fifa world cup: ब्राजील को बाहर कर बेल्जियम 32 साल बाद सेमीफाइनल में

Samachar Jagat | Saturday, 07 Jul 2018 11:43:43 AM
fifa world cup: Belgium eliminates Brazil, advances to World Cup semifinals

कजान। जायंट किलर बेल्जियम ने 5 बार की चैंपियन ब्राजील को बेहद रोमांचक मुकाबले में शुक्रवार को 2-1 से हराकर 32 वर्ष के लम्बे अंतराल के बाद फीफा विश्व कप फुटबॉल टूर्नामेंट के सेमीफाइनल में प्रवेश कर लिया। बेल्जियम ने इससे पहले एकमात्र बार वर्ष 1986 में सेमीफाइनल में जगह बनाई थी और तब वह चौथे स्थान पर रहा था। बेल्जियम ने 1986 के बाद अब 2018 में जाकर अंतिम चार में जगह बनाई है और पांच बार की चैंपियन ब्राजील को बाहर का रास्ता दिखा दिया है।

32 साल बाद सेमीफाइनल में पहुंचे बेल्जियम का अब अंतिम चार में 1998 के विजेता फ्रांस से मुकाबला होगा जिसने इससे पहले क्वार्टरफाइनल में उरुग्वे को 2-0 से हराया था। ब्राजील पिछले विश्व कप में अपनी मेजबानी में जर्मनी से सेमीफाइनल में 1-7 से हारकर बाहर हुआ था और इस बार क्वार्टरफाइनल में बेल्जियम ने उसकी छुट्टी कर दी।

बेल्जियम ने ब्राजील के पहले हाफ के आत्मघाती गोल का फायदा उठाकर बढ़त बनायी और फिर डी ब्र्यून ने दूसरा गोल कर टीम की बढ़त दोगुनी कर दी। फर्नांडिन्हो ने 13 वें मिनट में आत्मघाती गोल किया जबकि ब्र्यून ने 31 वें मिनट में बढ़त को 2-0 कर दिया। ब्राजील ने दूसरे हाफ के 76 वें मिनट में रेनाटो अगस्तो के गोल से हार का अंतर घटाया लेकिन उसे बराबरी का गोल नहीं मिल पाया और एक और चैंपियन टीम इस विश्व कप से बाहर हो गई।

4 बार का चैंपियन जर्मनी, दो-दो बार के चैंपियन अर्जेंटीना और उरुग्वे और  एक बार का चैंपियन स्पेन पहले ही बाहर हो चुके हैं। पूर्व विजेताओं में फ्रांस सेमीफाइनल में पहुंच चुका है जबकि 1966 में विजेता रहे इंग्लैंड का शनिवार को स्वीडन से मुकाबला होना है। इस मुकाबले में भाग्य जैसे ब्राजील के साथ नहीं था।

तियागो सिल्वा का शॉट पोस्ट से टकरा गया, ब्राजील ने आत्मघाती गोल भी किया और उसके सबसे बड़े स्ट्राइकर नेमार गोल के सामने सामने बार बार चूकते रहे और बार बार पेनल्टी मांगते रहे जो उन्हें नहीं मिली। ब्राजील ने दूसरे हाफ में खास तौर पर अंतिम 20 मिनट में दबदबा बनाया लेकिन उसे बराबरी नहीं मिल पाई। बेल्जियम की जीत में उसके गोलकीपर तिबौत कोर्टियस की खास तौर पर तारीफ करनी होगी जिन्होंने दूसरे हाफ में कई अच्छे बचाव किए।

ब्राजील की हार के साथ दुनिया के 3 करिश्माई स्ट्राइकरों की तिकड़ी के तीसरे सदस्य नेमार का भी विश्व कप में सफर समाप्त हो गया। अर्जेंटीना और लियोनल मैसी तथा पुर्तगाल और क्रिस्टियानो रोनाल्डो पहले ही बाहर हो गए थे। मैन ऑफ द मैच केविन डी ब्र्यून ने मैच के बाद कहा कि हमने रणनीतिक रूप से अच्छा प्रदर्शन किया और पहले हाफ में हम ज्यादा अच्छा खेले। ब्राजील ने दूसरे हाफ में रणनीति बदली और हमसे बेहतर रहे लेकिन हमने भी मौके बनाए।

अंतिम 15 मिनट में दोनों टीमों के धैर्य और संयम की परीक्षा थी जिसमें हम पास होकर विजेता बन गए। फ्रांस से सेमीफाइनल के लिए डी ब्र्यून ने कहा कि अब हमारा फ्रांस जैसी असाधारण टीम के साथ मुकाबला है लेकिन जब भी आप विश्व कप के सेमीफाइनल में पहुंचते हैं तो आपको पता होता है कि आपका सामना किसी कमजोर टीम से नहीं होगा। हम सेमीफाइनल जीतने और पहली बार फाइनल में पहुंचने के लिए तैयार हैं।

क्वार्टरफाइनल में ब्राजील और उरुग्वे की हार का मतलब है कि दोनों दक्षिण अमेरिकी टीमें बाहर हो गई हैं और सेमीफाइनल में चार यूरोपियन टीमें आमने सामने होंगी और विश्व कप का ताज किसी यूरोपियन टीम के सिर पर सजेगा। इससे पहले 2006 के विश्व कप में आल यूरोपियन सेमीफाइनल लाइन उप (इटली, फ्रांस, जर्मनी, पुर्तगाल)थी।



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.