भारत के सर्वश्रेष्ठ फील्डरों में शूमार रहे मोहम्मद कैफ ने लिया क्रिकेट से संन्यास 

Samachar Jagat | Friday, 13 Jul 2018 04:42:28 PM
Mohammed Kaif, who has been a Shumra in India's best fielders, retired from cricket

नई दिल्ली। भारतीय क्रिकेट टीम के सर्वश्रेष्ठ फील्डरों में शुमार रहे निचले क्रम के उम्दा बल्लेबाज मोहम्मद कैफ ने भारत के लिये आखिरी मैच खेलने के करीब 12 साल बाद शुक्रवार को सभी तरह के प्रतिस्पर्धी क्रिकेट को अलविदा कह दिया। सैतीस बरस के कैफ ने 13 टेस्ट, 125 वनडे खेले थे और उन्हें लाडर्स पर 2002 में  नेटवेस्ट ट्राफी फाइनल में 87 रन की मैच जिताने वाली पारी के लिये जाना जाता है।

हिमादास ने रचा इतिहास, विश्व जूनियर एथलेटिक्स में स्वर्ण जीतने वाली पहली भारतीय महिला बनी

कैफ ने बीसीसीआई के कार्यवाहक अध्यक्ष सी के खन्ना और कार्यवाहक सचिव अमिताभ चौधरी को ईमेल भेजकर लिखा ,‘‘ मैं आज सभी तरह के प्रथम श्रेणी क्रिकेट से संन्यास ले रहा हूं। वह विश्व कप 2003 में फाइनल खेलने वाली भारतीय टीम का भी हिस्सा थे। युवराज सिंह के साथ वह अंडर 19 क्रिकेट से चमके थे।

रोहित शर्मा ने खेली शानदार पारी, शतक से ध्वस्त हुई इंग्लैंड, कुलदीप ने चटकाएं 6 विकेट

उत्तर प्रदेश के लिए रणजी ट्राफी जीतने वाले कैफ ने आखिरी प्रथम श्रेणी मैच छत्तीसगढ के लिये खेला था। उन्होंने लिखा ,‘‘ नेटवेस्ट ट्राफी में मिली जीत को 16 साल हो गए हैं और आज मैं संन्यास ले रहा हूं। मैं भारत के लिये खेलने का मौका दिये जाने के लिए बोर्ड का शुक्रगुजार हूं। सौरव गांगुली की अगुवाई में भारतीय टीम जब भारतीय क्रिकेट के इतिहास के सुनहरे पन्ने लिख रही थी तो युवराज के साथ कैफ उसका अभिन्न अंग थे ।

टेस्ट में भी कुलदीप और चहल को उतार सकते हैं : कोहली

कैफ ने 13 टेस्ट में 32 की औसत से 2753 रन बनाए। वहीं 125 वनडे में उनका औसत 32 रहा। कैफ हिन्दी क्रिकेट कमेंटेटर के रूप में कैरियर की दूसरी पारी शुरू कर चुके हैं।

Movie review: अपने सपने के लिए मौत को हराकर जिंदगी के संघर्ष की कहानी बयां करती है फिल्म 'सूरमा'



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.