कुलदीप यादव का मानना, ईडन गार्डन से पर खेलने के अनुभव से मिला फायदा

Samachar Jagat | Monday, 05 Nov 2018 12:56:34 PM
Kuldeep Yadav said eden got the benefit of being well-versed

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures

कोलकाता। चाइनामैन गेंदबाज कुलदीप यादव ने वेस्टइंडीज के खिलाफ भारत की पहले टी20 अंतरराष्ट्रीय में पांच विकेट से जीत के बाद कहा कि इडन गार्डन्स की परिस्थितियों से अच्छी तरह वाकिफ होने का बहुत बड़ा फायदा मिला। कुलदीप को पता था कि गेंद ग्रिप बनाएगी और टर्न नहीं लेगी और ऐसे में उन्होंने 13 रन देकर तीन विकेट लिए तथा वेस्टइंडीज को आठ विकेट पर 109 रन पर रोकने में अहम भूमिका निभाई। कुलदीप को मैन ऑफ द मैच भी चुना गया।


हमने लापरवाह बल्लेबाजी का खामियाजा भुगता : एलेन

कुलदीप ने मैच के बाद संवाददाता सम्मेलन में कहा है कि जब आपने किसी एक मैदान पर कई मैच खेले हों तो उसका बहुत अधिक फायदा मिलता है। आप विकेट, आउटफील्ड आदि से अच्छी तरह से परिचित होते हो। इससे आपका आत्मविश्वास बढ़ता है। जैसे मुझे पता था कि अगर आप इस पिच पर अपनी गति बदलते हैं तो आपको इसका फायदा मिलेगा। इससे मुझे काफी मदद मिली और मेरा आत्मविश्वास बढ़ा। टी20 में 100 विकेट पूरे करने वाले कुलदीप पिछले कुछ वर्षों से आईपीएल में कोलकाता नाइटराइडर्स की तरफ से खेल रहे हैं।

हम गलतियों से सीखेंगे: रोहित शर्मा

उन्हें यहां खेलने का अच्छा अनुभव है जिसे उन्होंने अपना पहला मैच खेल रहे स्पिन आलराउंडर कृणाल पांड्या के साथ भी साझा किया। उन्होंने कहा है कि उसने सातवें ओवर में गेंद संभाली और मैंने आठवें ओवर में। हमारे बीच केवल इतनी ही बात हुई कि विकेट से टर्न नहीं मिल रहा है लेकिन गेंद पर ग्रिप बन रही है। कुलदीप ने लगभग 100 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से अपनी खास गेंद की जिसने बल्लेबाजों को खासा परेशान किया और उन्होंने कहा कि वह अंडर-19 के दिनों से इस पर काम कर रहे थे। उन्होंने कहा है कि मैंने चार पांच साल पहले नेट्स पर इस गेंद का अभ्यास शुरू कर दिया था। पिछली श्रृंखला में भी कुछ अवसरों पर मैंने इस गेंद का उपयोग किया।

कुलदीप और कार्तिक के दम पर जीता भारत

इस गेंद को लेकर आश्वस्त होता जा रहा हूं और मैच की परिस्थितियों के अनुसार इसका उपयोग कर रहा हूं। टी20 क्रिकेट में बल्लेबाज की लय तोडऩे के लिए इस तरह की गेंद करनी होती है। इससे बल्लेबाज का बल्ला कुंद हो सकता है। भारत ने 110 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए शीर्ष क्रम के बल्लेबाज जल्दी गंवा दिए। ऐसे में केकेआर के कप्तान दिनेश कार्तिक की नाबाद 31 रन की पारी काफी काम आई। कुलदीप ने कहा कि कई बार 110 रन का लक्ष्य भी मुश्किल बन जाता है। ईडन गार्डन्स में दूसरी पारी में गेंद स्विंग ले रही थी। उन्होंने अच्छी गेंदबाजी की और हमारे लिए मुश्किलें पैदा की। उन्होंने कहा कि कार्तिक ने वास्तव में अच्छी बल्लेबाजी की। परिस्थितियां उनके अनुकूल थी। पिछले सत्र में उन्होंने केकेआर की अगुवाई की और इसलिए वह परिस्थितियों से अच्छी तरह अवगत थे। 

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!



Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.