इस सत्र में आईपीटीएल से नहीं जुड़ पाएंगे कई बड़े नाम

Samachar Jagat | Thursday, 24 Nov 2016 11:28:59 PM
इस सत्र में आईपीटीएल से नहीं जुड़ पाएंगे कई बड़े नाम

नई दिल्ली। विश्व टेनिस के चोटी के चार नामों रोजर फेडरर, नोवाक जोकोविच, एंडी मर्रे और राफेल नडाल में से इस बार आईपीटीएल के आगामी सत्र में केवल एक के भाग लेने की संभावना है लेकिन इसके संस्थापक महेश भूपति ने कहा कि लीग में भुगतान से जुड़ा कोई मसला नहीं है।

इस बार भारत में यह लीग दिल्ली के बजाय हैदराबाद में होगी। पिछले साल दिल्ली में इंडियन एसेस की तरफ से नडाल और यूएई रायल्स की तरफ फेडरर खेले थे।

स्टार खिलाडिय़ों की अनुपस्थिति में इस बार ऐसा मुकाबला देखने को नहीं मिलेगा। अभी तक भारतीय टीम में पुरूष एकल में विश्व में 28वें नंबर के खिलाड़ी फेलिसियानो लोपेज सबसे अधिक रैंकिंग के खिलाड़ी हैं।

लेकिन नडाल और फेडरर इस सत्र में चोटों से जूझते रहे हैं। फेडरर विंबलडन के बाद और नडाल अक्तूबर के बाद नहीं खेल पाए हैं। जोकोविच शुरुआती सत्र में दुबई के लिए खेले थे लेकिन 2015 में नहीं खेल पाए थे।

भूपति ने स्वीकार किया कि कुछ बड़े नाम इस बार नहीं दिखेंगे। उन्होंने कहा, ‘‘चोटी के चार खिलाडिय़ों में से एक जरूर आएगा। हम आज ही अपने सारे पत्ते नहीं खोलना चाहते हैं। हम अगले 48 घंटों में इस नाम की घोषणा करेंगे। ’’

ऐसा माना जा रहा है कि भुगतान मसले के कारण लीग को नुकसान हुआ है लेकिन भूपति ने कहा कि इसमें सच्चाई नहीं है।

उन्होंने कहा, ‘‘पिछले साल खेलने वाले सभी खिलाड़ी इस बार भी खेलेंगे। हमारे पास खिलाडिय़ों की लंबी सूची है जो आना चाहते हैं लेकिन दुर्भाग्य से वे नहीं आ सकते क्योंकि कोई जगह खाली नहीं है। सब कुछ सही चल रहा है। ’’

भारतीय टीम का आधार स्थल दिल्ली के बजाय हैदराबाद करने के बारे में भूपति ने कहा, ‘‘इसका कोई खास कारण नहीं है। हमने दो साल दिल्ली में इसका आयोजन किया और प्रशंसकों ने विश्वस्तरीय टेनिस का लुत्फ उठाया। हमारा विचार एक देश से एक टीम गठित करना है। पिछले साल हम जापान में कोबे में खेले थे और इस साल तोक्यो में खेलेंगे। यह टीम मालिकों का फैसला है। ’’

अभी तक जिन खिलाडिय़ों के नामों की घोषणा की गई है उनमें महिला वर्ग में सेरेना विलियम्स सबसे बड़ा नाम है। पुरूष वर्ग में विश्व के पांचवें नंबर के खिलाड़ी केई निशिकोरी ने खेलने की पुष्टि कर दी है।

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर
ज्योतिष

Copyright @ 2016 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.