और स्पिन मिश्रित आक्रमण का सामना करते में अधिक परेशानी नहीं हुई। कुक हालांकि सात रन के स्कोर पर भाग्यशाली रहे जबकि शमी की गेंद को पुल कने की कोशिश में लांग लेग पर चेतेश्वर पुजारा ने उनका कैच लगभग पकड़ ही लिया था।

भारतीय स्पिनरों ने 37 में से 26 ओवर फेंके लेकिन सफलता नहीं मिली। अश्विन (10 ओवर में 32 रन) और जडेजा (10 ओवर में 33 रन) को उछाल और टर्न मिल रहा था लेकिन यह मुश्किल में डालने वाला नहीं था। अमित मिश्रा (छह ओवर में 19 रन) की गति एक बार फिर धीमी लगी।

हमीद ने कुक के साथ मिलकर 15वें ओवर में टीम का स्कोर 50 रन तक पहुंचाया। उन्नीस साल का यह बल्लेबाज सिर्फ एक बार अर्धशतक पूरा करने से पहले परेशानी में दिखा। उन्होंने अश्विन की गेंद पर कोई शाट नहीं खेला और गेंद उनके पैड पर लगी। इस अपील को अंपायर ने ठुकरा दिया। भारत ने डीआरएस लिया लेकिन गेंद आफ स्टंप से बाहर थी और वह नाटआउट करार दिए गए।

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर
ज्योतिष

Copyright @ 2016 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.