पृथ्वी शॉ के फैंस के लिए खुशखबर, जल्द ही चोट से उबर कर करेगी वापसी

Samachar Jagat | Wednesday, 05 Dec 2018 03:54:05 PM
Injured  prithvi Shaw can Return to Boxing Day Test match

खेल डेस्क। टेस्ट सीरीज से पहले क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया एकादश के साथ एक मात्र अभ्यास मैच के दौरान चाटिल हुए युवा बल्लेबाज पृथ्वी शॉ बाक्सिंग डे टेस्ट मैच में वापसी कर सकते हैं। इस बात का संकेत खुद कोच रवि शास्त्री ने दिया है। मीडिया रिपोट्र्स के अनुसार भारतीय कोच रवि शास्त्री ने बुधवार को कहा है कि युवा सलामी बल्लेबाज पृथ्वी शॉ टखने की अपनी चोट से तेजी से उबर रहे हैं और उनकी मेलबर्न में होने वाले ‘बाक्सिंग डे’ टेस्ट मैच में वापसी करने की संभावना है।

प्रतिबंध झेल रहे स्टीव स्मिथ के लिए ऑस्ट्रेलिया के उपकप्तान मार्स ने कही ये दिल छू लेने वाली बात!

मुंबई का यह 19 वर्षीय बल्लेबाज क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया एकादश के खिलाफ सिडनी में भारत के अभ्यास मैच के दौरान डीप मिडविकेट बाउंड्री पर कैच लेते समय चोटिल हो गया था। उनके बायें टखने में चोट लगी है जिसके कारण वह पहले टेस्ट मैच में नहीं खेल पाएंगे। बाक्सिंग डे टेस्ट 26 दिसंबर से 30 दिसंबर तक मेलबर्न में खेला जाएगा। शास्त्री ने ऑस्ट्रेलियाई रेडियो चैनल सेन वाटेले से कहा है कि उसका इस तरह से चोटिल होना दुखद है लेकिन अच्छी बात यह है कि उसकी स्थिति में तेजी से सुधार हो रहा है।

नए नाम के साथ आईपीएल सीजन 12 में कमाल करना चाहेगी दिल्ली डेयरडेविल्स

उसने चलना शुरू कर दिया है और अगर उसने सप्ताहांत तक दौडऩा शुरू कर दिया तो यह अच्छा संकेत होगा। उन्होंने कहा है कि वह अभी युवा है और वह जल्दी फिट हो सकता है। हम पर्थ (दूसरे टेस्ट मैच के दौरान) में उसको लेकर फैसला कर सकते हैं। भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच चार टेस्ट मैचों की सीरीज का पहला मैच गुरुवार से शुरू होगा। शास्त्री ने कहा है कि ऑस्ट्रेलियाई टीम विराट कोहली की टीम के लिए कड़ी चुनौती पेश करेगी। उन्होंने कहा है कि स्वदेश में कोई भी टीम कमजोर नहीं है।

2019 विश्व कप को लेकर क्या धोनी नहीं चाहते टीम का हिस्सा होना, इस पूर्व खिलाड़ी ने एम एस और धवन को दी ये नसीहत

स्वदेश में हर टीम मजबूत होती है। यह मायने नहीं रखता कि आपका प्रतिद्वंद्वी कौन है और मुझे लगता है कि ऑस्ट्रेलिया अपनी तरफ से कोई कसर नहीं छोड़ेगा। लेकिन हमारे पास प्रतिभा और अनुभव है। गेंदबाजी विभाग में हमारे पास कुशल गेंदबाज हैं। भारतीय कोच ने कहा है कि उन्हें कुछ सत्रों में नहीं बल्कि लगातार अच्छा प्रदर्शन करना होगा। उन्होंने कहा है कि आप एक या दो अच्छे सत्र के आधार पर जीत नहीं सकते हो, आपको पूरे मैच में प्रतिस्पर्धी बने रहना होगा क्योंकि मैचों में एक घंटे के अंदर पासा पलट जाता है। खिलाड़ी इससे अच्छी तरह वाकिफ हैं और वे जानते हैं कि उन्हें हर समय अपना सर्वश्रेष्ठ करना होगा।



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2019 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.