इंटरनेट की स्लो स्पीड में सर्च करना हुआ आसान सस्ते स्मार्टफोन पर भी चलेगा गूगल गो एप

Samachar Jagat | Wednesday, 06 Dec 2017 08:50:31 AM
Google Go Apache will also be available on cheap cheap smartphones in search of slow speed of Internet

टेक डेस्क। अब इंटरनेट की स्लो स्पीड से परेशान होने की जरुरत नहीं है। गूगल ने भारत में गूगल फॉर इवेंट के दौरान Google Go एप की घोषणा की है। इससे सस्ते और एंट्री लेवल स्मार्टफोन पर भी नेट जेती से चलेगा। इस एप को खास तौर पर भारत और इंडोनेशिया के यूजर्स के लिए बनाया गया है।

21.9 MBPS औसत डाउनलोड स्पीड के साथ जियो ने रचा इतिहास

इससे इंटरनेट की स्लो स्पीड पर भी आसानी से सर्च सकते हैं। गूगल गो एप प्ले स्टोर पर 5 दिसंबर से उपलब्ध करा दिया गया है। वैसे तो इसके कई फायदे होगं लेकिन ओरियो का यह लाइट वर्जन 512 एमबी से 1 जीबी रैम तक के भी स्मार्टफोन में आसानी से काम करेगा और स्टोरेज की समस्या नहीं होगी। इस ओएस में एक प्री-इंस्टॉल्ड ऐप का सेट भी मिलेगा जिसमें गूगल के कई सारे ऐप होंगे।


बैटरी लाइफ- इस ऑपरेटिंग सिस्टम का सबसे बड़ा फायदा ये होगा आपके स्मार्टफोन की बैटरी लाइफ लंबी हो जाएगी। चाहे फोन में कम एमएएच वाली बैटरी ही क्यों ना हो। इसके अलावा इस वर्जन के हिसाब से मोबाइल ऐप को भी ऑप्टिमाइज किया जाएगा। इसके बाद एप की साइज कम हो जाएगी। ऐप की अधिकतम साइज 10 एमबी तक हो सकती है। एंड्रॉयड गो वही सभी फीचर्स मिलेंगे जो एंड्रॉयड ओ में हैं। साथ ही मोबाइल इंटरनेट डाटा की भारी बचत भी होगी। कंपनी के मुताबिक अगले साल यह Android Go एडिशन वाले स्मार्टफोन में दिया जाएगा।

सर्च करना आसान- कंपनी का कहना है कि जो कस्टमर इंटरनेट पर नए हैं उन्हें ये नहीं पता होता है कि वो क्या सर्च करें और छोटे स्मार्टफोन में टाइप करना भी थोड़ा मुश्किल होता है। इसलिए कंपनी ने इस  एप में टैप फर्स्ट यूजर इंटरफेस दिया है जिसके जरिए इस एप पर क्लिक करते ही आपको ये पता चलेगा कि आप क्या सर्च कर सकते हैं। इसमें ताजा खबरों से लेकर कई तरह की जानकारियां शामिल हैं।

5.93 इंच की HD डिस्प्ले के साथ आज लॉन्च होगा ऑनर7एक्स

यह एप 2जी इंटरनेट यूज करने वालों के लिए काफी फायदेमंद है। उनके फोन में भी यह अच्छे से काम करेगा। इंटरनेट नहीं है और आपने सर्च किया है तो जैसे ही कनेक्शन मिलेगा उसका रिजल्ट अपने आप आ जाएगा। इसके लिए इसमें कंपनी ने एडवांस्ड कंप्रेशन टेक्नॉलॉजी का इस्तेमाल किया है।

मल्टीलेंग्वेज सपोर्ट- Google Go में कई भाषाओं का सपोर्ट दिया गया है। Google Go  इंग्लिश के सात 10 भारतीय भाषाओं में काम करता है जिनमें हिंदी, बंगाली, गुजराती, मराठी, मलयालम, पंजाबी, तमिल, तेलुगु और उर्दू शामिल हैं। अगर आप दो भाषा- इंग्लिश और हिंदी में सर्च करते हैं तो दोनों को सेट कर सकते हैं ताकि स्विच करने में आसानी होगी।

अयोध्या विवाद पर अपना रख साफ करे कांग्रेस : अमित शाह

शिव सेना ने लाल चौक पर झंडा फहराने के लिए एक दल भेजा

 



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2017 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.