आस्ट्रेलियाई तेज पिचों के लिए उपकप्तान रोहित ये बना रहे रणनीति

Samachar Jagat | Monday, 19 Nov 2018 08:17:26 PM
Rohit sharma said Indian batsmen will show off power on Australian pitches

ब्रिसबेन। भारतीय क्रिकेट टीम के बल्लेबाका रोहित शर्मा ने भरोसा जताया है कि मेहमान टीम के खिलाड़ी ऑस्ट्रेलिया की तेज पिचों पर हर प्रारूप में बेहतरीन प्रदर्शन करने में सक्षम हैं और सीरीज में अपनी छाप छोडऩे के लिए तैयार हैं। भारत ने ऑस्ट्रेलिया में कभी भी टेस्ट सीरीज नहीं जीती है लेकिन बॉल टेम्परिंग के कारण बल्लेबाजों स्टीवन स्मिथ, डेविड वार्नर और कैमरन बेनक्रॉफ्ट की कमी झेल रही ऑस्ट्रेलियाई टीम के खिलाफ भारत को इस बार मजबूत दावेदार माना जा रहा है।

एजाज पटेल की फिरकी के आगे ढेर हुए पाकिस्तानी धुरंदर, जीता हुआ मैच गवाया

भारतीय टीम बुधवार को ब्रिसबेन में तीन ट््वंटी 20 मैचों की सीरीज की शुरूआत करेगी। रोहित ने सोमवार को यहां पत्रकारों से कहा कि ऑस्ट्रेलिया में हम अपनी छाप छोडऩा चाहते हैं। पिछली बार जब हम यहां आए थे तब हमारे मैच बहुत करीबी रहे थे लेकिन इस बार हम जीत की पूरी कोशिश करेंगे। तीनों प्रारूपों में ही हमारी टीम बहुत मजबूत है और हमारा लक्ष्य इसे भुनाना और मैच जीतना है। उन्होंने कहा कि ऑस्ट्रेलिया जैसी जगह पर जब आप अच्छा खेलते हैं तो टीम का मनोबल बढ़ता है। हम विश्वकप के बारे में सोचें तो इससे हमारा आत्मविश्वास और बढ़ेगा।

विराट कोहली के अलावा इस भारतीय खिलाड़ी को रोकने के लिए रणनीति बना रही ऑस्ट्रेलियाई टीम

तीन ट्वंटी 20 मैचों की सीरीज के बाद एडिलेड में 6 दिसंबर से चार टेस्टों की सीरीज शुरू होगी। सीमित प्रारूप में भारतीय उपकप्तान रोहित ने माना कि गाबा की पिच बहुत तेज है लेकिन पर्थ में तेज गेंदबाजों को मदद मिल सकती है जहां दूसरा टेस्ट होना है। उन्होंने कहा कि भारत ने या तो पर्थ या ब्रिसबेन में खेला है। लेकिन इस बार हम ब्रिसबेन में नहीं खेल रहे हैं। इन दोनों जगहों की परिस्थितियों अलग हैं। ऑस्ट्रेलिया के गेंदबाज भी लंबे हैं जिन्हें अच्छा बाउंस मिलता है। भारतीय बल्लेबाज ज्यादा लंबे नहीं है ऐसे में हमें थोड़ी मुश्किल हो सकती है।

फाइनल के लिए भारतीय टीम के सामने इंग्लैंड की चुनौती

रोहित ने कहा कि भारतीय टीम के सभी खिलाड़ी इस बार ऊंचे आत्मविश्वास के साथ आये हैं और हर चुनौती के लिए तैयार हें। रोहित ने ऑस्ट्रेलिया में सीमित ओवरों में अच्छा स्कोर किया है जबकि लंबे समय बाद वह टेस्ट टीम में भी जगह बना सके हैं। उन्होंने कहा, मैंने सीमित ओवर में अच्छा किया है लेकिन मेरी चुनौती ऑस्ट्रेलिया में इस बार लाल बॉल से अच्छा करने की है। लेकिन अभी मैं ट््वंटी 20 के बारे में सोच रहा हूं।



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2019 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.