किन कारणो के चलते जापान में मोबाइल कंपनियों को उतारनें पड़ते है वॉटर प्रूफ स्मार्टफोन

Samachar Jagat | Tuesday, 22 Nov 2016 02:20:20 PM
किन कारणो के चलते जापान में मोबाइल कंपनियों को उतारनें पड़ते है वॉटर प्रूफ स्मार्टफोन

स्मार्टफोन की बात करें तो जापान इस मामलें में सबसे आगे रहा है। बात करें स्मार्टफोन के समय के साथ परिवर्तन की, उसके फीचर्स की तो जापान में सबसे इनका स्वागत होता है। वॉटर प्रूफ मोबाइल्स की भी बात करें तो जापान नें करीब 1 दशक पहले ही वॉटरप्रूफ स्मार्टफोन का यूज करना शुरु कर दिया था।

20 मेगापिक्सल रियर कैमरे के साथ जल्द पेश हो सकता है एचटीसी डिजायर 10 प्रो स्मार्टफोन

वॉटरप्रूफ स्मार्टफोन जहां इन दिनो भारतीय बाजार के साथ ही यूरोपियन और अन्य एशियाई देशों में उभर कर आ रहा है वहीं जापान में वॉटरप्रूफ मोबाइल का चलन आम बात हो गई है। इसका श्रेय यहां की लाइफस्टाइल को दिया जा सकता है। जानकारी के मुताबिक जापान में वॉटरप्रूफ फोन की आवश्यकता होना बैटरी निकालने की सुविधा से ज्यादा बड़ी जरूरत मानी जाती है।  

जी हां जापानी महिलाएं शॉवर के समय अपने साथ अपना स्मार्टफोन ले जाने की काफी शौकीन मानी जाती हैं। जिस कारण जापान में लगभग सारे स्मार्टफोन वॉटरप्रूफ बनाए जाते हैं। वॉटरप्रूफ स्मार्टफोन बनानेंकी दौड़ में कई कंपनियां आगे आ रही है। जिनमें कोरिएन कंपनी एलजी भी है जिसने कभी वॉटरप्रूफ फोन नहीं। इस सिलसिले के चलते कंपनी अपना फेमस स्मार्टफोन जी5 को जापान में नहीं उतार पाई कारण था उसका वॉटर प्रूफ ना होना।

किन फिचर्स की कमी है व्हाट्सएप में जानिए

गौरतलब है कि जापान में पहला वॉटरप्रूफ फीचर फोन साल 2005 में लॉन्च हुआ था किसिओ 502एस, जो जी’जड वन के नाम से भी जाना जाता है। इसके बाद एनड्रॉएड बेस फोन साल 2010 में मोटोरोला ने लॉन्च किया। इसके अलावा सैंमसंग ने भी गैलेक्सी एस5 2014 में लॉन्च किया। ये फोन भी वॉटरप्रूफ बनाया गया था। इसके अलावा सैमसंग नोट 7 और आईफोन 7 के वॉटरप्रूफ फोन जापान में उतारने की योजना है।

जानिए मोटोरोला नें किस स्मार्टफोन की कीमत में की है भारी कटौती

कुछ ऐसी आदतें जो आपको बनाएगी हेल्दी जानिए

आखिर लोग क्यों करते है एक्स्ट्रा मैरिटल अफेयर 

 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर
ज्योतिष

Copyright @ 2016 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.