इंग्लैंड की सपाट पिचों पर गेंदबाजों की भूमिका बेहद अहम होगी: द्रविड़

Samachar Jagat | Monday, 20 May 2019 01:55:54 PM
The role of bowlers on Englands flat pitches will be crucial Dravid

नई दिल्ली। भारतीय टीम के पूर्व कप्तान तथा भारत ए और अंडर 19 के कोच राहुल द्रविड़ का मानना है कि इंग्लैंड की सपाट पिचों पर गेंदबाजों की भूमिका बेहद अहम होगी और मौजूदा भारतीय गेंदबाजी इकाई में ऐसे गेंदबाज हैं जो मध्य क्रम में विकेट ले सकते हैं। इंग्लैंड की पिचों को ध्यान में रखते हुए द्रविड़ ने कहा, मैंने पिछले साल भारत ए टीम के साथ इंग्लैंड का दौरा किया था और मेरे अनुभव के अनुसार इस विश्व कप में खूब रन बनेंगे। हाई स्कोर वाले कप में टीम में ऐसे गेंदबाज होना जो मध्य क्रम में विकेट चटका सके बेहद महत्वपूर्ण हैं। भारत इस मामले में सौभाग्यशाली है।

सुपरमैन बनने की कोशिश से बचे, डुप्लेसिस की टीम को सलाह

उन्होंने कहा, जसप्रीत बुमराह, कुलदीप यादव और युजवेंद्र चहल जैसे गेंदबाज भारतीय टीम में शामिल हैं जो मध्य क्रम में विकेट ले सकते हैं। बड़े स्कोर वाले मुकाबलों में जो टीम मध्य ओवरों में विकेट लेने में कामयाब होगी उसके पास विपक्षी टीम को कम से कम स्कोर पर रोकने के ज्यादा मौके होंगे। भारतीय टीम ने अपना आखिरी अंतर्राष्ट्रीय मुकाबला 13 मार्च को खेला था जिसके बाद इंडियन प्रीमियर लीग शुरू हो गई थी। भारत हालांकि ऑस्ट्रेलिया से पांच मैचों की सीरीज में हार गया था लेकिन उन्होंने पिछले वर्ष दक्षिण अफ्रीका, ऑस्ट्रेलिया और न्यूज़ीलेंड को एकदिवसीय सीरीज में हराकर कीर्तिमान रचा था। 

पोलार्ड, ब्रावो सहित 10 खिलाड़ियों को वेस्टइंडीज़ क्रिकेट बोर्ड ने किया विश्वकप के रिजर्व खिलाड़ियों में शामिल

द्रविड़ ने भारत की विश्व कप में संभावनाओं को लेकर कहा, ''मेरा मानना है कि हमारे विश्व कप से पहले पिछले दो वर्ष अच्छे गए हैं। हम अच्छे प्रदर्शन की बदौलत विश्व की नंबर दो टीम हैं जिसका मतलब है कि हमने लगातार अच्छा काम किया है। यह विश्व कप चुनौतीपूर्ण होगा क्योंकि हर टीम पूरी तैयारी करके आएंगी और अच्छी टक्कर देना चाहेगी। सभी दल खिताब को जीतने के लिए जीतोड़ मेहनत कर रहे हैं। उन्होंने कहा, भारत विश्व कप के प्रबल दावेदारों में से एक है और हम सब भारत की जीत को लेकर आश्वस्त हैं। उम्मीद है कि भारत सेमीफाइनल में प्रवेश करेगा और शीर्ष चार टीमें आपस में भिड़ेंगी।

गेंदबाजी को लेकर द्रविड़ ने कहा, इस विश्व कप में गेंदबाजी बेहद अहम होने वाली है और जो टीम सबसे बेहतर गेंदबाजी करेगी उसकी खिताब जीतने के सबसे ज्यादा संभावना है। द्रविड़ ने इस दौरान भारतीय टीम के कप्तान विराट कोहली और महेंद्र सिंह धोनी की भी खूब प्रशंसा की। उन्होंने कहा,'' विराट को मालूम है कि कैसे बेहतर होते जाना है, वह निरंतर बेहतर हो रहे हैं। विराट ऐसे मापदंड तय कर रहे हैं जिन्हें हासिल करना बेहद कठिन है। सचिन तेंदुलकर ने वनडे क्रिकेट में 49 शतक लगाए हैं विराट उनसे केवल 10 शतक पीछे है। वह अपने खेल को बेहतर करना जानते है।

वर्ष 2011 विश्व कप विजेता टीम के कप्तान धोनी के लिए उन्होंने कहा, धोनी की खास बात यह है कि वह ऐसे बड़े टूर्नामेंट और मुकाबले खेलते हैं और यह उनके लिए बहुत मायने रखता है। राहुल द्रविड़ के मार्गदर्शन में ऋषभ पंत, पृथ्वी शॉ जैसे शानदार खिलाड़ी भारतीय टीम का हिस्सा बने हैं। वह अंडर 19 टीम के साथ खिलाड़ियों को बेहतर करने की दिशा में निरंतर काम कर रहे हैं। उल्लेखनीय है कि विश्व कप 30 मई से शुरू होने जा रहा है जो इंग्लैंड और वेल्स के मैदानों पर खेला जाएगा। भारतीय टीम इंग्लैंड के लिए 22 मई को रवाना होगी।-एजेंसी
 



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2019 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.