सरकार ने व्हाट्सएप से कहा: भड़काऊ संदेश भेजने वाले की पहचान, स्थान का पता चाहिये

Samachar Jagat | Friday, 02 Nov 2018 12:00:13 PM
Government told Whatsapp: Identification of the inflammable messenger, the location should be addressed

नई दिल्ली। सरकार ने कहा कि उसने व्हाट्सएप से भेजे गये संदेश की कूटभाषा संबंधी जानकारी 'डिक्रिप्शन' नहीं मांगी है बल्कि भड़काऊ संदेश भेजने वाले व्यक्ति की पहचान और उसके स्थान के बारे में जानकारी मांगी है। व्हाट्सएप पर भड़काऊ संदेशों के प्रसारित होने से कई बार भहसा और जघन्य घटनायें हो जाती हैं।

4जी की तुलना में 10 गुना प्रभावी हो सकती है 5जी नेटवर्क क्षमता

व्हाट्सएप के उपाध्यक्ष क्रिस डेनियल्स के साथ बैठक के बाद सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री रवि शंकर प्रसाद ने कहा, "मैंने किसी चीज के बारे में पता लगाने की क्षमता पैदा करने की बात की हैं, संदेशों को डिकोड करने की बात नहीं की है।" उन्होंने कहा, "हमें जघन्य अपराध, गंभीर जुर्म और भहसा भड़काने वाले व्हाट्सएप संदेशों के प्रेषक की पहचान और स्थान की जानकारी चाहिये।"

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि व्हाट्सएप टीम ने हमें भरोसा दिया है कि वे इस मामले में विचार करेंगे और जवाब देंगे। उल्लेखनीय है कि सरकार ने फेसबुक की स्वामित्व वाली व्हाट्सएप को भ्रामक, भड़काऊ सूचनाओं और संदेशों पर अंकुश लगाने के लिये जरुरी कदम उठाने को कहा है। प्रसाद ने कहा, "मैंने क्रिस डेनियल्स और उनके टीम के साथ मुलाकात की और विभिन्न मुद्दों पर बातचीत की।

सैमसंग अगले वर्ष की पहली तिमाही में करेगी 5जी प्रौद्योगिकी का परीक्षण

उन्होंने आश्वस्त किया कि हमने भारत के लिये शिकायत निवारण अधिकारी नियुक्त किया है। मैंने अधिकारी के भारत में ही बैठने का सुझाव दिया है।" केंद्रीय मंत्री ने कहा कि व्हाट्सएप चुनावों के दौरान संदेश प्रसारित करने का प्रमुख जरिया होता है, इसलिए इस प्लेटफार्म की सत्यनिष्ठा को बनाए रखना जरूरी है। - एजेंसी

विश्वस्तरीय नेटवर्क खड़ा करने के लिए वोडाफोन-आइडिया का इस ओर ध्यान

स्मार्टफोन की तीसरी तिमाही में बिक्री पांच प्रतिशत बढ़कर 4.4 करोड़ इकाई पहुंची



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2019 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.