Asian Games: साल में तीसरा फाइनल हारी सिंधु, स्वर्ण से चूकने बाद भी बना दिया ये रिकॉर्ड

Samachar Jagat | Tuesday, 28 Aug 2018 02:02:11 PM
Sindhu defeats third final of the year

जकार्ता। ओलंपिक रजत पदक विजेता पी वी सिंधु को एक बार फिर फाइनल में पराजय का सामना करना पड़ा लेकिन एशियाई खेलों के फाइनल में दुनिया की नंबर एक खिलाड़ी ताइ जू यिंग से हारकर भी उसने भारत के लिए बैडमिंटन एकल में पहला रजत जीतने का रिकॉर्ड अपने नाम कर लिया। अभी तक एशियाई खेलों के एकल फाइनल में कोई भारतीय नहीं पहुंचा है। सिंधु को 34 मिनट तक चले मुकाबले में चीनी ताइपै की खिलाड़ी ने 31- 13, 21-16 से हराया ।

ग्रैंड स्लेम यूएस ओपन टेनिस टूर्नामेंट: सेरेना की विजयी शुरूआत 

भारत ने पहली बार एशियाई खेलों में बैडमिंटन में दो एकल पदक जीते हैं। साइना को सेमीफाइनल में ताइ ने ही हराया था। सिंधु इससे पहले गोल्ड कोस्ट राष्ट्रमंडल खेलों के फाइनल में साइना से हारी थी जबकि विश्व चैम्पियनशिप के फाइनल में उसे स्पेन की कैरोलिना मारिन ने मात दी थी। वह इस साल इंडिया ओपन फाइनल में बेवेन झांग से और थाईलैंड ओपन में नोजोमी ओकुहारा से हारी थी। 

फ़ेडरर ने ग्रैंडस्लैम को अलविदा कहा, वावरिका अगले दौर में  

सिंधु की ताइ के हाथों यह लगातार छठी हार थी। ताइ ने शुरू ही से बढ़त बना ली थी और अपने दमदार रिटर्न से पहले पांच अंक हासिल किए। सिंधु ने वापसी करके अंतर 4 -6 का किया लेकिन ताइ ने उसे दबाव बनाने का कोई मौका ही नहीं दिया और जल्दी ही बढ़त 17-10 की कर ली। सिंधु के पास उसके तेज तर्रार रिटर्न का कोई जवाब नहीं था। पहला गेम 16 मिनट में खत्म हो गया। 

दूसरे गेम में सिंधु ने उसे बेसलाइन की ओर धकेलने की कोशिश की लेकिन सहज गलतियों से कई अंक गंवाए।  एक समय स्कोर 4- 4 था लेकिन ताइपै की खिलाड़ी ने अपनी पकड़ मजबूत करते हुए 15-10 की बढ़त बना ली। ताइ को जल्दी ही मैच प्वाइंट मिला जब सिधू की शटल नेट में चली गई। 
सिंधु ने पहला मैच प्वाइंट बचाया लेकिन अगले ही विनर पर ताइ ने यह गेम और मैच जीत लिया। 



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.