सीमित ओवरों के प्रारुप में टीम में जगह नहीं बन पाने को लेकर अजिंक्य रहाणें ने कही ये बात!

Samachar Jagat | Wednesday, 13 Jun 2018 03:17:19 PM
Rahane said after this test, I will talk to the selectors about preparations

खेल डेस्क। अजिंक्य रहाणें अभी अपने आप को भारतीय टीम के सीमित ओवरों के प्रारुप में टीम में जगह नहीं बना पाने को लेकर चिंतित है। ये ही कारण है कि उन्होंने इस बारे में चयनकर्ताओं के इस बात को लेकर चर्चा करने का फैसला लिया है। मीडिया रिपोट्र्स के अनुसार सीमित ओवरों के प्रारूपों में टीम में जगह पक्की नहीं होने के कारण भारत के कार्यवाहक टेस्ट कप्तान अजिंक्य रहाणे ने बुधवार को कहा कि वह इंग्लैंड में होने वाली टेस्ट श्रृंखला की अपनी तैयारियों के संदर्भ में स्पष्ट तस्वीर पता करने लिए राष्ट्रीय चयनकर्ताओं से बात करेंगे।

अमेरिका ने भारत को ये खास हेलीकॉप्टर बेचने को दी मंजूदी, ये है खास खूबिया

मीडिया रिपोट्र्स की माने तो गुरुवार से शुरू होने वाले भारत और अफगानिस्तान के बीच एकमात्र और ऐतिहासिक टेस्ट मैच के बाद रहाणे को फिलहाल डेढ़ महीने तक खेलने का मौका नहीं मिल पाएगा। इसकी वजह है कि उन्हें सीमित ओवरों की टीम में उनका चयन नहीं होना है। इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट श्रृंखला एक अगस्त से शुरू होगी लेकिन इससे पहले तीन जुलाई से तीन टी20 और इतने ही वनडे मैचों की श्रृंखला खेली जाएगी। रहाणे से पूछा गया कि अगले डेढ़ महीने में वह क्या करेंगे, उन्होंने कहा, ‘देखिये, मैं नहीं जानता कि इस टेस्ट मैच के बाद क्या होने जा रहा है। लेकिन हां, मैं चयनकर्ताओं से जरूर बात करूंगा।’ ऐसी चर्चा है कि वह भारत ए की तरफ से कुछ मैचों में खेल सकते हैं लेकिन अभी तक इसको लेकर कोई आधिकारिक बयान नहीं आया है। रहाणे ने कहा, लेकिन मैं मुंबई में अपनी तैयारियां शुरू कर दूंगा जैसा कि मैं हमेशा बांद्रा कुर्ला काम्पलेक्स (बीकेसी) में करता रहा हूं। प्रत्येक श्रृंखला से पहले मैं अच्छी तैयारी करता हूं लेकिन अभी मेरा ध्यान इस टेस्ट मैच पर है। हर टेस्ट मैच मायने रखता है और हमें यह मैच जीतना होगा।

पहले फुफेरी बहन की ली अश्लील तस्वीरें और फिर उसके भाई को दी ऐसी दर्दनाक मौत

अफगानिस्तान का भले ही यह पहला टेस्ट मैच हो लेकिन रहाणे ने किसी भी टेस्ट टीम के खिलाफ ‘निर्ममता’ दिखाने की जरूरत पर जोर दिया भले ही वह उसका पदार्पण मैच ही क्यों नहीं हो। उन्होंने कहा, हम अफगानिस्तान को हल्के में नहीं ले रहे हैं। उनकी टीम बहुत अच्छी है। उनके पास अच्छे गेंदबाज हैं। रहाणे ने कहा कि एक टीम के तौर पर हम कुछ भी तय नहीं मानकर नहीं चल सकते क्योंकि क्रिकेट अनिश्चितताओं का खेल है। हमें मैदान पर निर्ममता दिखानी होगी। हां एक प्रतिद्वंद्वी के तौर पर हम उनका सम्मान करते है लेकिन हमारे लिए यह महत्वपूर्ण है कि हम मैदान पर उतरकर 100 प्रतिशत से अधिक योगदान दें। हमें निर्मम होने की जरूरत है।

जयपुर के अस्पताल में आग लगने से मचा हड़कंप

दिनेश कार्तिक की तरह रहाणे ने अफगानिस्तान के कप्तान अशगर स्टेनिकजई के इस बयान को तवज्जो नहीं दी कि उनके स्पिनर भारत के रविचंद्रन अश्विन, रविंद्र जडेजा और कुलदीप यादव से बेहतर हैं। रहाणे ने कहा, प्रत्येक सदस्य यह विश्वास करना चाहेगा कि उनकी टीम अच्छी है। आंकड़ों के बारे में हम सभी जानते हैं लेकिन हम आंकड़ों पर ध्यान नहीं देना चाहते हैं। अश्विन, जडेजा और कुलदीप अनुभवी स्पिनर है। किसी भी दिन आपकी मानसिकता अंतर पैदा करती है। रहाणे ने कहा कि पिछले तीन दिन लंबे प्रारूप के अनुरूप खुद को ढालने के लिहाज से महत्वपूर्ण रहे। उन्होंने कहा बेंगलुरू में हमने दो अभ्यास सत्रों में हिस्सा लिया और ये शानदार रहे। आईपीएल के बाद यह महत्वपूर्ण था कि हम अपनी मानसिकता बदलें। हम अफगानिस्तान को हल्के से नहीं ले रहे हैं।



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.