इंग्लैंड को हराने के बाद जसप्रीत बुमराह ने कही ये बात!

Samachar Jagat | Wednesday, 22 Aug 2018 05:40:28 PM
Jaspreet Bumrah said success with patience and continuity

लंदन। इंग्लैंड के खिलाफ नॉटिघम में तीसरे टेस्ट मैच में भारत की 203 रन की जीत में 85 रन पर पांच विकेट लेकर महत्वपूर्ण भूमिका निभाने वाले भारतीय तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह ने अपनी इस सफलता का श्रेय संयम और निरंतरता को दिया है। 24 वर्षीय बुमराह की अगुवाई में तेज गेंदबाजों के दमदार प्रदर्शन से भारत ने यह मैच जीतकर सीरीज में वापसी कर ली है।

86 साल पुराना रिकॉर्ड तोड़ भारत की हांगकांग पर सबसे बड़ी ऐतिहासिक जीत

बुमराह को आम तौर पर सिमित ओवरों के मैचों में उनकी लाजवाब यॉर्कर गेंदों के लिए जाना जाता है लेकिन ट्रेंट ब्रिज में उन्होंने ज्यादातर विकेट गुडलेंथ और शॉर्ट गेंदों पर लिए। बुमराह ने कहा कि हमें इस बात की खुशी है कि जब गेंद पुरानी हो जाती है तब भी हमने बेहतर लाइन लेंथ के साथ गेंदबाजी की। गौरतलब है कि बुमराह इंग्लैंड दौरे की शुरुआत में ऑयरलैंड के खिलाफ पहले ट्वेंटी-20  मैच के दौरान ही चोटिल हो गए थे जिसके कारण वह पहले दो टेस्ट मैच नहीं खेल पाए थे।

इंडिया की 59 वर्षों में ट्रेंट ब्रिज में दूसरी जीत, इंग्लैंड को दी करारी​ शिकस्त

बमुराह ने कहा कि मैं चोटिल था, इसके बावजूद मैं गेंदबाजी कर पा रहा था। मैं लगातार अभ्यास में लगा हुआ था जिसके अच्छे परिणाम सामने आए हैं। उल्लेखनीय है कि भारत ने तीसरे क्रिकेट टेस्ट में पांचवें और अंतिम दिन इंग्लैंड को 204 रन से हराकर पांच मैचों की श्रृंखला में अपनी उम्मीदों को जीवंत रखा।

Asian Games 2018: राही ने निशानेबाजी में स्वर्ण जीतकर इतिहास रचा

भारत को मैच के पांचवें और अंतिम दिन जीत के लिए सिर्फ एक विकेट की दकरार थी और मेहमान टीम ने आज सिर्फ 2.5 ओवर में जीत की औपचारिकता पूरी की। इंग्लैंड की टीम भारत के 521 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए 317 रन पर ढेर हो गई। इस मैच में बुमराह 37 रन पर दो विकेट और 85 रन पर पांच विकेट अपने नाम किए है।



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.