क्रिकेटर वाडेकर का पूरे राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार

Samachar Jagat | Friday, 17 Aug 2018 06:52:20 PM
Funeral with Cricketer Wadekar entire state honor

मुंबई। इंडिया के पूर्व क्रिकेट कप्तान अजित वाडेकर का शुक्रवार को शिवाजी पार्क शवदाह गृह में पूरे राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार किया गया। वेस्टइंडीज और इंग्लैंड में भारत को 1971 में पहली जीत दिलाने वाले वाडेकर का 15 अगस्त को लंबी बीमारी के बाद निधन हो गया था।

बतौर मैनेजर, कोच और चयनकर्ता भारतीय क्रिकेट की सेवा करने वाले वाडेकर वनडे क्रिकेट में भारतीय टीम के पहले कप्तान थे। वाडेकर का पार्थिव शरीर वर्ली स्थित उनके आवास पर श्रद्धांजलि देने के लिए रखा गया था। क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर, विनोद कांबली, समीर दिघे, पूर्व हाकी कप्तान एम एम सोमैया और मुंबई क्रिकेट संघ के मौजूदा तथा पूर्व अधिकारी इस मौके पर मौजूद थे।

महाप्रबंधक (क्रिकेट संचालन) सबा करीम ने क्रिकेट बोर्ड की तरफ से उन्हें श्रद्धांजलि दी। शिवसेना सांसद संजय राउत भी उन्हें श्रद्धांजलि देने आए थे। वाडेकर के पार्थिव शरीर को खुले ट्रेक में दादर स्थित शिवाजी पार्क जिमखाना ले जाया गया। जिमखाना में भारत के पूर्व कप्तान संदीप पाटिल, निलेश कुलकर्णी, घरेलू क्रिकेटर पद्माकर शिवालकर ने उन्हें श्रद्धांजलि दी। 

वाडेकर के निधन से हुए नुकसान की भरपाई नहीं हो सकती: सचिन
पूर्व क्रिकेट कप्तान अजीत वाडेकर को भारत रत्न और पूर्व क्रिकेट खिलाड़ी सचिन तेंदुलकर ने श्रद्धांजलि देते हुए कहा है कि वाडेकर के निधन से हुए नुकसान की भरपाई नहीं हो सकती। सचिन ने कहा कि जनता के बीच वाडेकर की ख्याति एक महान क्रिकेट खिलाड़ी के रूप में है जबकि मेरे लिए वह एक महान खिलाड़ी के साथ एक महान व्यक्ति भी थे।

वाडेकर मेरे लिए एक महत्वपूर्ण व्यक्ति थे और समय के साथ हमारे संबंध और प्रगाढ़ होते गए। वाडेकर का दक्षिण मुंबई स्थित जसलोक अस्पताल में 77 वर्ष की आयु में लंबी बीमारी की वजह से 15 अगस्त को निधन हो गया था।

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड और इंग्लैंड में खेल रही टीम इंडिया ने उन्हें कल श्रद्धांजलि दी थी। सचिन ने कहा कि वाडेकर का मेरे जीवन में बहुत बड़ा योगदान है। उन्होंने उस समय मेरी मदद की जब मैं 20 वर्ष का युवा खिलाड़ी था और मैं अपनी लय खो सकता था।

भारत के पूर्व विकेटकीपर और बीसीसीआई के महा प्रबंधक (क्रिकेट आपरेशन) सबा करीम ने भी वाडेकर को श्रद्धांजलि दी। करीम ने कहा कि उनकी उम्र के लगभग सभी क्रिकेट खिलाड़ी उनका अनुसरण करते थे। वाडेकर बायें हाथ के एक बहुत ही बेहतरीन बल्लेबाज थे और उनके निधन से किक्रेट जगत को बहुत बडा नुकसान हुआ है। पूर्व क्रिकेट खिलाड़ी समीर दिघे, विनोद कांबली, हॉकी के पूर्व कप्तान एमएम सोमैया ने भी वाडेकर को श्रद्धांजलि दी।



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.