कितना जानते है आप स्मार्टफोन में डाली जानें वाली सिम के बारे में?

Samachar Jagat | Monday, 21 Nov 2016 10:51:42 AM
कितना जानते है आप स्मार्टफोन में डाली जानें वाली सिम के बारे में?

नई दिल्ली। अक्सर आपनें स्मार्टफोन के बारे में चर्चा की होगी या किसी चर्चा का हिस्सा भी बनें होगें। लेकिन आज हम आपसे स्मार्टफोन में डाली जानें वाली सिम के बारे में बात करनें जा रहे है। जी हां स्मार्टफोन में डाली जानें वाली ये सिम केवल आपका नंबर नहीं है। बल्कि आपकी जानकारी को सेव करनें वाला पिटारा है। सिम (SIM) का पूरा नाम Subscriber Identity Module और Subscriber Identification Module है।

दिखनें में भले ही ये छोटी है लेकिन इसके बारे में जानकारी होना बेहद जरुरी है। यूजर केवल ये ही जानते है कि स्मार्टफोन में नेटवर्क के लिए इसका इस्तेमाल किया जाता है। लेकिन इसके अतिरिक्त भी इसका यूज है जिसके बारे में शायद ही आप जानते होगे।

एप्पल 2017 में पेश कर सकता है आईपैड प्रो

सिम के बारे में बतानें से पहले हम आपको बताना चाहते है कि इसका अविष्कार 1991 में मुनिंच के स्मार्ट कार्ड मेकर Giesecke & Devrient ने किया था।

सिम का सबसे अहम भाग माइक्रोकंट्रोलर होता है। पेपर साइज की इस चिप को ROM कहा जाता है। इसकी साइज 64KB से 512KB होती है। ROM में कार्ड का ऑपरेटिंग सिस्टम रहता है। सिम में ही EEPROM भी होता है जिसकी साइज 16KB से 512KB होती है। इसमें पर्सनल डाटा, सिक्यूरिटी कीज, फोन बुक सेव रहती है। इसी के साथ ही  इसमें SMS सैटिंग्स भी रहती है। शायद ही आपको इस बात की जानकारी ना हो लेकिन आपको ये जानना बेहद जरुरी है कि सिम में ही फोन नंबर, डाटा प्लान, बिलिंग इंफॉर्मेशन, पर्सनल अनब्लॉकिंग पिन, कॉन्टेक्ट्स और मैसेज सेव होते हैं। सिम में 250 कॉन्टेक्ट्स सेव हो सकते हैं।

साथ ही साथ सिम में  सिम जारी कर्ता की पहचान नंबर, उद्धोग पहचानकर्ता, देश कोड, जारीकर्ता पहचानकर्ता व्यक्तिगत खाता पहचान संख्या की जानकारी होती है।

लैपटॉप चार्जर से जुड़ी ये बात जिसके बारे में नहीं जानते होगें आप

आपको बता दें कि सिम का एक यूनिक सीरियल नंबर होता है। जिसमें लोकल नेटवर्क से रिलेटेड इंफोर्मेशन सेव की जाती है।

कैसे करती है काम-

हर सिम का एक यूनिक ऑथेटिकेशन की होती है। जो ऑपरेटर द्वारा पर्सनालाइजेशन के समय दिया जाता है। साथ ही सिम में एक यूनिक ID होता है जिसे IMSI (International Mobile Subscriber Identity) कहते हैं जो कॉल को कनेक्ट करता है। सिम तीन पार्ट में होते हैं जिसमें कार्ड, इंटीग्रेटेड सर्किट और इंटीग्रेटेड सर्किट कार्ड आईडेंटीफायर होता है।

सावधान! सेंकड हैंड स्मार्टफोन लेनें जा रहे है तो रुकिए...  

बडें काम के है गूगल के ये ऐप्स

O M G ! तो ब्रेकअप के बाद लडकियां करती है ये 10 काम.....

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर
ज्योतिष

Copyright @ 2016 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.